1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. hazaribagh
  5. national player pratibha tigga desperate of jabeling throw due to lack of government help career stopped after becoming senior player smj

सरकारी मदद नहीं मिलने से जैवलिन थ्रो की नेशनल प्लेयर प्रतिभा तिग्गा मायूस, सीनियर खिलाड़ी बनते ही ठहर गया करियर

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : ट्रॉफी व मेरिट सर्टिफिकेट के साथ जैवलिन थ्रो की नेशनल प्लेयर प्रतिभा तिग्गा.
Jharkhand news : ट्रॉफी व मेरिट सर्टिफिकेट के साथ जैवलिन थ्रो की नेशनल प्लेयर प्रतिभा तिग्गा.
प्रभात खबर.

Jharkhand news, Hazaribagh news : हजारीबाग (जमालउद्दीन) : हजारीबाग की प्रतिभा तिग्गा जैवलिन थ्रो में गोल्ड मेडल हासिल करने के बाद भी खेल के मैदान से दूर है. खेल से करियर बनाने का उसका सपना अब बिखर चुका है. होनहार प्रतिभा जूनियर एथलीट के रूप में राष्ट्रीय स्तर पर कई मेडल हासिल कर हजारीबाग का नाम रोशन कर चुकी है. 11वीं नेशनल जूनियर एथलेटिक्स मीट 2014 में गोल्ड मेडल समेत कई उपलब्धियां इस खिलाड़ी ने हासिल की है, लेकिन सरकार की ओर से सीनियर खिलाड़ी बनने के बाद भी किसी तरह की सुविधा नहीं मिल रही है.

जैवलिन थ्रो में मिली उपलब्धि

प्रतिभा तिग्गा का खेल का सफर संत कोलंबा कॉलेजिएट मिशन स्कूल, हजारीबाग कक्षा 8 में पढ़ाई के दौरान शुरू हुआ. जिला एथलेटिक्स टीम में सबसे पहले चयन होने के बाद जैवलिन थ्रो में प्रशिक्षण का अवसर मिला. हजारीबाग आवासीय प्रशिक्षण एथलेटिक्स छात्रावास में रहकर इस खिलाड़ी ने जैवलिन थ्रो की तैयारी शुरू की. 2013 में 25वां ईस्ट जोन जूनियर एथलेटिक्स चैंपियनशिप (East Zone Junior Athletics Championships), 2014 में 11वीं नेशनल इंटर डिस्ट्रिक जूनियर एथलेटिक्स मीट (11th National Inter District Junior Athletics Meet), 26वां ईस्ट जोन जूनियर एथलेटिक्स चैंपियनशिप और स्कूल गेम फेडरेशन इंडिया (School Game Federation India) द्वारा आयोजित 60वां नेशनल स्कूल गेम 2014-15 में इस खिलाड़ी ने गोल्ड मेडल प्राप्त किया. नेशनल गेम केरल-2015 एथलेटिक्स फेडरेशन अॉफ इंडिया, 25वां इंटर नेशनल जोनल जूनियर चैंपियनशिप (25th Inter National Zonal Junior Championship), 29वां नेशनल जूनियर एथलेटिक्स चैंपियनशिप (29th National Junior Athletics Championship) समेत कई प्रतियोगिता में मेडल प्राप्त कर झारखंड का नाम रोशन किया.

करियर में लग गया बैरियर : प्रतिभा

प्रतिभा तिग्गा ने कहा कि जूनियर नेशनल में जैवलिन थ्रो में इन्होंने गोल्ड मेडल प्राप्त किया. इस समय तक हजारीबाग प्रशिक्षक आवासीय छात्रावास में रहकर प्रशिक्षण प्राप्त करने का अवसर मिला. प्रशिक्षक मो शाबीर, योगेश एवं कई प्रशिक्षकों का मार्गदर्शन रहा, लेकिन सीनियर खिलाड़ी बनते ही सारे दरवाजे बंद हो गये. झारखंड सरकार की ओर से सीनियर नेशनल खेलने के लिए कोई अवसर उपलब्ध नहीं कराया गया. झारखंड सरकार का एक्सलेंस सेंटर रांची (Excellence Center Ranchi) में भी प्रशिक्षण की कोई व्यवस्था नहीं है. प्रतिभा ने सरकार से मांग की है कि जूनियर गोल्ड मेडलिस्ट खिलाड़ियों को खेलने के लिए व्यवस्था उपलब्ध हो. इसके अलावा हम जैसे खिलाड़ियों को विभिन्न संस्थानों में कोच बनाया जाये, ताकि युवा खिलाड़ियों को मार्गदर्शन मिल सके.

प्रतिभा तिग्गा का परिचय

महुआटांड़ निवासी पिता भलेरियानुज्ञस तिग्गा और माता मरियम बयातिस कुजूर की बेटी है प्रतिभा तिग्गा. इसके परिवार में 2 भाई और 2 बहन है. प्रतिभा ने मैट्रिक की पढ़ाई वर्ष 2017 में संत कोलंबा कॉलेजिएट स्कूल से और इंटर की पढ़ाई अन्नदा कॉलेज हजारीबाग से की. जेबलिंग थ्रो का प्रशिक्षण हजारीबाग कर्जन ग्राउंड खेल छात्रावास में रहकर किया.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें