1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ramgarh
  5. even after the death of the worker in ramgarh brahmaputra metallic private limited factory explosion the company did not take care the family members sitting with the dead body are seeking compensation grj

रामगढ़ में फैक्ट्री में विस्फोट से कामगार की मौत के बाद भी कंपनी ने नहीं ली सुध, शव के साथ बैठे परिजन मांग रहे मुआवजा

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
 फैक्ट्री के बाहर शव रखकर मुआवजे की मांग कर रहे परिजन, कंपनी प्रबंधन नहीं ले रहा सुध
फैक्ट्री के बाहर शव रखकर मुआवजे की मांग कर रहे परिजन, कंपनी प्रबंधन नहीं ले रहा सुध
प्रभात खबर

गोला (सुरेंद्र कुमार/शंकर पोद्दार) : रामगढ़ जिले के गोला प्रखंड क्षेत्र के कमता स्थित ब्रह्मपुत्रा मेटालिक प्राइवेट लिमिटेड फैक्ट्री में कीलन विस्फोट में झुलसने के बाद सोमवार देर शाम एक कामगार की मौत हो गयी. इसका शव पोस्टमार्टम कर बाद मंगलवार शाम को गोला लाया गया. मृतक के परिजन शव को फैक्ट्री के मुख्य द्वार के समीप रखकर मुआवजा की मांग कर रहे हैं, लेकिन 17 घंटे बाद भी प्रबंधन ने इनकी सुध नहीं ली.

कंपनी प्रबंधन के रवैये से मृतक के परिजनों और ग्रामीणों में रोष है. उधर, इस मामले में जिला प्रशासन ने भी सुध नहीं ली है. बताते चलें कि तीन दिसंबर को फैक्ट्री में कीलन विस्फोट की घटना हुई थी. जिसमें कई अभियंता सहित एक दर्जन से ज्यादा कामगार झुलस कर घायल हो गये थे. इसमें से कई की हालत गंभीर बतायी जा रही है. इन लोगों का इलाज रांची के देवकमल अस्पताल में किया जा रहा है. इसमें से फीटर धर्मेंद्र सिंह की मौत हो गयी थी, जबकि अब भी कई लोगों की स्थिति नाजुक बनी हुई है.

मृतक के परिजनों का कहना है कि अबतक प्रबंधन द्वारा किसी भी तरह का सहयोग नहीं किया गया है. परिजनों ने फैक्ट्री प्रबंधन से मुआवजा के तौर पर 25 लाख रुपया देने, मृतक की पत्नी को फैक्ट्री में नौकरी देने और बच्चे की पढ़ाई लिखाई और भरण-पोषण की जिम्मेवारी लेने की मांग की है, लेकिन अब तक कोई अधिकारी इनसे मिलने नहीं पहुंचा, जबकि फैक्ट्री में काम चालू है.

बताते चलें कि इस फैक्ट्री में प्रबंधन की लापरवाही से कई बार घटना हो चुकी है. पिछले वर्ष भी कीलन विस्फोट में मगनपुर के एक कामगार की मौत हो गयी थी. विधायक ममता देवी ने भी निरीक्षण के क्रम में कहा था कि यहां लापरवाही के कारण घटना हुई है. इसके बावजूद जिला प्रशासन बेफिक्र है. घटना के छह दिन बीत जाने के बाद भी अबतक कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें