1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. kodarma
  5. dowry case in koderma dead body found of 3 children including a woman the family members ransacked the inlaws house smj

कोडरमा में महिला समेत 3 बच्चों का शव बरामद मामले में दहेज हत्या का केस दर्ज, ससुराल में हुई तोड़फोड़

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
कोडरमा के मरकच्चो में मृतक महिला के मायके वालों ने उसके ससुराल में जमकर की तोड़फोड़.
कोडरमा के मरकच्चो में मृतक महिला के मायके वालों ने उसके ससुराल में जमकर की तोड़फोड़.
प्रभात खबर.

Jharkhand Crime News (मरकच्चो, कोडरमा) : झारखंड के कोडरमा जिला अतर्गत मरकच्चो थाना क्षेत्र के गरगडीहा में महिला समेत उसके तीन बच्चों का शव एक बंद पड़े खदान में मिलने के मामले में दहेज हत्या का केस दर्ज किया गया है. मृतक के पिता राजधनवार के लोधीपुर निवासी युगल महतो ने थाना में आवेदन देकर मृतका के ससुराल वालों पर हत्या का आरोप लगाते हुए एक नाबालिग समेत 8 लोगों के खिलाफ केस दर्ज कराया है. वहीं, मृतका के मायके वालों ने उसके ससुराल में जमकर तोड़फोड़ किया.

आरोपी बनाये गये लोगों में मृतका का पति उमेश यादव, ससुर बिगन महतो, सास फूलमति देवी, गोतनी नीलाम देवी, देवर अजय यादव, भोगत यादव, सोनू यादव (13 वर्ष) व लड़का का मामा वासुदेव यादव शामिल हैं. आवेदन में मृतका के पिता ने कहा है कि उसकी पुत्री गुड़िया देवी की शादी करीब 15 वर्ष पूर्व गरगडीहा निवासी उमेश यादव के साथ हुई थी.

शादी के बाद से लगातार उक्त लोग उसकी पुत्री को दहेज को लेकर प्रताड़ित करते थे. कई बार इस मामले को लेकर पंचायत भी हुई थी. 19 जुलाई को भी उक्त लोग उसकी पुत्री के साथ मारपीट किये तथा उसकी पुत्री समेत तीनों बच्चे सूरज यादव, सत्यम यादव व शिवम यादव की हत्या कर गांव से तीन किलोमीटर दूर बंद पड़े पत्थर खदान में फेंक दिया.

वहीं, मामले को लेकर पुलिस ने मंगलवार को 2 नामजद आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. गिरफ्तार आरोपियों में मृतका के ससुर विंगन महतो व मामा ससुर वासुदेव यादव के नाम शामिल हैं. थाना प्रभारी संजय कुमार शर्मा ने बताया कि अन्य आरोपियों को भी जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जायेगा.

बता दें कि सोमवार को नावाडीह पंचायत स्थित पंदना जंगल के समीप बंद पड़े पत्थर खदान से एक महिला और उसके तीन बच्चों का शव बरामद किया गया था. मृतक महिला के मायके वालों ने दहेज के लिए प्रताड़ित किये जाने का आरोप लगाया था. साथ ही कहा था कि मृतक के ससुराल वालों ने बेटी समेत उसके तीन बच्चों को मारकर बंद पड़े पत्थर खदान में फेंक दिया था.

इस घटना के बाद मृतक के ससुराल वाले फरार हो गये थे. पुलिस मामले की जांच-पड़ताल करते हुए आवश्यक कार्रवाई का आश्वासन दिया था. इस मामले में गरगडीहा निवासी उमेश यादव की पत्नी पत्नी गुड़िया देवी (35 वर्ष) और उसके पुत्र छोटू कुमार (3 वर्ष), सूर्या कुमार (8 वर्ष) व शिवम कुमार (6 वर्ष) का शव पत्थर खदान से बरामद किया गया था.

ससुराल घर का मुख्य दरवाजा तोड़, वहीं अंतिम संस्कार की जिद पर अड़े मायके वाले

इधर, इस मामले में घटना के दूसरे दिन मंगलवार को मृतका के मायके वालों ने आरोपी ससुराल परिवार के घर में जमकर तोड़फोड़ किया. घटना दोपहर बाद करीब 3 बजे की है. जानकारी के अनुसार, पुलिस द्वारा शव का पोस्टमार्टम करा कर मृतका के परिजनों को अंतिम संस्कार के लिए सौंप दिया गया. इसके बाद आक्रोशित परिजन शवों का दाह संस्कार ससुराल घर में ही करने की बात कह कर शवों को लेकर मृतका के ससुराल पहुंच गये.

यहां पहुंचने के बाद घर में तोड़फोड़ करना शुरू कर दिया. इस दौरान परिजन मृतका के ससुराल के घर का मुख्य दरवाजा को निकाल कर अंदर प्रवेश कर गये और घर में रखे आलमीरा, टीवी, पानी मोटर मशीन, बक्सा, कमरे के दरवाजे समेत कई सामान को क्षतिग्रस्त किया. साथ ही खाद्य सामग्री को कमरे में ही फेंक दिया. लोग करीब एक दर्जन की संख्या में थे.

घटना की जानकारी मिलने पर थाना प्रभारी संजय कुमार शर्मा दल बल के साथ मौके पर पहुंचे. उन्होंने आक्रोशित परिजनों को समझा-बुझा कर शांत किया. बाद में ग्रामीणों के सहयोग से शवों का स्थानीय मुक्तिधाम में अंतिम संस्कार कराया गया.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें