पिछड़े क्षेत्र में काम करने के लिए एसआरटी को ट्रेनिंग

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
फोटो कौशिकमनरेगा पर ट्रेनिंग का दूसरा दिनरांची : राज्य के पिछड़े प्रखंडों में मनरेगा के क्रियान्वयन के लिए स्टेट रिसोर्स टीम को प्रशिक्षण दिया गया. सर्ड परिसर में ट्रेनिंग कार्यक्रम का आयोजन किया गया है, जो 22 अगस्त तक जारी रहेगा. नेशनल ट्रेनर इन्हें प्रशिक्षण दे रहे हैं. स्टेट रिसोर्स टीम को यह बताया जा रहा है कि वे किस तरह मनरेगा की योजनाओं का चयन करेंगे. रोजगार का सृजन कैसे होगा. स्टेट रिसोर्स की टीम प्रशिक्षण प्राप्त करके डिस्ट्रक्टि रिसोर्स टीम को प्रशिक्षित करेगी. फिर डिस्ट्रक्टि रिसोर्स टीम ब्लॉक प्लानिंग टीम को ट्रेनिंग देगी. ब्लॉक प्लानिंग टीम में ग्रामीणों को भी शामिल किया जायेगा. इनकी मदद से सोशल मैप, रिसोर्स मैप व जमीन के ट्रीटमेंट आदि के कार्य किये जायेंगे. वहीं मनरेगा के तहत योजनाओं का चयन भी इसी टीम के माध्यम से होगा. इन्हीं विषयों पर नेशनल ट्रेनर गुरजीत सिंह, मानस, सिराज आदि ने प्रशिक्षण दिया. प्रशिक्षकों ने बताया कि हर प्रखंड में एक चार्ज अफसर होंगे. यह जिम्मेवारी प्रखंड विकास पदाधिकारी को दी जायेगी. वहीं दो-तीन प्रखंडों को मिला कर एक ज्वायंट चार्ज अफसर होंगे. इसकी जिम्मेवारी जिलों में कार्यरत पीएमआरडीएफ को दी जायेगी. इसके माध्यम से योजनाओं का चयन किया जायेगा. साथ ही प्लान तैयार किये जायेंगे. इन सारे मुद्दों पर विस्तार से एसआरटी को ट्रेनिंग दी गयी. ट्रेनिंग कार्यक्रम के बाद ये लोग चान्हो के सोंस व रघुनाथपुर गांव में गये. वहां मनरेगा की स्थिति देखी.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें