1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. hazaribagh
  5. jharkhand news crop worth lakhs destroyed in barkagaon at hazaribagh due to cyclonic storm gulab tears of farmers spilled smj

Jharkhand News: चक्रवाती तूफान गुलाब से हजारीबाग के बड़कागांव में लाखों की फसल बर्बाद, किसानों के छलके आंसू

चक्रवाती तूफान गुलाब का असर हजारीबाग के बड़कागांव क्षेत्र में देखने को मिल रही है. इस क्षेत्र के खेतों में पानी भर जाने से खड़ी फसलें बर्बाद हो गयी है. इससे किसानों को लाखों का नुकसान हो गया. तैयार सब्जियों के बर्बाद हो जाने से किसान मुआवजे की मांग कर रहे हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
हजारीबाग स्थित बड़कागांव के कांड़तरी में मिर्च के खेत में भरा पानी. खड़ी फसलें हुई बर्बाद.
हजारीबाग स्थित बड़कागांव के कांड़तरी में मिर्च के खेत में भरा पानी. खड़ी फसलें हुई बर्बाद.
प्रभात खबर.

Jharkhand News (संजय सागर, बड़कागांव, हजारीबाग) : झारखंड के हजारीबाग जिला अंतर्गत बड़कागांव प्रखंड में चक्रवाती तूफान 'गुलाब' ने किसानों की कमर तोड़ दी है. चक्रवात के कारण बारिश का पानी खेतों में भर जाने के कारण लाखों की खड़ी फसलों का नुकसान हुआ है. इससे किसान काफी परेशान दिख रहे हैं.

बड़कागांव के कांड़तरी निवासी धर्मनाथ महतो ने बताया कि विगत दिन चक्रवाती तूफान गुलाब के आने से खेतों में पानी भर गया. आज तक पानी नहीं सुखा है. इस कारण करीब 20-25 एकड़ में लगाये गये मिर्च, टमाटर के पौधे एवं बोए गये आलू का बीज सड़ गया.

बड़कागांव में करीब 20 एकड़ जमीन में किसानों ने बरसाती आलू लगाये थे, लेकिन 2 दिन पहले बारिश ने किसानों को उम्मीद में पानी फेर दिया. कांड़तरी के किसान अर्जुन कुमार, रामविलास महतो, चंद्रदेव महतो, डोमन महतो, धर्मनाथ कुमार, लक्ष्मण महतो, मुरली महतो, रघुनंदन महतो, राजदेव महतो, विनोद महतो, सुजीत महतो, सिकंदर महतो और घनश्याम महतो ने बताया कि इन सभी किसानों को बंधागोभी, फूल गोभी, मिर्च, टमाटर, बैंगन के खेतों में पानी भर जाने के कारण खराब हो गया है.

किसानों ने बताया कि दुर्गा पूजा में बिक्री करने के लिए खेत में फसल लगाया गया था, लेकिन अब पूंजी भी नहीं लौट पाया. सिकरी निवासी शिव शंकर प्रसाद गुप्ता ने बताया कि 20 कट्ठा में लगाया गया उरीद एवं बरैय दाल का फसल बर्बाद हो गया. किसानों ने कहा कि इस तरह से पूरे बड़कागांव प्रखंड को अगर देखा जाये तो 30- 35 लाख रुपये से अधिक के फसलों का नुकसान हुआ है. खेती एवं फसलों की स्थिति देखकर किसानों का आंखों में आंसू छलक रहे हैं. सरजू महतो कहना कि किसान अब ऋण में दब गये .

पिछले माह हुए नुकसान का मुआवजा नहीं मिला

धर्मनाथ महतो ने बताया कि पिछले महीने ताउते तूफान के कारण फसल बर्बाद हो गये थे. पीड़ित किसानों ने मुआवजा के लिए ब्लॉक में आवेदन भी दिया, लेकिन आज तक मुआवजा नहीं मिला है. किसानों ने फसलों की हुई नुकसान की क्षतिपूर्ति के लिए मुआवजा की मांग की है.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें