1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. kodarma
  5. who attacked the police team in koderma narrowly survived jayanagar police station incharge five policemen injured fir against 25 government teacher arrested in this case grj

कोडरमा में पुलिस टीम पर किसने किया जानलेवा हमला, बाल-बाल बचे जयनगर थानेदार, पांच पुलिसकर्मी घायल, 25 के खिलाफ FIR, सरकारी शिक्षक गिरफ्तार

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
पुलिस टीम पर शराब कारोबारियों ने किया हमला
पुलिस टीम पर शराब कारोबारियों ने किया हमला
प्रभात खबर

Jharkhand News, कोडरमा न्यूज : झारखंड के जयनगर थाना क्षेत्र के चुटियारो गांव में गुरुवार की देर शाम अवैध महुआ शराब के कारोबार के विरुद्व छापामारी करने गई पुलिस टीम पर हमला करने को लेकर पुलिस ने 25 लोगों पर नामजद प्राथमिकी दर्ज की है. यही नहीं पुलिस टीम ने पथराव, उपद्रव में शामिल एक युवक जानकी कुमार साव (पिता सेवल साव) को मौके पर से गिरफ्तार भी किया है. जानकी पेशे से सरकारी शिक्षक है. वहीं अन्य आरोपियों की धरपकड़ के लिए पुलिस टीम छापामारी कर रही है.

जानकारी के अनुसार चुटियारो में बड़े पैमाने पर वर्षों से अवैध महुआ शराब चुलाई का काम होता है. आए दिन यहां पुलिस टीम छापा मारती है, पर इस धंधे पर रोक नहीं लग पाती है. गुरुवार रात करीब आठ बजे छापामारी करने जयनगर थाना प्रभारी अब्दुल्लाह खान, केटीपीएस पिकेट प्रभारी लोकनाथ मेहता, डैम ओपी प्रभारी विशाल पांडेय, अनि कुमार शिवम, सअनि शांति भूषण, हवलदार लेखराव उरांव, अवध किशोर दांगी, चौकीदार राजेश पासवान दलबल के साथ चुटियारो पहुंचे. यहां उन्होंने रामेश्वर साव की दुकान से छापामारी अभियान की शुरूआत की. छापामारी के दौरान यहां से 50 लीटर देशी महुआ शराब बरामद हुआ.

इसी दौरान इस धंधे में लिप्त लोग गोलबंद होने लगे और पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया. इससे तीन पुलिस वाहन क्षतिग्रस्त हो गए, जबकि पांच पुलिस कर्मी व चौकीदार घायल हो गए. हमलावरों ने थाना प्रभारी के वाहन को भी क्षतिग्रस्त कर दिया. पथराव में थाना प्रभारी बाल-बाल बचे. बाद में पुलिस ने किसी तरह स्थिति पर नियंत्रण किया.

पुलिस टीम पर हमला करने को लेकर थाना प्रभारी के फर्द बयान पर कांड संख्या 85/21 दर्ज किया गया है. इसमें सरकारी काम में बाधा पहुंचाने, नाजायज मजमा बनाकर पुलिस पर हमला करने, जान मारने की नियत से गंभीर रूप से हमला करने तथा पुलिस वाहन को क्षतिग्रस्त करने का आरोप है. दर्ज मामले में रामेश्वर साव (पिता स्व. खुबलाल साव), जानकी कुमार साव (पिता सेवल साव), मीना साव (पति स्व. दुर्गा साव), सूरज साव (पिता महादेव साव), सेवल साव (पिता स्व. श्यामलाल साव), रामेश्वर साव (पिता काशी साव), नागेश्वर साव (पिता टेकमन साव), विनोद साव (पिता गणेश साव), खगेंद्र साव (पिता गणेश साव), डेगो साव (पिता स्व. खागो साव), रितलाल साव (पिता सेवल साव), अजय साव (पिता हारू साव), मोनी साव (पिता काशी साव), गुलाब साव (पिता तेजो साव), सुधीर साव (पिता भुपत साव), रामचंद्र साव (पिता महादेव साव), सीताराम साव (पिता बिशुन साव), लेखराज साव (पिता बिशुन साव), काशी साव (पिता भुपत साव), मोती साव की पत्नी, रामेश्वर साव की मां व पत्नी, काशी साव की पत्नी सहित 15-20 अन्य लोगों को आरोपी बनाया गया है.

वहीं, अवैध शराब के कारोबार को लेकर थाना प्रभारी के ही फर्द बयान पर अलग केस थाना कांड संख्या 84/21 के रूप में दर्ज किया गया है. इसमें रामेश्वर साव पिता स्व. खुबलाल साव चुटियारो को आरोपी बनाया गया है. अवैध शराब के कारोबारियों द्वारा पुलिस टीम पर किए गए हमले में अनि कुमार शिवम, सअनि शांति भूषण, हवलदार अवैध किशोर दांगी, लेखराज उरांव, चौकीदार राजेश पासवान घायल हो गए. सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में घायल पुलिस कर्मियों व चौकीदार का उपचार किया गया. थाना प्रभारी अब्दुल्लाह खान ने जानकारी देते हुए बताया कि पुलिस टीम छापामारी करने गई थी. इसी दौरान लोगों ने टीम पर हमला कर दिया. इस मामले में शामिल किसी भी व्यक्ति को बख्शा नहीं जाएगा. उन्होंने कहा कि अवैध धंधेबाज किसी मुगालते में न रहें. अवैध शराब के खिलाफ यह अभियान आगे भी जारी रहेगा.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें