1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. in jharkhand too now people of all ages including 18 plus will not have any problem in getting the corona vaccine know when will the facility be available smj

झारखंड में भी अब 18 प्लस समेत सभी उम्र के लोगों को टीका लेने में नहीं होगी दिक्कत, जानिए कब से मिलेगी सुविधा

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
कोरोना का टीका लगवाते चतरा जिला अतर्गत हंटरगंज प्रखंड के पांडेयपुरा खुर्द के ग्रामीण.
कोरोना का टीका लगवाते चतरा जिला अतर्गत हंटरगंज प्रखंड के पांडेयपुरा खुर्द के ग्रामीण.
ट्विटर.

Corona Vaccination Update News (रांची) : कोरोना वायरस संक्रमण के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्य सरकार समेत देशवासियों को बड़ी राहत दी है. इसका असर झारखंड में भी दिखेगा. अब 18 प्लस समेत सभी उम्र के लोगों को फ्री में वैक्सीन दी जायेगी. राज्यों से वैक्सीनेशन का कार्य लेते हुए अब इसकी बागडोर केंद्र सरकार के हाथों में होगी. इससे राज्य सरकार को अतिरिक्त खर्च से राहत मिलने की उम्मीद है. इस घोषणा के बाद से अब झारखंड सरकार को भी वैक्सीन पर हो रहे खर्च पर राहत मिलने की संभावना है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने योग दिवस यानी 21 जून, 2021 से वैक्सीनेशन का कार्य अपने हाथों में लेते हुए 18 साल समेत सभी उम्र के लोगों को नि:शुल्क वैक्सीन देने की घोषणा की है. साथ ही प्राइवेट हॉस्पिटल में कम दर पर वैक्सीन देने की व्यवस्था की गयी है. प्राइवेट हॉस्पिटल सरचार्ज के तौर पर 150 रुपये से अधिक वैक्सीन के लिए नहीं ले पायेंगे. हालांकि, इसकी निगरानी राज्य सरकार को करनी होगी.

फ्री वैक्सीनेशन के लिए सीएम हेमंत ने पीएम मोदी को लिखे थे पत्र

इधर, पिछले दिनों झारखंड सीएम हेमंत सोरेन ने पीएम नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर फ्री कोरोना वैक्सीन उपलब्ध कराने का आग्रह किया था. पत्र में बताया गया था कि झारखंड में 18 से 44 आयु वर्ग के लोगों की जनसंख्या करीब एक करोड़ 57 लाख से अधिक है. इनके लिए वैक्सीन खरीदने के लिए राज्य सरकार को कम से कम 1100 करोड़ रुपये की जरूरत होगी. ऐसी स्थिति में केंद्र सरकार को फ्री में वैक्सीन उपलब्ध कराने पर विशेष जोर देना चाहिए.

बता दें कि 18 से 44 आयु वर्ग के लोगों को वैक्सीन देने के लिए झारखंड की हेमंत सरकार ने 250 करोड़ रुपये का बजट पास किया है. इस दौरान कोवैक्सिन और कोविशिल्ड बनाने वाली कंपनी को राज्य सरकार ने 47 करोड़ रुपये का भुगतान कर चुकी है. राज्य सरकार ने पहले चरण में 50 लाख डोज वैक्सीन का आर्डर भारत बायोटेक व सीरम इंस्टीच्यूट को दी है. कोरोना वैक्सीन के लिए राज्य आकस्मिकता निधि से 250 करोड़ रुपये की अग्रिम राशि प्राप्त की थी. इसके लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से संकल्प भी जारी किया गया.

इस 250 करोड़ की राशि में से कोविशिल्ड वैक्सीन 400 रुपये प्रति डोज की दर से 25 लाख डोज और 600 रुपये प्रति डोज की दर से कोवैक्सीन की 25 लाख खरीदी जानी है. इस तरह से कुल 50 लाख डोज की खरीदारी के लिए 250 करोड़ रुपये खर्च करने का अनुमान लगाया था. वहीं, सोमवार को केंद्र सरकार की ओर से फ्री कोरोना वैक्सीन दिये जाने की घोषणा से राज्य सरकार को राहत मिलने की उम्मीद है.

इधर, पीएम मोदी के देशभर में फ्री वैक्सीनेशन की घोषणा के साथ ही वैक्सीन निर्माताओं से कुल वैक्सीन उत्पादन का 75 फीसदी हिस्सा केंद्र सरकार वहन कर राज्य सरकार को नि:शुल्क में देगी. वहीं, राज्यों के पास वैक्सीनेशन से जुड़ा जो 25 फीसदी काम है उसकी जिम्मेदारी भी केंद्र सरकार उठायेगी.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें