1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. hemant governments big decision dhanbad judge uttam anands death was an accident or a well planned conspiracy cbi will investigate vwt

धनबाद के जज उत्तम आनंद की हादसे में हुई मौत या साजिश ? CBI करेगी जांच, सीएम हेमंत सोरेन ने दिए आदेश

धनबाद के सेशन जज-8 उत्तम आनंद की अभी हाल ही में एक टेंपो द्वारा पीछे से टक्कर मारने के बाद हुई मौत के मामले में झारखंड की हेमंत सोरेन सरकार ने बड़ा कदम उठाते हुए कड़ा फैसला किया है.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
मुख्यमंत्री Hemant Soren 
से दिवंगत न्‍यायाधीश उत्तम आनंद के परिजनों ने मुलाकात की
मुख्यमंत्री Hemant Soren से दिवंगत न्‍यायाधीश उत्तम आनंद के परिजनों ने मुलाकात की
twitter

रांची : धनबाद के सेशन जज-8 उत्तम आनंद की अभी हाल ही में एक टेंपो द्वारा पीछे से टक्कर मारने के बाद हुई मौत के मामले में झारखंड की हेमंत सोरेन सरकार ने बड़ा कदम उठाते हुए कड़ा फैसला किया है. धनबाद के सेशन जज-8 उत्तम आनंद की मौत हादसा या फिर सोची समझी साजिश? अब इन पहलुओं पर केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो यानी सीबीआई जांच करेगी. शनिवार को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने इस मामले की जांच सीबीआई से कराने का आदेश दे दिया है.

बता दें कि 28 जुलाई 2021 की सुबह धनबाद के जिला एवं सत्र न्यायाधीश (सेशन जज)-8 उत्तम आनंद मार्निंग वॉक के लिए निकले थे. मार्निंग वॉक करने के दौरान वे जैसे ही रणधीर वर्मा चौक के पास पहुंचे पीछे से आने वाले एक ऑटो रिक्शा ने टक्कर मार दी. हालांकि, इस दुर्घटना की सूचना मिलने के बाद उन्हें अस्पताल में इलाज के लिए दाखिल कराया गया, लेकिन तब तक डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. अफरा-तफरी धनबाद पुलिस ने त्विरत कार्रवाई करते हुए घटना में इस्तेमाल किए गए टैंपो को जब्त करने के बाद उसके ड्राइवर को गिरफ्तार कर लिया था.

मुख्यमंत्री की पहल पर मामले के शीघ्रातिशीघ्र अनुसंधान पूरा करने के साथ ही दोषियों की गिरफ्तारी के लिए एसआईटी का गठन कर दिया गया. हालांकि, झारखंड की हेमंत सरकार की ओर से की गई कार्रवाई पर जज उत्तम आनंद के परिजनों ने संतोष जाहिर करते हुए आभार व्यक्त किया था.

दुर्घटना के बाद मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने जज उत्तम आनंद के परिजनों से एक दिन पहले ही मुलाकात की थी. उन्होंने इस मुलाकात के दौरान दुख व्यक्त करने के साथ ही जांच में गंभीरता बरतने का भरोसा दिया था. उन्होंने कहा था कि इस दुख की घड़ी में झारखंड सरकार उनके साथ है. अब, जज उत्तम आनंद के परिजनों को न्याय दिलाने के लिए झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने मामले की जांच सीबीआई से कराने की अनुशंसा कर दी है.

Posted by : Vishwat Sen

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें