1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi
  5. 26 companies of police force from jharkhand went to conduct bihar assembly elections 2020 borders of 10 districts of jharkhand sealed mtj

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 कराने झारखंड से गयी 26 कंपनी फोर्स, 10 जिलों की सीमाएं सील

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
बिहार विधानसभा चुनाव 2020 कराने झारखंड से गयीं 26 कंपनियां, 10 जिलों की सीमाएं हो गयीं सील.
बिहार विधानसभा चुनाव 2020 कराने झारखंड से गयीं 26 कंपनियां, 10 जिलों की सीमाएं हो गयीं सील.
File Photo

Bihar Election 2020 Latest Updates: रांची (अमन तिवारी) : बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के दौरान झारखंड के 10 जिलों की सीमाएं पूरी तरह से सील कर दी गयी हैं. पड़ोसी राज्य में तीन चरणों में होने वाले विधानसभा चुनावों को संपन्न कराने के लिए झारखंड से 26 कंपनी भेजी गयी है. इसमें इंडियन रिजर्व बटालियन (IRB), झारखंड आर्म्ड पुलिस (JAP) और झारखंड पुलिस के जिला बल के जवान शामिल हैं. झारखंड के अति संवेदनशील क्षेत्रों को छोड़कर सभी जगह के पिकेट से पुलिस बल को बिहार भेजा गया है.

चुनाव की प्रक्रिया खत्म होने तक यानी 12 नवंबर, 2020 तक झारखंड के 10 जिलों (साहिबगंज, गोड्डा, देवघर, दुमका, कोडरमा, गिरिडीह, पलामू, गढ़वा, चतरा और हजारीबाग) के नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में मोबाइल चेक पोस्ट, लांग रेंज पैट्रोलिंग और शॉर्ट रेंज पैट्रोलिंग के जरिये अपराध और नक्सलवाद पर काबू किया जायेगा.

सीमाओं को सील किया गया है, ताकि चुनाव के दौरान शराब, हथियार, गोला-बारूद, विस्फोटक और अवैध रूप से नकदी लेकर लोग सीमा पार न कर सकें. बिहार और झारखंड दोनों राज्यों की पुलिस ने मिलकर तय किया है कि जिन सीमाओं पर 24 घंटे निगरानी नहीं की जा सकती, वहां मोबाइल पार्टी को चेकिंग का काम सौंपा गया है. इतना ही नहीं, बाइक और पैदल जांच की जिम्मेवारी भी जवानों को सौंपी गयी है.

नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में एलआरपी, एसआरपी के जरिये निगरानी की जायेगी. इतना ही नहीं, संवेदनशील क्षेत्रों में ड्रोन के जरिये भी सीमा क्षेत्रों पर पूरी नजर रखी जायेगी. साथ ही चौकीदार और एसपीओ की नियुक्ति भी की जायेगी, ताकि किसी भी प्रकार की अवैध गतिविधि को तुरंत रोका जा सके. सीमा पर शराब, नकदी और वोटर को लुभाने वाले अन्य चीजों की तस्करी को रोकने के लिए पुलिस ने कई कदम उठाये हैं.

इसके तहत 25 सितंबर से 25 अक्टूबर, 2020 के बीच 13 लोगों को हथियार, गोला-बारूद और विस्फोटक के साथ गिरफ्तार किया गया. सबसे ज्यादा 7 लोग गिरिडीह से गिरफ्तार किये गये. 4 लोग पलामू से और देवघर से 2 लोगों को गिरफ्तार किया गया. जांच के दौरान पलामू जिला से 100 पीस इलेक्ट्रॉनिक डेटोनेटर और 200 पीस जिलेटिन की छड़ें जब्त की गयीं.

बिहार चुनाव में गड़बड़ी फैलाने की कोशिश करने वाले 3 लोगों के खिलाफ पलामू जिला में मुकदमा दर्ज किया गया. इस जिले से पुलिस ने 2 देसी हथियार भी जब्त किये. चतरा जिला में 1 देसी हथियार बरामद हुआ, तो 89 गोला-बारूद मिले. इस जिला में पुलिस ने एक केस दर्ज किया. गिरिडीह जिला में 1 हथियार बरामद हुआ, तो 2 देसी हथियार और 10 गोला-बारूद मिले. यहां 3 केस दर्ज हुए और 7 लोगों को गिरफ्तार किया गया.

देवघर जिला में 2 देसी हथियार और दो कारतूस बरामद हुए. पुलिस ने इस जिले में 2 मुकदमे दर्ज किये और 2 लोगों को गिरफ्तार किया. गोड्डा में पुलिस को दो कारतूस मिले और यहां एक केस दर्ज किया गया. कुल मिलाकर राज्य में 1 हथियार, 7 देसी बंदूक, 103 कारतूस, 100 पीस इलेक्ट्रॉनिक डेटोनेटर, 200 पीस जिलेटिन बरामद हुए. पुलिस ने 10 केस दर्ज किये और 13 लोगों को गिरफ्तार किया.

उल्लेखनीय है कि बिहार में तीन चरणों में 28 अक्टूबर, 2020 से मतदान शुरू हो रहा है. पहले चरण में 71 सीटों पर मतदान होना है, जबकि दूसरे चरण में 94 सीटों और तीसरे एवं आखिरी चरण में 78 विधानसभा सीटों के लिए वोटर अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे. पहले चरण की वोटिंग 28 अक्टूबर को, जबकि दूसरे और तीसरे चरण की वोटिंग क्रमश: 3 एवं 7 नवंबर, 2020 को होगी. 10 नवंबर को राज्य की सभी 243 विधानसभा सीटों पर मतगणना होगी.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें