1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. kodarma
  5. people got angry over the death of lineman due to electrocution ranchi and patna road jammed with dead body for hours demanded compensation smj

करंट लगने से लाइनमैन की मौत पर लोगों का उतरा गुस्सा, शव के साथ घंटों रांची-पटना रोड किया जाम, मुआवजे की मांग की

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand News : मुआवजे की मांग को लेकर रांची-पटना रोड जाम करते लोगों को समझाती पुलिस.
Jharkhand News : मुआवजे की मांग को लेकर रांची-पटना रोड जाम करते लोगों को समझाती पुलिस.
प्रभात खबर.

Jharkhand News (झुमरीतिलैया, कोडरमा) : विद्युत कार्य के दौरान करंट लगने से गत दिन जान गंवाने वाले लाइनमैन के शव के साथ लोगों ने सोमवार को रांची-पटना रोड को जाम कर दिया. आक्रोशित लोग परिजनों को उचित मुआवजा, परिवार के एक सदस्य को नौकरी व पत्नी को पेंशन देने की मांग कर रहे थे. लोगों ने महतो आहर के पास करीब दो घंटे तक सड़क जाम रखा. इस वजह से सड़क के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लग गयी. जाम में फंसे लोग परेशान दिखे. जाम की सूचना पर पहुंची पुलिस ने लोगों को समझाने का प्रयास किया, पर लोग सड़क से नहीं हटे. बाद में विद्युत विभाग के पदाधिकारी मौके पर पहुंचे व मदद का आश्वासन दिया. इसके बाद जाम हटा.

Jharkhand News : मुआवजे की मांग को लेकर रांची-पटना रोड घंटों जाम हाेने से वाहनों की लगी लंबी कतार.
Jharkhand News : मुआवजे की मांग को लेकर रांची-पटना रोड घंटों जाम हाेने से वाहनों की लगी लंबी कतार.
प्रभात खबर.

जानकारी के अनुसार, गझंडी रोड स्थित बालाजी फैक्ट्री के समीप 11 हजार फीडर में कार्य के दौरान लाइनमैन चंदवारा थाना क्षेत्र के बाराडीह निवासी 33 वर्षीय शंकर सिंह की मौत रविवार की दोपहर करंट लगने से घटनास्थल पर ही हो गयी थी. इसके बाद पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया था.

सोमवार की सुबह पोस्टमार्टम के बाद शव मृतक के परिजनों को सौंप दिया गया. इसके बाद मृतक के परिजन व काफी संख्या में स्थानीय ग्रामीणों ने शव के साथ सुबह 11 बजे महतो आहर के पास रांची-पटना रोड को जाम कर दिया. लोग परिजनों को उचित मुआवजा, नौकरी, पेंशन आदि की मांग कर रहे थे.

जामस्थल पर मौजूद मृतक के भाई ने बताया कि विद्युत विभाग से विद्युत आपूर्ति बंद कराने के बाद उनका भाई पोल पर चढ़कर काम कर रहा था. इस दौरान विद्युत विभाग की लापरवाही से विद्युत सप्लाई चालू कर दिया गया, जिसके कारण उन्हें जोर का झटका लगा और पोल से नीचे गिर कर उनकी मौत हो गयी.

घटना के बाद से विद्युत विभाग के पदाधिकारियों ने अब तक हमारी सुध नहीं ली है. इसी बात को लेकर मृतक के परिजन व ग्रामीणों में आक्रोश है. जाम की सूचना के बाद मौके पर पहुंचे विद्युत विभाग की आउटसोर्सिंग कंपनी पीकेपी के प्रतिनिधि ने कंपनी के द्वारा बीमा राशि करीब पांच लाख व उनकी पत्नी को आजीवन पेंशन देने की बात कही. इसके बाद भी आक्रोशित ग्रामीण विद्युत विभाग से मृतक के पत्नी को नौकरी और मुआवजे की मांग पर अड़े रहे.

जाम से सड़क पर लगी वाहनों की लंबी कतार देख तिलैया व चंदवारा थाना की पुलिस भी पहुंची. सीओ अनिल कुमार ने भी मृतक के परिजनों और ग्रामीणों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन लोग मानने को तैयार नहीं थे. परिजनों का कहना था कि मृतक शंकर सिंह घर का एकमात्र कमाऊ सदस्य था. उनकी तीन बेटी व दो बेटे हैं. इसके अलावा उनकी बहन के दो बच्चे का पालन-पोषण की जिम्मेदारी भी उन पर थी.

करीब दो घंटे तक सड़क जाम रहने के बाद विद्युत विभाग के पदाधिकारी परिजनों से बात करने के लिए पहुंचे. बातचीत में मिले आश्वासन के बाद जाम हटाया गया. जाम स्थल पर मृतक की पत्नी सुनीता देवी, माता बसंती देवी का रो-रोकर बुरा हाल था.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें