1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. kodarma
  5. a large consignment of illigal liquor kept hidden inside the land in meghtari dibor planned to be sent to bihar smj

मेघातरी दिबौर में जमीन के अंदर छुपा कर रखी अवैध शराब की बड़ी खेप बरामद, बिहार भेजने की थी योजना

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : कोडरमा में जमीन के अंदर बोरे में छुपा कर रखे शराब को पुलिस ने किया बरामद.
Jharkhand news : कोडरमा में जमीन के अंदर बोरे में छुपा कर रखे शराब को पुलिस ने किया बरामद.
प्रभात खबर.

Jharkhand news, Koderma news : कोडरमा बाजार : अवैध शराब के मामले में कोडरमा एक बार फिर सुर्खियां बंटोर रहा है. ताजा मामला बिहार- झारखंड के सीमावर्ती क्षेत्र मेघातरी दिबौर से जुड़ा है. मेघातरी में जमीन के अंदर छिपा कर रखी गयी शराब की बड़ी खेप मंगलवार को बरामद की गयी. यहां जमीन के अंदर गड्डा कर भारी मात्रा में देशी एवं अंग्रेजी शराब रखी गयी थी. हालांकि, इस मामले में किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है.

जानकारी के अनुसार, डीसी रमेश घोलप के निर्देश पर कोडरमा थाना क्षेत्र के मेघातरी में कार्यपालक दंडाधिकारी (Executive magistrate) जयपाल सोय एवं थाना प्रभारी द्वारिका राम के नेतृत्व में छापामारी अभियान चलाया गया. गुप्त सूचना के आधार पर पहुंची टीम ने यहां गत दिन सील किये गये लाइसेंसी अंग्रेजी शराब की दुकान के समीप बेलाल अंसारी पिता मतलूब अंसारी के मकान परिसर में छापामारी की, तो गड्ढे में छिपा कर रखे गये करीब 20 बोरी में चैंपियन देशी शराब एवं 11 पेटी में रखा अंग्रेजी शराब बरामद किया गया.

यही नहीं, इतने बड़े पैमाने पर अवैध रूप से शराब बरामद होने के बाद शक के आधार पर पूर्व में सील किये गये सोमन साव के अंग्रेजी शराब की दुकान को खोल कर उसमें रखे शराब का मिलान किया गया, तो हैरान करने वाली बात सामने आयी. सील दुकान के अंदर से 8100 बोतल देशी शराब कम पाया गया.

छापामारी अभियान का नेतृत्व कर रहे कार्यपालक दंडाधिकारी श्री सोय ने बताया कि उक्त सील दुकान में 22,750 बोतल चैंपियन देशी शराब था, मगर स्टॉक मिलान में 8100 बोतल शराब कम पाया गया. उन्होंने बताया कि पूरे मामले की गहराई से जांच की जा रही है. दोषियों के विरुद्ध कोडरमा थाना में मामला दर्ज करने की कार्रवाई की जा रही है.

अवैध शराब की बिक्री को लेकर चर्चित रहा है कोडरमा

यह पहला मामला नहीं है जब अवैध तरीके से रखी गयी शराब की बरामदगी कोडरमा में हुई है. इससे पहले भी शराब की बड़ी खेप समय-समय पर अलग-अलग जगहों पर बरामद की जा चुकी है. खासकर पड़ोसी राज्य बिहार में शराब तस्करी को लेकर माफिया सक्रिय रहते हैं. यही कारण है कि कोडरमा के मेघातरी, गझंडी, सतगावां के सीमावर्ती इलाकों में आये दिन कार्रवाई होती है. यही नहीं, कई मौकों पर शराब तस्कर पकड़े भी जाते हैं, पर बड़े माफिया पुलिस प्रशासन की पकड़ से दूर ही रह जाते हैं. परिणामस्वरूप फिर से शराब की तस्करी शुरू हो जाती है. तस्कर इसके लिए लग्जरी वाहनों तक का प्रयोग करते हैं. इन दिनों बिहार में विधानसभा चुनाव हैं, तो शराब तस्कर एक बार फिर सक्रिय हो गये हैं. वहीं, दूसरी ओर पुलिस प्रशासन की सख्ती भी बढ़ी हुई है.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें