1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. hazaribagh
  5. vegetables in the fields submerged in water due to cyclonic storm yaas rain vegetables worth rs 32 lakhs were ruined at barkagaon in hazaribagh of jharkhand grj

चक्रवाती तूफान Yaas की बारिश से खेतों में लगी सब्जियां पानी में डूबीं, हजारीबाग के बड़कागांव में 32 लाख की सब्जियां हुईं बर्बाद

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
पानी में डूबी सब्जियां हुईं बर्बाद
पानी में डूबी सब्जियां हुईं बर्बाद
प्रभात खबर

Jharkhand News, हजारीबाग न्यूज (संजय सागर) : झारखंड के हजारीबाग जिले के बड़कागांव प्रखंड तथा आसपास के क्षेत्रों में चक्रवाती तूफान यास (Yaas Cyclone) ने जनजीवन को अस्त-व्यस्त कर दिया. चक्रवाती तूफान यास का असर 25 जून से ही दिखने लगा था. यहां 3 दिनों तक बारिश होती रही. 26 व 27 जून को तेज हवा के साथ जोरदार बारिश होती रही. इससे खेतों में लगी सब्जियां पानी में डूब गयीं. इससे करीब 32 लाख रुपये की सब्जियां बर्बाद हो गयीं.

हजारीबाग के कृषि प्रधान बड़कागांव प्रखंड में 48 घंटों से अधिक समय तक बारिश होने से खेतों में पानी भर जाने के कारण विभिन्न तरह की साग- सब्जियां बेकार हो गयीं. जिससे किसानों को लाखों रुपए का नुकसान हुआ है. कांड़तरी निवासी धर्मनाथ कुमार का कहना है कि हम किसान कर्ज लेकर तरबूज, टमाटर, मिर्च, करेला, कद्दू, कोहड़ा, झिंगी की खेती किये हैं, पर चक्रवाती की बारिश ने सब सब्जियों को बर्बाद कर दिया. बड़कागांव की पश्चिमी पंचायत के मुखिया अनीता देवी एवं ज्ञानचंद कुमार उर्फ ज्ञानी ने बताया कि बड़कागांव प्रखंड में लगभग 10 लाख के तरबूज, 10 लाख के टमाटर बेकार हो गए. वहीं 50,000 से लेकर 100000 के झिंगी, 5 लाख का कद्दू कोहड़ा, 5 लाख की बोदी व खीरा एवं 25 हजार की मिर्च का नुकसान हुआ.

हजारीबाग जिले के बड़कागांव प्रखंड के बड़कागांव पश्चिमी, बड़कागांव पूर्वी पंचायत, कांड़तरी, मिर्जापुर, सांढ़, बिश्रामपुर, गंगादोहर, तलाशवार, आंगो, नापोकला, बादम, बाबूपारा, हरली, गोंदल पुरा, महुगाई कला, अंबाजीत चंदोल, सिंदवारी, चुरचू, सोनबरसा के सैकड़ों एकड़ में लगी विभिन्न तरह की सब्जियां बेकार हो गयीं.

चक्रवाती तूफान यास के कारण हुई जोरदार बारिश से कई लोगों के घरों में पानी घुसा. बड़कागांव हजारीबाग रोड स्थित प्रेम नगर, रेंज ऑफिस, बड़कागांव अंबेडकर चौक, मुख्य चौक व दैनिक बाजार, अंबेडकर मोहल्ला स्थित लखन लाल महतो के घर से लेकर गणेश भुइयां के घर तक, भगवान बागी में मोहम्मद परवेज के घर से लेकर लॉकरा की चिरैया नदी मोड़ तक नालियां नहीं रहने के कारण बारिश का पानी सड़कों पर बहता रहा.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें