1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. latehar
  5. latehar police handed over the bodies of 2 naxalites of tspc to the relatives killed in an encounter in kauakhad forest smj

TSPC के 2 नक्सलियों के शव को लातेहार पुलिस ने परिजनों को सौंपा, कौआखाड़ जंगल में मुठभेड़ में हुआ था ढेर

लातेहार के कौआखाड़ जंगल में पुलिस-नक्सली मुठभेड़ के दौरान मारे गये तीन TSPC नक्सली का पोस्टमार्टम सदर अस्पताल में हुआ. पोस्टमार्टम के बाद दो नक्सली के शव को उसके परिजनों को सौंपा गया, वहीं तीसरे नक्सली की शिनाख्त नहीं हो पायी है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news: लातेहार में पोस्टमार्टम हाउस के बाहर दंडाधिकारी प्रीति सिन्हा और अस्पताल उपाधीक्षक.
Jharkhand news: लातेहार में पोस्टमार्टम हाउस के बाहर दंडाधिकारी प्रीति सिन्हा और अस्पताल उपाधीक्षक.
प्रभात खबर.

Jharkhand naxal News: लातेहार जिला अंतर्गत सदर थाना क्षेत्र के कौआखाड़ जंगल में गत शनिवार को पुलिस और नक्सली संगठन TSPC के बीच हुई मुठभेड़ में मारे गये 3 नक्सलियों का पोस्टमार्टम रविवार को सदर अस्पताल में किया गया. पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद तीन में से दो नक्सली जीतेंद्र यादव और करमदेव सिंह का शव उनके परिजनों को सौंप दिया. वहीं, तीसरे नक्सली की शिनाख्त नहीं होने से उसके शव को पुलिस सुरक्षित रखी है. सदर अस्पताल में दंडाधिकारी प्रीति सिन्हा की उपस्थिति में तीन सदस्यीय चिकित्सकों की टीम ने तीनों शवों का पोस्टमार्टम किया था. पुलिस ने मृतक के पास एक मोबाइल फोन बरामद किया है. पुलिस इस मोबाइल फोन से उसकी शिनाख्त करने की प्रयास कर रही है.

रोते बिलखते रहे परिजन

नक्सली संगठन TSPC के सब जोनल कमांडर जीतेंद्र यादव (चतरा) और एरिया कमांडर करमदेव सिंह (मनिका) के परिजन अहले सुबह ही सदर अस्पताल पहुंचे गये थे. जीतेंद्र यादव की पत्नी रीता देवी और सास पतिया देवी अस्पताल के मुख्य द्वार पर रोते-बिलखते दिखायी पड़े. हालांकि, उन्होंने कुछ कहने से इनकार कर दिया. वहीं, मनिका से करमदेव सिंह के परिजन भी सदर अस्पताल पहुंचे थे और इन लोगों ने भी कुछ बताने से इनकार किया.

दोपहर के बाद शव पहुंचा सदर अस्पताल

घटना के 30 घंटे बीत जाने के बाद मारे गये तीनों नक्सलियों का शव सदर अस्पताल लाया गया. शनिवार की रात भी नक्सलियों का शव जंगल में ही पड़ा था. इस दौरान पुलिस पूरे इलाके में सर्च ऑपरेशन चला रही थी. रविवार की सुबह रांची से आयी फोरेंसिक की टीम ने घटनास्थल पहुंच कर मुआयना किया और शवों के आसपास से सैंपल संग्रह किया.

पोस्टमार्टम टीम से गायब रहे एक चिकित्सक

अनुमंडल पदाधिकारी शेखर कुमार के निर्देश पर तीनों नक्सलियों के पोस्टमार्टम के लिए चिकित्सकों का तीन सदस्यीय टीम बनाया गया था. इस टीम में सदर अस्पताल के उपाधीक्षक डॉ संतोष श्रीवास्तव, डॉ अखिलेश्वर प्रसाद एवं डॉ सुनील प्रसाद शामिल थे. लेकिन, पोस्टमार्टम के दौरान डॉ सुनील प्रसाद उपस्थित नहीं थे. इस मौके की नजाकत को समझते हुए कि तीन सदस्यीय टीम के बिना पोस्टमार्टम की कार्रवाई पूरी नहीं हो सकती है. इसलिए डॉ सुनील प्रसाद के स्थान पर डॉ सुनील भगत पोस्टमार्टम स्थल पहुंचे और कागजी कार्रवाई पूरी की.

Posted By: Samir Ranjan.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें