1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. latehar
  5. jharkhand crime news 4 naxalites including jjmp supremo pappu lohra brother arrested from ranchi many belongings recovered smj

Jharkhand Crime News : नक्सली संगठन JJMP सुप्रीमो पप्पू लोहरा के भाई समेत 4 नक्सली रांची से गिरफ्तार, कई सामान बरामद

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
नक्सली संगठन JJMP सुप्रीमो के भाई समेत 4 नक्सलियों की गिरफ्तारी की जानकारी देते लातेहार एसपी.
नक्सली संगठन JJMP सुप्रीमो के भाई समेत 4 नक्सलियों की गिरफ्तारी की जानकारी देते लातेहार एसपी.
प्रभात खबर.

Jharkhand Crime News, Latehar News, लातेहार न्यूज (चंद्रप्रकाश सिंह) : लातेहार में मुंशी विशुनदेव सिंह की हत्या के आरोप में पुलिस ने नक्सली संगठन JJMP सुप्रीमो पप्पू लोहरा के मुखिया भाई जुलेश्वर लोहरा समेत 4 नक्सलियों को गिरफ्तार कर जेल भेज है. एसपी प्रशांत आनंद के निर्देश पर गठित SIT ने रांची में छापेमारी कर इन आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

लातेहार एसपी के निर्देश पर गठित SIT ने रांची में छापेमारी कर अमित कुमार उर्फ अमित कुमार लोहरा (बारीडीह, लातेहार), रवींद्र लोहरा उर्फ संतोष लोहरा (बिनगढ़ा, लातेहार), जुलेश्वर लोहरा (कोने, बिनगढ़ा, लातेहार) और विजय मेहता (पूर्वी सुदना, पलामू) को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार अपराधियों के पास से एक पिस्टल, तीन कार, दो दोपहिया वाहन समेत जमीन के दस्तावेज आदि बरामद किये गये हैं.

इस संबंध में एसपी श्री आनंद ने बताया कि विशुनदेव सिंह की हत्या करने के बाद ये सभी रांची के पुंदाग और अरगोड़ा में छिप कर रह रहे थे. उन्होंने हत्या के कारणों का खुलासा करते हुए बताया कि आगामी पंचायत चुनाव में पप्पू लोहरा अपने भाई जुलेश्वर लोहरा की पत्नी को मुखिया का उम्मीदवार बनाना चाहता था. वहीं, मुंशी विशुनदेव सिंह भी अपनी पत्नी को चुनाव लड़वाना चाहता था. इस बात को लेकर पप्पू लोहरा खफा था.

पूर्व के पंचायत चुनाव में विशनुदेव सिंह मुखिया चुनाव का प्रत्याशी के रूप में परचा भरा था, परंतु पप्पू लोहरा के दवाब पर वह अपना परचा वापस कर लिया था और जुलेश्वर लोहरा तरवाडीह पंचायत का मुखिया निर्वाचित हुआ था. कोने गांव के समीप धरधरी नदी पर पुल निर्माण कार्य ठेकेदार विजय प्रसाद के द्वारा कराया जा रहा है. लेकिन, पप्पू लोहरा इस पुल का निर्माण कार्य अपने पंसदीदा ठेकेदार से कराना चाहता था.

इसी को लेकर घटना के दिन संवेदक और JJMP के उग्रवादियों के बीच नोकझोंक हुआ था. जब मुंशी विशुनदेव सिंह सदर थाना से पप्पू लोहरा पर मामला दर्ज करा कर अपने घर लौट रहा था तथा बरैनी गांव के समीप पहले से घात लगाये उग्रवादियों ने उसकी हत्या कर दी थी. इस हत्याकांड में शामिल अमित कुमार लोहरा के खिलाफ जिले के विभिन्न थाना क्षेत्रों में 12 आपराधिक मामले दर्ज हैं, जबकि जुलेश्वर लोहरा पर 17 CLA Act के तहत मामला दर्ज है.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें