1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. hazaribagh
  5. national shooter sandeep kumar more than 10 gold and silver medal has a shattered dream a loan taken from the bank for a trial no money to repay the loan now smj

10 से अधिक गोल्ड जीतने वाले नेशनल शूटर संदीप का बिखर रहा सपना, ट्रायल के लिए बैंक से लिया लोन, अब कर्ज चुकाने के नहीं हैं पैसे

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : अपने मेडल मेडल के साथ नेशनल शूटर संदीप कुमार. सरकारी उदासीनता के बावजूद कर रहे हैं ट्रेनिंग.
Jharkhand news : अपने मेडल मेडल के साथ नेशनल शूटर संदीप कुमार. सरकारी उदासीनता के बावजूद कर रहे हैं ट्रेनिंग.
प्रभात खबर.

Jharkhnad news, Hazaribagh news : हजारीबाग (जमालउद्दीन) : नेशनल शूटर (National shooter) संदीप कुमार ने एक लाख 80 हजार रूपये बैंक से ऋण लेकर पिस्टल खरीदा है. प्रतिमाह 8500 रुपये किस्त देने के लिए उसके पास पैसा नहीं है. यह पिस्टल अंतरराष्ट्रीय शूटिंग ट्रायल प्रतियोगिता (International shooting trial competition) में भाग लेने के लिए खरीदा था. 10 से अधिक गोल्ड मेडल जीतने के बाद झारखंड सरकार से कोई सहायता नहीं मिलने से इसकी आर्थिक स्थिति काफी खराब हो गयी है. उम्र बढ़ने से जहां चिंतित हैं, वहीं जिला से लेकर नेशनल लेबल पर गोल्ड एवं सिल्वर मेडल जीतने के बाद भी कोई नौकरी, रोजगार एवं प्रोत्साहन नहीं मिलने से निराश हैं.

शूटिंग में उपलब्धि

संदीप कुमार प्री नेशनल शूटिंग प्रतियोगिता (Pre national shooting competition) में गोल्ड एवं सिल्वर मेडल जीते हैं. इसके अलावा ईस्ट जोन शूटिंग प्रतियोगिता (East Zone Shooting Competition) में 3 गोल्ड मेडल, ऑल इंडिया इंटर स्कूल (All India Inter School Competition) में एक गोल्ड मेडल और 2016 से 2018 लगातार 3 साल तक झारखंड स्टेट शूटिंग प्रतियोगिता (Jharkhand State Shooting Competition) में गोल्ड मेडल प्राप्त किया है. इसके अलावा चेन्नई समेत देश के महानगरों में आयोजित अलग- अलग प्रतियोगिताओं में भी मेडल प्राप्त करने में सफल रहे हैं. 10 मीटर एयर पिस्टल (10 Meter Air Pistol championship) में 400 में 374 अंक तक प्राप्त किया है.

नेशनल शूटर संदीप कुमार का परिचय

हजारीबाग जिले के कटकमसांडी प्रखंड स्थित असधीर लुपूंग गांव निवासी हैं संदीप कुमार. इनके पिता धनेश्वर रविदास ट्रक चालक हैं. माता देवकी देवी गृहणी हैं. परिवार में आकाश रविदास इंटरनेशनल शूटर राइफल समेत दो और भाई हैं.

एशियार्ड एवं ओलंपिक में जाने का संपना है : संदीप कुमार

नेशनल शूटर संदीप कुमार का सपना है कि एशियार्ड और ओलंपिक शूटिंग प्रतियोगिता तक पहुंचे. इससे पहले अभी तक की उपलब्धियों पर आर्मी, झारखंड पुलिस या किसी विभाग में नौकरी मिले. जिससे वे आगे और बेहतर प्रदर्शन के लिए अभ्यास करते रहे. साथ ही खेल मैदान से जुडाव बना रहे. संदीप ने कहा कि झारखंड सरकार डे बॉडिंग शूटिंग प्रशिक्षण केंद्र आवासीय खेलकर संचालित करने की जवाबदेही दे, ताकि युवा पीढ़ी को आगे बढ़ा सके. संदीप को इस बात की पीड़ा है कि वर्ष 2018 और 2019 में ऑल इंडिया ट्रायल में बेहतर प्रदर्शन करने के बाद भी झारखंड सरकार से उन्हें अभी तक कुछ नहीं मिला है.

हजारीबाग जिला प्रशासन एवं खेल विभाग ने भी उन्हें कोई प्रोत्साहित नहीं किया है. अभी तक जो भी प्रशिक्षण मिला है वह रांची के खेलगांव में मिला है. रांची में भाड़े के घर में रहकर यह सब हासिल किया है. संदीप ने बताया कि झारखंड सरकार के खेल मंत्री, सचिव, निदेशक से कई बार मिला कि इतनी प्रोत्साहन राशि उपलब्ध करायें कि जो पिस्टल खरीदा हूं उसका कर्ज चुका सकूं. लेकिन, कहीं से कोई सहायता नहीं मिला है. इसके बावजूद हिम्मत नहीं हारा हूं. युवापीढ़ी को प्रेरणा देने के लिए अभ्यास जारी रखेगा.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें