1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. jharkhand is ready for investment cm hemant said with your coming people get a chance to move forward industry policy launched on saturday smj

निवेश के लिए तैयार है झारखंड, हेमंत बोले-आपके आने से लोगों को आगे बढ़ने का मिलेगा मौका, उद्योग नीति होगा लॉन्च

इमर्जिंग झारखंड के तहत निवेशक सम्मेलन के पहले दिन CM हेमंत सोरेन ने नई दिल्ली में कई उद्योगपतियों से मिले. उन्हें निवेश करने के लिए झारखंड आने का आमंत्रण दिया. कहा कि आपके आने से यहां के लोगों को आगे बढ़ने का मौका मिलेगा और आपको भी माकूल जगह मिलेगी.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
निवेशक सम्मेलन के पहले दिन नई दिल्ली में उद्योगपतियों से मिलते झारखंड CM हेमंत सोरेन व अन्य.
निवेशक सम्मेलन के पहले दिन नई दिल्ली में उद्योगपतियों से मिलते झारखंड CM हेमंत सोरेन व अन्य.
प्रभात खबर.

Jharkhand News (रांची) : शुक्रवार को नई दिल्ली में इमर्जिंग झारखंड के तहत निवेशकों को आकर्षित करने के उद्देश्य से झारखंड के CM हेमंत सोरेन उद्योगपतियों से मिले. इस दौरान उन्होंने कहा कि झारखंड निवेशकों के लिए तैयार है. आपके आने से यहां के लोगों को आगे बढ़ने का मौका भी मिलेगा. निवेशक सम्मेलन के पहले दिन निवेशकों को झारखंड आने के लिए आमंत्रित किया गया.

नई दिल्ली के होटल ताज में आयोजित कार्यक्रम में CM श्री साेरेन ने देश की प्रमुख वाहन निर्माता कंपनी टाटा मोटर्स, होंडा, मारुति सुजूकी , हुंडई मोटर्स समेत अन्य कंपनियों के साथ राउंड टेबल मीटिंग की. बैठक में राज्य सरकार द्वारा बनायी गयी इ-व्हीकल नीति के प्रारूप को भी उद्यमियों के समक्ष रखा गया.

नीति से रोजगार सृजन में मदद मिलेगी

उद्यमियों से बातचीत करते हुए CM श्री सोरेन ने कहा कि झारखंड प्रतिभाशाली मानव संसाधन से संपन्न राज्य है. यहां की आबादी का बड़ा हिस्सा अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति समुदायों का है. अगर उद्यमी इन समुदायों के लिए रोजगार में प्रावधान करते हैं, तो सरकार नीति में अन्य प्रोत्साहनों का भी समावेश करेगी. कहा कि झारखंड के लोग बहुत मेहनती हैं. ऐसे में उन्हें भी आगे बढ़ने का अवसर मिलेगा. साथ ही, हमारा राज्य नयी ऊंचाइयों को छू सकेगा.

बदलाव दिखना जरूरी

CM श्री सोरेन ने कहा कि प्रस्तावित इलेक्ट्रिक वाहन नीति आपके सामने प्रस्तुत की गयी है. यदि हम भविष्य की ओर देखते हैं, तो काफी हद तक इलेक्ट्रिक वाहन भविष्य के वाहन हैं. इस सेक्टर में संभावनाओं से इनकार नहीं किया जा सकता. आजादी के बाद से झारखंड में ही सबसे बड़े संयंत्र और इकाइयां स्थापित की गयी हैं. बहुत सारे अवसर झारखंड के समक्ष आये, लेकिन उनका सही ढंग से उपयोग नहीं हो सका. हम इस परिदृश्य को बदलना चाहते हैं.

इ-व्हीकल नीति से अवगत हुए निवेशक

उद्योग सचिव पूजा सिंघल ने निवेशकों को इलेक्ट्रिक वाहन क्षेत्र के दायरे, इस क्षेत्र के लिए राज्य के दृष्टिकोण और इलेक्ट्रिक वाहन कलस्टर स्थापित करने की सरकार की प्रस्तावित योजना के बारे में जानकारी दी. उन्होंने निवेशकों को प्रस्तावित इलेक्ट्रिक वाहन नीति के तहत प्रोत्साहन और प्रावधानों के बारे में बताया. उन्होंने कहा सरकार कंपनियों को स्टांप शुल्क और पंजीकरण शुल्क में 100 फीसदी छूट देने जा रही है. साथ ही, जो कंपनियां इलेक्ट्रिक वाहन क्षेत्र में ईवी नीति के लांच होने के बाद से पहले दो वर्षों के भीतर निवेश करती हैं, उन्हें जियाडा द्वारा 50 फीसदी अनुदान पर भूमि उपलब्ध कराया जायेगा.

MSME को लेकर 7 साल के लिए GST पर 100 फीसदी प्रोत्साहन, जबकि बड़े और वृहत उद्योगों के लिए क्रमशः 9 और 13 वर्ष के लिए छूट का प्रावधान है. इसके अलावा वाहन पंजीकरण शुल्क से 100 फीसदी और रोड टैक्स में 100 फीसदी छूट का प्रस्ताव है.

राउंड टेबल मीटिंग में शामिल हुए निवेशक

बिज़नेस टू गवर्नमेंट मीटिंग (बीटूजी) में CM श्री सोरेन ने टाटा समूह, हुंडई मोटर्स, होंडा, मारुति सुजुकी, डालमिया सीमेंट, NTPC, SAIL, GAIL और वेदांता के शीर्ष नेतृत्व के साथ भाग लिया. इस दौरान स्टील, ऑटोमोबाइल, ई- व्हीकल, सीमेंट, पावर, ऑयल एंड गैस के क्षेत्र में निवेश को लेकर चर्चा की गयी. B2G बैठक के दौरान डालमिया सीमेंट समूह ने राज्य में 500 करोड़ रुपये निवेश करने की सहमति जतायी है.

शनिवार को झारखंड उद्योग नीति लांच करेंगे CM

CM हेमंत सोरेन आयोजित निवेशक सम्मेलन के दूसरे दिन शनिवार को झारखंड उद्योग एवं प्रोत्साहन नीति, 2021 को लांच करेंगे. इस कार्यक्रम में झारखंड में निवेश की संभावना पर एक प्रेजेंटेशन भी दिया जायेगा. उद्योग सचिव द्वारा बताया जायेगा कि झारखंड में किस प्रकार के उद्योगों की संभावना है और सरकार क्या सहयोग करेगी.

इन कंपनियों के प्रतिनिधि लेंगे हिस्सा

कार्यक्रम में टाटा ग्रुप, होंडा, मारुति सुजुकी, हुंडई मोटर्स, डालमिया भारत सीमेंट, एनटीपीसी, सेल, वेदांता, कायनेटिक ग्रीन, महिंद्रा इलेक्ट्रिक, पियागो व्हीकल, वाइब्रेंट, डीएसके फूड्स प्राइवेट लिमिटेड, एसपीवी ग्लोबल, श्री सहजानंद अॉटोमेक प्राइवेट लिमेटेड, होपला, काइसेरा, शिव शक्ति कॉरपोरेशन, केजी स्प्रिट्स, आशीर्वाद फूड, सुगना फूड, इयान मैकलोड, लॉर्ड्स क्लोरो अलकाली लिमिटेड, एसएमइवी, सियम, सैमसंग, प्रेम ग्रुप, रिलायंस, जियो, कंटीनेंटल डिवाइस, न्यू विजन डिस्प्ले, समवृद्धि ऑर्गेनिक, बनफुल ऑयल, रॉक एंड स्ट्रोम, बाकार्डी, मेघालय केमिकल, डेल मोंटे फूड्स, बीएसइ इंडिया, जेएसडब्ल्यू एनर्जी, कार्ल्सबर्ग, ओप्पो, वन प्लस, लावा इंटरनेशनल, कार्बन, हिताची इंडिया व अन्य कंपनियों के प्रतिनिधि हिस्सा लेंगे.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें