1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. latehar
  5. tana bhagats movement continues for 2nd day in latehar demanding cancellation of panchayat chunav many government offices closed smj

पंचायत चुनाव रद्द करने की मांग को लेकर टानाभगतों का आंदोलन दूसरे दिन भी जारी, कई सरकारी ऑफिस को कराया बंद

पंचायत चुनाव को रद्द करने की मांग को लेकर लातेहार में टाना भगतों का आंदोलन दूसरे दिन भी जारी रहा. बुधवार को टाना भगतों ने घूम-घूमकर कई सरकारी कार्यालयों को बंद कराया. इस दौरान टाना भगतों ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर उनकी मांगें नहीं मानी गयी, तो सड़क से लेकर रेलमार्ग तक जोरदार आंदोलन होगा.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news: लातेहार समाहरणालय के बाहर बैठकर विरोध जताते टाना भगत.
Jharkhand news: लातेहार समाहरणालय के बाहर बैठकर विरोध जताते टाना भगत.
प्रभात खबर.

Jharkhand news: पंचायत चुनाव को रद्द करने की मांग को लेकर लातेहार में टाना भगतों का आंदोलन दूसरे दिन भी जारी रहा. बुधवार को टाना भगतों ने टोली बनाकर प्रखंड सह अंचल कार्यालय, अनुमंडल कार्यालय, वन प्रमंडल समेत कई कार्यालयों में अधिकारी व कर्मियों को बाहर निकाल कर ताला लगा दिया. इस दौरान वन प्रमंडल कार्यालय में डीएफओ रोशन कुमार ने टाना भगतों को काफी समझाया, लेकिन किसी ने एक नहीं सुनी. वन प्रमंडल कार्यालय में ताला लगाने के बाद सभी टाना भगत समाहरणालय पहुंचे और आंदोलन स्थल पर बैठ गये.

Jharkhand news: सरकारी ऑफिस को बंद कराते टाना भगत.
Jharkhand news: सरकारी ऑफिस को बंद कराते टाना भगत.
प्रभात खबर.

विरोध के कारण पंचायत चुनाव के लिए नामांकन स्थल में हुआ बदलाव

सरकारी कार्यालय में ताला लगाने से जिला परिषद एवं पंचायत समिति सदस्य के नामांकन की प्रक्रिया 20 सूत्री एवं जिला नियंत्रण कक्ष में किया जा रहा है. मालूम हो कि राज्य में पंचायत चुनाव को रद्द करने की मांग को लेकर मंगलवार को टाना भगतों ने आंदोलन शुरू किया. आंदोलन के पहले दिन टाना भगतों ने जिला समाहरणालय परिसर को अपने कब्जे में लेते विरोध प्रदर्शन किया. जिला प्रशासन के अधिकारी काफी समझाने का प्रयास किया, लेकिन टाना भगत टस से मस नहीं हुए.

Jharkhand news: आंदोलन कर रहे टाना भगताें को समझाते प्रशासनिक पदाधिकारी.
Jharkhand news: आंदोलन कर रहे टाना भगताें को समझाते प्रशासनिक पदाधिकारी.
प्रभात खबर.

डीसी-एसपी करते रहे प्रयास, पर नहीं माने टाना भगत

बता दें कि मंगलवार की रात डीसी अबु इमरान और एसपी अंजनी अंजन टाना भगतों को कई बार समझाने का प्रयास किया. वहीं, दोनों अधिकारियों ने कहा कि टाना भगतों की बातों से चुनाव आयोग एवं मुख्य सचिव को अवगत करा दिया गया है. जो निर्देश राज्य स्तर से आयेगा उसे आपलोगों को बता दिया जायेगा. लेकिन, टाना भगत अपना आंदोलन समाप्त करने को राजी नहीं हुए. टाना भगत पंचायत चुनाव रद्द करने की अपनी मांग पर अड़े है.

Jharkhand news: लातेहार समाहरणालय में प्रार्थना करते टाना भगत.
Jharkhand news: लातेहार समाहरणालय में प्रार्थना करते टाना भगत.
प्रभात खबर.

मांगें नहीं माने जाने पर सड़क से रेल मार्ग तक आंदोलन की चेतावनी

वहीं, पंखराज टाना भगत और नागेश्वर टाना भगत ने कहा कि आंदोलन लगातार जारी रहेगा. सरकारी पदाधिकारी संविधान की अनदेखी कर रहे हैं. कहा कि टाना भगत की मांगों पर निर्णय नही लिया गया, तो सड़क से लेकर रेल मार्ग तक आंदोलन होगा. मंगलवार की पूरी रात कई अधिकारी पुलिस बल के साथ समाहरणालय में ही जमे रहे. आंदोलन कर रहे टाना भगत अपनी भाषा में पारंपरिक आंदोलन गीत गा रहे थे.

41 डिग्री तापमान में भी डटे रहें टाना भगत

मंगलवार को 41 डिग्री तापमान में भी टाना भगत अपने आंदोलन में डटे रहें. सुबह 10 बजे से ही टाना भगत जिला समाहरणालय में जुटने लगे थे. जैसे-जैसे गर्मी बढ़ती जा रही थी, वैसे-वैसे जिले भर से टाना भगत जुटने लगे थे. इस दौरान कई पदाधिकारियों ने टाना भगतों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन वो नहीं माने.

नहीं सुनी विधायक की बात

टाना भगतों के आंदोलन के पहले दिन यानी मंगलवार को स्थानीय विधायक बैद्यनाथ राम समाहरणालय पहुंचे थे. लेकिन, टाना भगतों ने विधायक की भी एक बात नहीं सुनी. टाना भगत एक ही बात पर अड़े थे कि पंचायत चुनाव पूरी तरह छोटानागपुर क्षेत्र में अवैध है.

रिपोर्ट : चंद्रप्रकाश सिंह, लातेहार.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें