1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. jharkhand high court asks in gumla massacre case of what steps have been taken so far to stop witch hunting order to give detailed information by filing affidavit to secretary of social welfare department grj

झारखंड के गुमला में हुए नरसंहार मामले में हाईकोर्ट ने पूछा-डायन बिसाही को रोकने के लिए अब तक क्या-क्या उठाये गये हैं कदम

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
हाईकोर्ट ने सचिव को शपथ पत्र दाखिल कर विस्तृत जानकारी देने को कहा
हाईकोर्ट ने सचिव को शपथ पत्र दाखिल कर विस्तृत जानकारी देने को कहा
फाइल फोटो

Jharkhand High Court News, Ranchi News, रांची न्यूज (राणा प्रताप) : झारखंड के गुमला जिले में डायन बिसाही को लेकर हुए नरसंहार मामले में आज झारखंड हाईकोर्ट में सुनवाई हुई. अदालत ने समाज कल्याण विभाग के सचिव को शपथ पत्र दाखिल कर विस्तृत जानकारी देने को कहा. अदालत ने ये बताने को कहा है कि कानून लागू होने के बाद झारखंड में डायन बिसाही जैसी घटनाओं को रोकने के लिए क्या-क्या कदम उठाए गए हैं. अगली सुनवाई के दौरान सचिव को वर्चुअली उपस्थित रहने का भी निर्देश दिया गया. इस मामले की अगली सुनवाई 8 अप्रैल को होगी.

झारखंड हाईकोर्ट ने गुमला नरसंहार मामले में सुनवाई करते हुए कहा कि समाज कल्याण विभाग के सचिव शपथ पत्र दाखिल कर विस्तृत जानकारी दें कि कानून लागू होने के बाद झारखंड में डायन बिसाही जैसी घटनाओं को रोकने के लिए क्या-क्या कदम उठाए गए हैं. अदालत ने 8 अप्रैल को होने वाली अगली सुनवाई के दौरान सचिव को वर्चुअली उपस्थित रहने का भी निर्देश दिया.

झारखंड के गुमला जिले के कामडारा थाना के आमटोली पहाड़गांव में पिछले दिनों एक ही परिवार के पांच सदस्यों की हत्या जादू टोना को लेकर की गयी थी. गांव में हाल के दिनों में कुछ लोग बीमार हुए थे और कुछ लोगों की मौत हो गयी थी. इससे गांव के लोग अंधविश्वास में आ गये और बैठक कर नरसंहार की घटना को अंजाम दिया था. पुलिस के अनुसंधान में डायन बिसाही में हत्या की पुष्टि हुई थी. इस नरसंहार मामले में कामडारा थाना की पुलिस ने आठ लोगों को गिरफ्तार किया था.

डायन बिसाही में गिरफ्तार आरोपियों में गांव के ही सुनील टोपनो, सोमा टोपन, सलीम टोपनो फिरंगी टोपनो, फिलिप टोपनो, अमृत टोपनो, सावन टोपनो व दानियल टोपनो हैं. सभी आरोपी आपस में रिश्तेदार हैं, जबकि मृतक निकोदिन का भतीजा अमृत भी इस नरसंहार में शामिल था. इन लोगों की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त टांगी व अन्य लोहे की सामग्री बरामद हुई थी.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें