1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. hazaribagh
  5. sunil kumar singh of hazaribagh along with rajat singhania of gujarat created highlight make in india app got patent from usa know how beneficial this app will be grj

हजारीबाग के सुनील ने गुजरात के रजत सिंघानिया के साथ मिलकर बनाया हाईलाइट मेक इन इंडिया एप, यूएसए से मिला पेटेंट, जानिए कितना फायदेमंद होगा ये एप

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
सुनील कुमार सिंह
सुनील कुमार सिंह
फाइल फोटो

Jharkhand News, हजारीबाग न्यूज (अजय ठाकुर) : झारखंड के हजारीबाग जिले के चौपारण निवासी सुनील कुमार सिंह ने गुजरात के रजत सिंघानिया टीम के साथ मिलकर हाईलाइट एप तैयार किया है. जिसे यूएसए से पेटेंट मिल गया है. श्री सिंह द्वारा तैयार एप भारत के लिए एक बड़ी उपलब्धि मानी जा रही है. सुनील ने बताया कि जैसे ही इस एप को पेटेंट मिला, बहुत सारी वेंचर कैपिटल फंड का ऑफर मिलने लगा है. बहुत जल्द ही एप के लिए 4 मिलियन डॉलर (आईएनआर 34.6 करोड़) स्टेज 1 सीड कैपिटल मिलने का मार्ग प्रशस्त हो गया.

यह एप विभिन्न प्लेटफॉर्मों में सहयोग, डेटा प्रबंधन, भंडारण एवं सूचना अनुकूलन के लिए एक क्लिक समाधान है. इसकी सबसे बड़ी विशेषता सुरक्षित संचार, नोट बनाने के विकल्प एवं एक ही स्थान पर साझा करना है. यह एप मीटिंग, वीडियो कॉन्फ्रेंस एवं चैट को व्यवस्थित और संरक्षित करता है. यह एप शहरी क्षेत्र ही नहीं बल्कि ग्रामीण परिवेश के लोगों के लिए भी मील का पत्थर साबित होगा.

इसका विभिन्न मॉडल्स जैसे शिक्षा, रोजगार, स्वास्थ्य, कृषि के क्षेत्र में अपने आप में एक अनूठा प्रयोग है. एप में जुड़कर हर तबके के लोग लाभ उठाएंगे. इस एप के उपयोग करने वाले कम समय में ज्यादा काम कर सकेंगे. आने वाले दिनों में यह एप सभी मोबाइल सेटों पर उपलब्ध होगा, ताकि सभी लोग इसका फायदा उठा सकें. उन्होंने बताया कि भारत के सभी सीएससी सेंटर्स के मध्यम से सदूर ग्रामीण इलाको में इसका प्रचार प्रसार किया जायेगा.

किसानों को कृषि से संबंधित उचित मार्गदर्शन एवं एक बना बनाया बाजार मिल जाएगा, जहां किसान अपने द्वारा उपजायी फसल को उचित मूल्य पर बेच सकेंगे. इस एप्प के माध्यम से शिक्षा प्राप्त करने वाले इच्छुक लोगों को पार्ट टाइम जॉब भी मिलेगा. वहीं स्वास्थ्य के क्षेत्र में घर बैठे बेहतर इलाज अलग अलग विभाग के विशेषज्ञों द्वारा सुदूरवर्ती लोग भी करा सकेंगे. शिक्षा के साथ-साथ लोग लघु उद्योग स्थापित कर सकते हैं. एप के माध्यम से सरकार की सभी जन कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी घर बैठे प्राप्त कर सकेंगे. इस एप को तैयार करने में करीब तीन वर्ष पूरी टीम के साथ उन्होंने दिया है.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें