1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. khunti
  5. jharkhand news director pervez arrested for molesting nursing students in the name of stamina test in khunti action intensified following instructions from health minister banna gupta grj

Jharkhand News : सहनशक्ति टेस्ट के नाम पर नर्सिंग की छात्राओं से छेड़खानी करने का आरोपी निदेशक परवेज गिरफ्तार, स्वास्थ्य मंत्री के निर्देश के बाद हुई त्वरित कार्रवाई

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
Jharkhand News : सहनशक्ति टेस्ट के नाम पर छात्राओं से छेड़खानी का आरोपी परवेज गिरफ्तार
Jharkhand News : सहनशक्ति टेस्ट के नाम पर छात्राओं से छेड़खानी का आरोपी परवेज गिरफ्तार
प्रभात खबर

Jharkhand News, Khunti News, खूंटी न्यूज : झारखंड के खूंटी जिले में नर्सिंग इंस्टीट्यूट की छात्राओं के साथ छेड़छाड़ करने के आरोपी इंस्टीट्यूट के निदेशक बबलू उर्फ परवेज को शनिवार की रात नौ बजे खूंटी पुलिस ने पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया. जानकारी के अनुसार शनिवार को ही स्वास्थ्य मंत्री के आदेश के बाद खूंटी के तिरला स्थित होरा एनजीओ के नर्सिंग इंस्टीट्यूट की छात्राओं के साथ छेड़छाड़ मामले की जांच शुरू की गयी थी. तीन सदस्यीय जांच टीम में बीडीओ सविता सिंह, खूंटी थाना प्रभारी दुलारमनी टुडू और डीपीएम कानन बाला तिर्की शामिल थीं. उन्होंने छात्राओं से पूछताछ की. इनमें कई छात्राओं ने निदेशक बबलू द्वारा छेड़छाड़ किये जाने की बात कही. नर्सिंग की छात्राओं ने बताया कि शिक्षिकाओं के अनुपस्थित रहने पर बबलू उर्फ परवेज आलम क्लास लेता था. एक-एक छात्रा को अलग कमरे में बुलाकर सहनशक्ति टेस्ट के नाम पर गलत हरकत करता था.

होरा संस्था की सचिव मरियम आइंद और शिक्षिका मीनाक्षी तोपनो से भी पूछताछ की गयी. रात नौ बजे खूंटी पुलिस ने आरोपी बबलू खान उर्फ परवेज को पूछताछ के लिए बुलाया. इसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया. बबलू उर्फ परवेज रांची के अरगोड़ा थाना क्षेत्र के कडरू का रहनेवाला है. बीडीओ सविता सिंह ने जांच के बाद शनिवार शाम खूंटी महिला थाना में बबलू के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करायी थी. इस संबंध में प्रभात खबर ने 13 मार्च के अंक में प्रमुखता से खबर प्रकाशित की थी. इस पर स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने संज्ञान लेकर खूंटी के डीसी-एसपी को जांच करने का आदेश दिया था. बता दें कि सामाजिक कार्यकर्ता लक्ष्मी बाखला ने मामले में राज्यपाल व खूंटी एसडीओ से शिकायत की थी.

जांच टीम का नेतृत्व कर रहीं बीडीओ सविता सिंह ने कहा कि शुरू में लड़कियां कुछ भी बताने से डर रही थीं. उन्हें धमकाया गया था, जिससे वह दबाव में थीं. उन्होंने कहा कि कुछ लड़कियों को विश्वास में लिया गया, तब उन्होंने स्वीकारा कि बबलू सर ने उनके साथ गलत हरकत की थी. बीडीओ ने बताया कि कई छात्राएं शनिवार को इंस्टीट्यूट नहीं आयी थीं. शुरुआती जांच में लगभग आठ-नौ बच्चियों के साथ ऐसी घटना होने की बात सामने आयी है. यह संख्या अधिक भी हो सकती है.

नर्सिंग की छात्राओं ने जांच कमेटी को बताया कि इंस्टीट्यूट की शिक्षिकाओं के अनुपस्थित रहने पर बबलू उर्फ परवेज आलम क्लास लेता था. एक-एक छात्रा को अलग कमरे में बुलाकर सहनशक्ति टेस्ट के नाम पर गलत हरकत करता था. बीडीओ ने बताया कि अब तक जो जानकारी मिली है, उसके अनुसार नर्सिंग में सहनशक्ति टेस्ट जैसा कोई टेस्ट नहीं होता है. यह जांच का विषय है. लड़कियों को कमरे में बंद करके अलग से ऐसा करना गलत है. नर्सिंग की छात्राओं के साथ छेड़छाड़ की घटना छह मार्च 2021 की है. जानकारी मिलने पर संस्था की सचिव मरियम आइंद ने आरोपी बबलू उर्फ परवेज आलम को आठ मार्च तक के लिए सस्पेंड करने की बात कही है. घटना के बाद से आरोपी बबलू संस्था नहीं आया है. आरोपी बबलू उर्फ परवेज आलम होरा संस्था में कोषाध्यक्ष के पद पर है.

होरा संस्था की शुरुआत वर्ष 2006 में हुई थी. संस्था पहले कृषि और ट्रैफिकिंग के क्षेत्र में काम कर रही थी. जनवरी 2020 से नर्सिंग की पढ़ाई यहां शुरू की गयी थी. पूर्व में संस्था अनिगड़ा में संचालित थी, जबकि सितंबर 2020 को तिरला में इसे स्थानांतरित किया गया. नर्सिंग में फिलहाल 60 छात्राएं हैं. वह संस्था की सचिव मरियम आइंद का पति भी है.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें