झारखंड : अमित खरे केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण सचिव बने

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
रांची : केंद्र ने राज्य के विकास आयुक्त अमित खरे को केंद्रीय प्रसारण सचिव के पद पर पदस्थापित किया है. इससे संबंधित अधिसूचना जारी कर दी है. अमित खरे एक जून को नये पद पर योगदान करेंगे. वह 1985 बैच के अधिकारी हैं.
इससे पहले अपनी केंद्रीय प्रतिनियुक्त के दौरान उच्च शिक्षा विभाग में काम कर चुके हैं. भारत सरकार ने मई 2017 में उन्हें केंद्र में सचिव के रूप में सूचिबद्ध किया था.
चाईबासा में उपायुक्त के रूप में पदस्थापन के दौरान चारा घोटाले का पर्दाफाश करने और प्राथमिकी दर्ज करने की वजह से अमित खरे राष्ट्रीय स्तर पर चर्चा में आये.
पटना में जिलाधिकारी के रूप में अपने पदस्थापन के दौरान उन्होंने लालू प्रसाद को कैंप जेल में रखने से इनकार किया और उन्हें बेऊर जेल भेज दिया था. इसकी वजह से उन्हें कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ा. चाईबासा में अपने पदस्थापन के दौरान उन्होंने डायन प्रथा के खिलाफ अभियान चलाया.
प्रसिद्ध लेखिका महाश्वेता देवी ने डायन प्रथा के खिलाफ उनके द्वारा किये गये काम की सराहना की थी. उनकी कोशिशों की वजह से सरकार ने डायन प्रथा को रोकने के लिए कानून बनाया.
अमित खरे ने झारखंड में शिक्षा सचिव, वित्त सचिव, विकास आयुक्त और सदस्य राजस्व पर्षद सहित अन्य महत्वपूर्ण पदों पर काम किया. वित्त सचिव के रूप में काम करते हुए उन्होंने बजट प्रणाली में बदलाव किया. केंद्र से मिलनेवाली सहायता को हिसाब किताब बजट में शामिल किया. साथ ही प्रशासनिक सुधार की दिशा में काम करते हुए विभागों की संख्या कम करने का सुझाव दिया. राज्य सरकार ने उनके सुझावों पर अमल किया.
Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें