1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. jharkhand mini lockdown impact corona infection cases in state less than 3rd health safety week 4th week decrease in death smj

Jharkhand Mini Lockdown Impact : झारखंड में तीसरे स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह से कम होने लगे कोरोना संक्रमण के मामले, चौथे से मौत में आयी कमी

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
झारखंड में स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह का दिख रहा असर. कोरोना संक्रमितों की संख्या में आने लगी कमी.
झारखंड में स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह का दिख रहा असर. कोरोना संक्रमितों की संख्या में आने लगी कमी.
प्रतीकात्मक तस्वीर.

Jharkhand Mini Lockdown Impact (सुनील चौधरी, रांची) : कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामले को देख कर हेमंत सरकार ने 22 अप्रैल, 2021 से स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह यानी मिनी लॉकडाउन लगाने की घोषणा की थी. तब कोरोना के केस एवं इससे मरनेवालों की संख्या लगातार बढ़ रही थी. लेकिन, धीरे- धीरे राज्य में स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह का असर दिखने लगा. तीसरे स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह से कोरोना संक्रमितों की संख्या में कम आने लगी, वहीं चौथे स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह से संक्रमण से मौत की संख्या में भी कमी आयी है. वर्तमान में पांचवीं स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह राज्य में लागू है.

पहला स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह

झारखंड की हेमंत सरकार ने राज्य में पहला स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह 22 से 29 अप्रैल, 2021 तक लगाया गया था. इस दौरान 13.82 फीसदी की दर से कोरोना संक्रमित मिल रहे थे. इस एक सप्ताह में कुल 49,988 संक्रमित मिले और 940 मरीजों की मौत हो गयी.

दूसरा स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह

वहीं, दूसरा स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह 30 अप्रैल से 5 मई, 2021 तक लागू किया गया था. इस दौरान कोरोना संक्रमण पीक पर था. इस सप्ताह संक्रमण दर सबसे अधिक 16.45 फीसदी थी. यानी प्रति 100 सैंपल की जांच में औसतन 16 से अधिक मरीज मिले. इस दौरान कुल 2,16,774 सैंपल की जांच हुई और 35,655 संक्रमित मिले, जबकि 796 लोगों की मौत हुई.

तीसरे स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह में संक्रमण दर आयी हुई

राज्य की हेमंत सरकार ने तीसरा स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह 6 मई से 13 मई, 2021 तक लागू किया. यह कोरोना संक्रमण के पीक के बाद का सप्ताह रहा. यानी कोरोना संक्रमण के केस में थोड़ी राहत मिलने लगी. संक्रमण दर करीब आधी हो गयी. इस सप्ताह 8.87 फीसदी की दर से संक्रमित मिले. इस सप्ताह मरीज भी अधिक स्वस्थ हुए. इस सप्ताह टेस्ट भी अधिक हुए. करीब 4,85,989 टेस्ट हुए और 43,133 कोरोना संक्रमित मिले. इस दौरान 944 लोगों की मौत भी हुई. करीब 53,253 मरीज स्वस्थ भी हुए.

चौथे और पांचवें स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह में मौत की रफ्तार पर ब्रेक

राज्य में चौथे और पांचवें स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह राहत भरा रहा. राज्य में चौथा स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह 14 मई से 27 मई तक रहा. इस दौरान 16 मई से सख्ती की गयी. 14 से 27 मई के बीच कोरोना संक्रमण की दर में काफी कमी आयी. संक्रमण दर घट कर 4.10 फीसदी पर आ गया. इस दौरान सबसे अधिक 6,94,141 टेस्ट हुए. जिसमें 28,482 नये संक्रमित मिले. मौत की संख्या भी घटी.

इन 13 दिनों में 636 संक्रमितों की मौत हुई जो अन्य स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह के दौरान हुई मौत से कम है. इस दौरान सबसे अधिक 63,217 मरीज स्वस्थ हुए. वहीं, राज्य का रिकवरी रेट बढ़ कर 95 फीसदी पर आ गया. वहीं, पांचवां स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह 28 मई से 3 जून, 2021 तक लगाया गया है. 28 मई को सिर्फ 1.21 फीसदी संक्रमित मिले. यानी मिनी लॉकडाउन से कोरोना संक्रमण में कमी आयी है.

संक्रमण दर एक फीसदी से नीचे आने की है संभावना : सिद्धार्थ त्रिपाठी

IEC, स्वास्थ्य विभाग के नोडल पदाधिकारी सिद्धार्थ त्रिपाठी ने कहा कि धीरे- धीरे काेरोना संक्रमण की रफ्तार कम हो रही है. अब तो 1.21 फीसदी कोरोना संक्रमित मिल रहे हैं. यह एक अच्छा संकेत है. रिकवरी रेट भी 95 फीसदी से अधिक हो गया है. बहुत जल्द ही एक फीसदी से नीचे संक्रमित मिलने लगेंगे. सबसे अच्छी बात है कि ग्रामीण इलाकों में सर्वे चल रहा है. आशंका थी कि वहां ज्यादा केस मिलेंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ है. जल्द ही संक्रमण दर एक फीसदी से नीचे आने की संभावना है.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें