1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. latehar
  5. protest by tana bhagat of latehar regarding panchayat elections in jharkhand rally taken out memorandum submitted to dc smj

झारखंड में पंचायत चुनाव को लेकर लातेहार में टाना भगतों का विरोध प्रदर्शन, निकाली रैली, DC को सौंपे ज्ञापन

झारखंड में जल्द होनेवाले पंचायत चुनाव का टाना भगत विरोध कर रहे हैं. इस दौरान रैली निकाली गयी, वहीं एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया गया. अपनी मांगों के समर्थन में डीसी को ज्ञापन भी सौंपा. टाना भगताें ने राज्य सरकार द्वारा त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर प्रकाशित अधिसूचना को असंवैधानिक करार दिया है.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
पंचायत चुनाव को लेकर प्रकाशित अधिसूचना को असंवैधानिक करार देते हुए टाना भगतों का विरोध प्रदर्शन.
पंचायत चुनाव को लेकर प्रकाशित अधिसूचना को असंवैधानिक करार देते हुए टाना भगतों का विरोध प्रदर्शन.
प्रभात खबर.

Jharkhand News (चंद्र प्रकाश सिंह, लातेहार) : झारखंड में होनेवाले त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव का टाना भगत विरोध कर रहे हैं. लातेहार समाहरणालय के समक्ष एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया. वहीं, इसके विरोध में रैली भी निकाली गयी. अपनी मांगों के संबंध में टाना भगतों ने लातेहार डीसी को ज्ञापन भी सौंपा.

अखिल भारतीय टाना भगत कमेटी, लातेहार की ओर से पंचायत चुनाव के विरोध में टाना भगतों ने स्थानीय बाजारटांड़ से रैली निकाली. टाना भगत रैली में 'त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव रद्द करो, झारखंड सरकार होश में आओ, आदिवासी व टाना भगतों का शोषण बंद करो' आदि का नारा लगा रहे थे. रैली शहर के मुख्य पथ होते हुए समाहरणालय परिसर पहुंची और एक सभा में तब्दील हो गयी.

लातेहार समाहरणालय के समक्ष धरने दे रहे टाना भगतों को संबोधित करते हुए गुमला जिला अंतर्गत विशुनपुर के जर्नादन टाना भगत ने कहा कि झारखंड सरकार द्वारा त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर प्रकाशित अधिसूचना असंवैधानिक है. कहा कि पांचवी अनुसूची के अंतर्गत अनुसूचित जनजाति क्षेत्र में पंचायत चुनाव कराना असंवैधानिक है. राज्य सरकार अगर त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव रद्द नहीं करती है, तो यह आंदोलन आगे भी जारी रहेगा.

धरना में भाग लेने रांची से पहुंचे धनेश्वर टोप्पो ने कहा कि झारखंड राज्य आदिवासियों एवं मूलवासियों का है. उन्होंने कहा कि अनुसूचित क्षेत्रों एवं अनुसूचित जनजातियों पर पंचायत चुनाव थोपे जा रहे हैं. इस पर रोक लगाने की जरूरत है. कहा कि राज्य सरकार के इस निर्णय के खिलाफ आगामी 12 नवंबर को राज्यपाल आवास का घेराव किया जायेगा.

जिला अध्यक्ष परमेश्वर टाना भगत ने कहा कि संविधान की पांचवी अनुसूची के आदेश की अवहेलना संविधान के खिलाफ है. उन्होंने कहा कि त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव होने से टाना भगतों के अधिकारों का हनन हो रहा है. धरना के बाद टाना भगतों ने शंख व घंटी बजा कर कार्यक्रम की समाप्ति की घोषणा की. इसके बाद डीसी को एक ज्ञापन सौंपा गया.

टाना भगतों ने डीसी से नि:शुल्क बिजली उपलब्ध कराये जाने का अनुरोध किया. इस पर डीसी ने टाना भगतों की इस मांग से राज्य सरकार को अवगत कराने की बात कही. मौके पर दिनेश टाना भगत, दिगबंर टाना भगत, बहादुर टाना भगत, इंद्रदेव टाना भगत, नागेश्वर टाना भगत, बालेश्वर टाना भगत, मणिलाल टाना भगत, बासुदेव टाना भगत, राममुनी टाना भगत, नीलमणी टाना भगत, सोनूवा टाना भगत व सुखपति टाना भगत समेत कई टाना भगत शामिल थे.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें