1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. kodarma
  5. 15 plus vaccination case teenagers wandering in koderma not get vaccinated due to departmental negligence smj

15 Plus Vaccination News: कोडरमा में भटकते रहे किशोर, विभागीय लापरवाही के कारण नहीं लगा टीका

कोडरमा के सतगावां में टीनएजर्स को कोरोना वैक्सीन देने के दौरान विभागीय लापरवाही देखने को मिली. वैक्सीन नहीं लगने से उत्साहित होकर आये किशोरों को निराश होकर वापस लौटना पड़ा. हालांकि, विभागीय अधिकारी अपना रोना रो रहे थे.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Jharkhand news: वैक्सीन को लेकर टीनएजर्स में दिखा उत्साह. पर टीका नहीं लगने से हुए मायूस.
Jharkhand news: वैक्सीन को लेकर टीनएजर्स में दिखा उत्साह. पर टीका नहीं लगने से हुए मायूस.
प्रभात खबर.

Corona Vaccination news: तरफ सरकार और प्रशासनिक महकमा ज्यादा से ज्यादा लोगों को कोविड वैक्सीन लगाने के लिए प्रयासरत है. तमाम जागरूकता अभियान चलाये जा रहे हैं, पर कोडरमा जिला के सुदूरवर्ती सतगावां प्रखंड में वैक्सीनेशन को लेकर लापरवाही का आलम दिख रहा है. एक तो अधिकतर लोग वैक्सीनेशन के लिए आगे नहीं आ रहे हैं. दूसरी ओर जो वैक्सीन लेने पहुंच रहे हैं उन्हें व्यवस्था की खामियों का सामना करना पड़ रहा है.

कोडरमा जिले में भले ही इन दिनों 15 प्लस के किशोरों को वैक्सीन देने क लिए सेशन साइट बनाये गये हैं, लेकिन सतगावां में स्थिति खराब है. यहां अभियान के पहले दिन एक भी किशोर वैक्सीन लेने नहीं पहुंचा. इसके बाद प्रशासनिक स्तर से जागरूकता को लेकर कवायद शुरू हुई, पर शुक्रवार को एक बार फिर व्यवस्थागत खामियों की वजह से दो केंद्रों पर वैक्सीन लेने पहुंचे किशोरों को घंटों के इंतजार के बाद वापस लौटना पड़ा. बिना वैक्सीन लिए लौटने पर किशोर निराश दिखे.

जानकारी के अनुसार, शुक्रवार को कुछ किशोर वैक्सीन लेने के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, सतगावां पहुंचे, जबकि एक-दो लड़कियों ने खुद से ऑनलाइन स्लॉट बुक कर रखा था. यहां पर पहुंचने व रजिस्ट्रेशन कराने के घंटों बाद भी इन किशोरों को वैक्सीन नहीं दी गई. बताया गया कि एक बोतल से 20 किशोरों को वैक्सीन दी जानी है, पर टीका लेने के लिए मात्र 8 ही उपस्थित थे.

20 की संख्या पूरा करने के लिए सुबह 11 बजे से लंबा इंतजार किया गया, पर संख्या नहीं बढ़ी. ऐसे में वैकल्पिक तौर पर इन सभी को मरचोई मोड़ पर लगे शिविर में जाकर वैक्सीन लेने के लिए कहा गया. हद तो तब हो गई जब किशोर यहां वैक्सीन लगाने पहुंचे, तो दो एएनएम बैठी जरूर मिलीं, लेकिन रजिस्ट्रेशन करने वाला कर्मचारी नदारद था.

पूछा गया तो बताया गया कि पास में ही है. यहां 15 से 18 वर्ष का एक भी बच्चा टीका लगाने पहले से नहीं आया था. ऐसे में इस जगह पर भी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से पहुंचे बच्चों का वैक्सीनेशन नहीं हो पाया. परेशान होकर बच्चे दोबारा सीएचसी पहुंचे. यहां दोपहर बाद तीन बजे तक 20 की संख्या होने का इंतजार किया, लेकिन ऐसा नहीं होने पर बिना वैक्सीन लिए सभी को लौटना पड़ा. निराश होकर लौटे किशोर अखिलेश कुमार, राजेश कुमार व हिमांशु भारद्वाज ने बताया कि कोरोना से बचाव के लिए टीका लेने उत्साह के साथ आये थे, पर आज निराशा हाथ लगी.

अन्य दो केंद्रों पर 60 किशोरों को लगी वैक्सीन

बताया जाता है कि विभाग के द्वारा सतगावां में वैक्सीन लगाने के लिए चार सेशन साइट बनाए गए हैं. सीएचसी के अलावा कटैया, झांझीडह व मरचोई मोड़ में बनाए गए केंद्र में वैक्सीनेशन का लक्ष्य निर्धारित है. इन चार में से दो सीएचसी व मरचोई मोड़ पर शुक्रवार को 15 प्लस का एक भी वैक्सीन नहीं लगा, जबकि कटैया में बीस व झांझीडीह में 40 किशोरों का वैक्सीनेशन किया गया.

सतगावां में बने चार सेशन साइट पर वैक्सीनेशन की स्थिति

केंद्र : क्षमता : डोज पड़ा (15 प्लस)
सीएचसी : 200 : 00
कटैया : 200 : 20
झांझीडीह : 200 : 40
मरचोई मोड़ : 200 : 00

सतगावां के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ पंकज कुमार कर्मकार ने कहा कि पहले एक वैक्सीन के एक छोटी शीशी से 10 व्यक्ति को टीका दिया जाता था, अब 20 लोगों को टीका लगाया जाना है. इतनी संख्या नहीं होने पर छोटी शीशी को खोल देने से टीका की बर्बादी बढ़ती है. कुछ बच्चों को परेशानी हुई यह मुझे भी अच्छा नहीं लगा, पर हमारे पास कोई दूसरा उपाय भी नहीं है. लोगों को वैक्सीनेशन के प्रति जागरूक होकर आगे आने की जरूरत है.

Posted By: Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें