1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. hazaribagh
  5. ups thug mohammad shafiq arrested in hazaribagh jharkhand was cheating as a son in the form of a yogi caught in this way grj

यूपी का ठग झारखंड के हजारीबाग में गिरफ्तार, योगी के वेश में पुत्र बनकर कर रहा था ठगी, गिरफ्त में ऐसे आया

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
यूपी का ठग हजारीबाग से गिरफ्तार
यूपी का ठग हजारीबाग से गिरफ्तार
प्रभात खबर

form of a yogi, thug, Hazaribagh News, इचाक (रामशरण शर्मा) : झारखंड (jharkhand) के हजारीबाग (Hazaribagh) जिले में योगी के वेश (form of a yogi) में पुत्र बनकर ठगी करने वाला यूपी का ठग मोहम्मद शफीक (Mohammad shafiq) पकड़ा गया. इचाक पुलिस (Ichak Police) मामला दर्ज कर कार्रवाई कर रही है. हजारीबाग जिले के इचाक थाना क्षेत्र के झरपो गांव निवासी कालेश्वर मिश्रा ने इस संबंध में इचाक थाना में आवेदन दिया था. इसे गंभीरता से लेते हुए इचाक पुलिस युवक को गिरफ्तार कर लिया. गिरफ्तार युवक का नाम मो शफीक अहमद है. वह उत्तर प्रदेश के गोंडा लालपुर के बिशनपुर के टिकरिया का रहने वाला है.

झरपो गांव निवासी कालेश्वर मिश्र ने बताया कि उनका पुत्र सुबोध पिछले 17 साल से लापता है. जिसकी तलाश परिजन वर्षों से कर रहे हैं. अक्टूबर 2020 में यूपी का एक युवक शफीक साधु के वेश में कालेश्वर मिश्रा की ससुराल चैथी चौपारण पहुंचा और वहां सारंगी बजा कर रिश्तेदार बताने लगा और गुदड़ी की मांग करने लगा. परिवार वाले योगी युवक की बातों में आकर इसकी सूचना झारपो के कालेश्वर मिश्रा को दी. इसके बाद दोनों पति-पत्नी वहां पहुंचे तो उसकी बातों में आकर योगी को वे अपना बेटा समझ बैठे एवं उसे अपने घर झरपो ले आये.

योगी की बढ़ी हुई दाढ़ी-बाल को कटवाया एवं पूजा-पाठ करवाया. कालेश्वर मिश्रा ने बताया कि वह तीन दिनों तक झरपो में रहा, फिर अमनारी जाने की बात कह कर घर से मोटरसाइकिल लेकर निकल गया और घर से फरार हो गया. शाम को उक्त युवक ने कालेश्वर मिश्रा को फोन कर बताया कि आपकी मोटरसाइकिल बरकट्ठा में है और वह गोरखनाथ गुरु को सिद्धि देने जा रहा है. यह जानकर कालेश्वर मिश्रा बरकट्ठा गया और वहां से मोटरसाइकिल को बरामद किया. इस बीच युवक कालेशवर मिश्रा की पत्नी नगीना देवी से बातचीत करता रहा.

दो जनवरी को वह युवक फिर कालेश्वर मिश्रा की बेटी के घर चतरा जिले के पुंडरा गांव पहुंचा और वहां भंडारा एवं सिद्धि के नाम पर 33 हजार रुपये की मांग करने लगा. इसकी सूचना बेटी ने अपने पिता कालेश्वर मिश्रा को दी. कालेश्वर मिश्रा चौपारण पहुंचे एवं उसे घर झरपो लाकर पूछताछ करने लगे. इस दौरान युवक की असलियत सामने आ गई और अपने आप को शफीक अहमद (पिता का नाम मुन्ना) बताया. वह उत्तर प्रदेश का रहने वाला है. इसके बाद पुलिस को सूचना देकर सुपुर्द कर दिया गया.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें