1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ranchi became crime capital criminals ran away by snatching chain police kept watching prt

Jharkhand News: चेन छीन कर भागे अपराधी, देखते रह गये PCR के जवान, कैसे सुरक्षित रहेंगे शहरवासी

चेन छिनतई की घटना के बाद जब पति-पत्नी ने शोर मचाया, तो स्थानीय लोग जुट गये. उनका कहना था कि बाजार में अक्सर छोटी-मोटी वारदात होती रहती है. लेकिन, पीसीआर वैन में तैनात पुलिसकर्मी सिर्फ खानापूर्ति के लिए तैनात रहते हैं

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
Jharkhand News: झारखंड पुलिस
Jharkhand News: झारखंड पुलिस
ट्विटर

रांची में अपराधी बेलगाम हो गये हैं. बीच बाजार में वारदात को अंजाम देकर वे निकल जा रहे हैं और पुलिस देखती रह जाती है. इतना ही नहीं, जब भुक्तभोगी पुलिसकर्मियों से पूछता है कि आपने क्या कार्रवाई की, तो जवाब मिलता है हमने तो कुछ देखा ही नहीं. उस पर भी थाना प्रभारी का यह कहना कि अभी रात हो गयी है, कल दिन में सीसीटीवी फुटेज देखेंगे. यह कोई फिल्मी कहानी नहीं है, बल्कि बुधवार की देर शाम राजधानी के धुर्वा इलाके में चेन छिनतई की हुई एक घटना में पुलिसकर्मियों के कार्य करने की शैली की लापरवाही को दर्शाती है.

धुर्वा बस स्टैंड स्थित हनुमान मंदिर के पास सब्जी बाजार लगता है. यहां बुधवार की देर शाम लगभग 8:30 बजे सेवानिवृत्त फौजी देव कुमार तिवारी अपनी पत्नी बबीता तिवारी के साथ पहुंचे थे. वे बाजार में सब्जी खरीद रहे थे. इसी दौरान बाइक से आये दो अपराधी उनकी पत्नी के गले से चेन (एक लाख की कीमत का) छीन कर तेजी से फरार हो गये. वारदात बुधवार रात 8:45 बजे हुई. घटनास्थल महज धुर्वा थाना से 100 मीटर की दूरी पर है. हैरत की बात यह है कि घटनास्थल से महज 25 मीटर की दूरी पर पीसीआर-4 वैन खड़ी थी. उसमें पुलिसकर्मी भी थे, लेकिन बाजार में शोर सुन कर भी वह अपराधियों के पीछे नहीं भागे. वैन को दूसरी ओर लेकर चले गये.

पति-पत्नी धुर्वा स्थित शर्मा रोड के क्वार्टर नंबर डीटी-531 में रहते हैं. वारदात के बाद पति देव कुमार तिवारी व पत्नी बबीता तिवारी धुर्वा थाना गये और प्राथमिकी दर्ज करायी. उन्होंने पुलिस को बताया कि उनके पिता मेडिका अस्पताल में भर्ती हैं. हम पति-पत्नी अस्पताल से लौट रहे थे. हनुमान मंदिर के पास सब्जी खरीदने के लिए रूके थे, तभी घटना घटी. उन्होंने थाना प्रभारी को जानकारी दी कि जहां चेन छिनतई हुई, वहां से कुछ दूरी पर ही पीसीआर-4 वैन खड़ी थी. लेकिन, शोर सुनने के बाद भी वैन ने अपराधियों का पीछा नहीं किया. बल्कि वैन धुर्वा गोलचक्कर के पास आकर खड़ी हो गयी.

बाद में जब मैं (देव कुमार तिवारी) वैन के पास पहुंचा और उसमें तैनात पुलिसकर्मियों से पूछा कि क्या आपने अपराधियों को पकड़ा? इस पर पीसीआर में तैनात पुलिसकर्मियों ने घटना से ही अनभिज्ञता जता दी. पुलिसकर्मियों ने कहा कि बाजार में रोज शोर होता रहता है, इसलिए हमने ध्यान नहीं दिया. धुर्वा सब्जी बाजार के पास सीसीटीवी कैमरा लगा है. इधर, थाना में धुर्वा थाना प्रभारी ने वारदात की पूरी कहानी सुनने के बाद देव कुमार से बड़े ही गैर जिम्मेदाराना अंदाज में बात की. बोले कि अभी रात हो गयी है. थाना में कोई स्टाफ नहीं है, गुरुवार को दिन में बाजार का सीसीटीवी फुटेज निकाल कर देखेंगे. इसके बाद अपराधियों की गिरफ्तारी का प्रयास किया जायेगा.

लोगों में दिखा गुस्सा

चेन छिनतई की घटना के बाद जब पति-पत्नी ने शोर मचाया, तो स्थानीय लोग जुट गये. उनका कहना था कि बाजार में अक्सर छोटी-मोटी वारदात होती रहती है. लेकिन, पीसीआर वैन में तैनात पुलिसकर्मी सिर्फ खानापूर्ति के लिए तैनात रहते हैं.

चेन छिनतई की घटना के संबंध में पूरी जानकारी लेने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है. पीसीआर में तैनात पुलिसकर्मियों ने संज्ञान नहीं लिया है, ताे मामले की जांच की जायेगी. जो भी पुलिसकर्मी दोषी होंगे, तो उन पर कार्रवाई की जायेगी.

- अंशुमान कुमार, सिटी एसपी

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें