1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. khunti
  5. policy will be made soon for the farmers of jharkhand agriculture minister said compensation will be given directly on the loss of crops smj

झारखंड के किसानों के लिए जल्द बनेगी नीति, कृषि मंत्री बोले- फसलों के नुकसान होने पर सीधे मिलेगा मुआवजा

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : खूंटी में आयोजित किसान सम्मान समारोह में किसानों को संबोधित करते झारखंड के कृषि मंत्री बादल पत्रलेख.
Jharkhand news : खूंटी में आयोजित किसान सम्मान समारोह में किसानों को संबोधित करते झारखंड के कृषि मंत्री बादल पत्रलेख.
प्रभात खबर.

Jharkhand News, Khunti News, खूंटी (चंदन कुमार) : झारखंड के किसानों के लिए जल्द नीति बनेगी. इसकी शुरुआत खूंटी जिले से होगी और इसका अनुसरण पूरा राज्य करेगा. यह बात झारखंड के कृषि मंत्री बादल पत्रलेख ने किसान सम्मान समारोह में कही. इस दौरान फसलों के नुकसान होने पर अब किसानों के खाते में सीधा मुआवजा पहुंचाने की बात कही. वहीं, जैविक खेती को बढ़ावा देने की भी बात कही.

खूंटी के डुंगरा में HDFC बैंक के CSR के तहत नीड्स संस्था की ओर से आयोजित किसान सम्मान समारोह में शिरकत करते हुए झारखंड के कृषि मंत्री बादल पत्रलेख ने कहा कि किसान जब ज्यादा उत्पादन करते हैं, तो उन्हें बाजार नहीं मिलता है. इस कारण औने-पौने दामों में कृषि उत्पाद को बेचने को मजबूर होना पड़ता है. लेकिन, अब झारखंड के किसानों को इस समस्या से जल्द निजात मिलेगी.

कृषि मंत्री श्री पत्रलेख ने कहा कि किसानों की इस समस्या के समाधान के लिए सरकार ने तैयारी की है. सबसे ज्यादा जिज्ञासु किसान खूंटी में हैं. इसलिए खूंटी में किसानों को लेकर नीतियां लागू किया जायेगा. जिसका पूरा राज्य अनुसरण करेगा.

इस दौरान पूर्व की सरकार पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा कि पिछली सरकार में किसानों के फसल बीमा किये हुए 3 साल बीत गये, लेकिन राज्य के किसानों को इसका लाभ नहीं मिला. 482 करोड़ रुपये बीमा कंपनियों को दिया गया. जिसके बदले किसानों को मात्र 79 करोड़ रुपये मिले. राज्य में फसल बीमा के लिए बीमा कंपनियों ने मुंह मोड़ रखा है. इस कारण अब राज्य सरकार फसलों के नुकसान होने पर किसानों को सीधा मुआवजा देगी. इस दौरान जैविक खेती को बढ़ावा देने पर भी जोर दिया गया.

संस्था के ईडी मुरारी मोहन चौधरी ने बताया कि योजना के तहत अबतक 39 सिंचाई कूप, दो चेकडैम, 37 तालाब का निर्माण किया जा चुका है. किसानों को 28 लिफ्ट सिंचाई सुविधा, 79 पंप सेट उपलब्ध कराया गया है. 1147 एकड़ भूमि को कृषि योग्य बनाया गया है. इसके अलावा भी कई कार्य किये गये हैं.

समारोह में कृषि से संबंधित कई स्टाॅल भी लगाये गये. मौके पर जयंतो चौधरी, अजय कुमार दुबे, अमित कुमार महतो, अमित शेखर, विकास गुप्ता, कांग्रेस जिलाध्यक्ष रामकृष्ण चौधरी, पूर्व विधायक कालीचरण मुंडा, नईमुद्दीन खां सहित अन्य उपस्थित थे.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें