1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. hazaribagh
  5. for 3 months post of executive engineer in reo of hazaribagh is vacant smj

3 महीने से हजारीबाग के REO में एग्जीक्यूटिव इंजीनियर का पोस्ट है खाली, अरबों की योजनाओं का संचालन कार्य ठप

हजारीबाग ग्रामीण कार्य विभाग (REO) में 3 महीने से एग्जीक्यूटिव इंजीनियर का पोस्ट खाली है. अधिकारी नहीं रहने से ऑफिस का कामकाज भी प्रभावित है. इसके कारण अरबों रुपये की योजनाओं का संचालन कार्य ठप पड़ गया है.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Jharkhand news: हजारीबाग के ग्रामीण विकास विभाग (REO) के एग्जीक्यूटिव इंजीनियर का पोस्ट खाली.
Jharkhand news: हजारीबाग के ग्रामीण विकास विभाग (REO) के एग्जीक्यूटिव इंजीनियर का पोस्ट खाली.
प्रभात खबर.

Jharkhand news: हजारीबाग शहर के इंद्रपुरी चौक स्थित ग्रामीण कार्य विभाग (REO) में 3 महीने से एग्जीक्यूटिव इंजीनियर का पोस्ट खाली है. अधिकारी नहीं रहने से ऑफिस का कामकाज प्रभावित है. अरबों रुपये की लागत से प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना एवं राज्य संपोषित योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्र में सड़कों की मरम्मत व अन्य दूसरे विकास कार्य का देख-रेख ठप पड़ा है. वेतन नहीं मिलने से इनलोगों को काफी परेशानी उठानी पड़ रही है.

ठेकेदारों का बकाया बिल नहीं मिलने से वे परेशान हैं. क्षेत्र में संचालित योजनाओं की प्रतिमाह होने वाली समीक्षा कार्य बंद है. नई योजनाओं की स्वीकृति नहीं मिली है. वहीं, 39 अधिकारी एवं कर्मियों को दो महीने से वेतन नहीं मिला है.

इस संंबंध में ग्रामीण कार्य विभाग कार्य प्रमंडल, हजारीबाग के अधीक्षण अभियंता एके सिन्हा ने कहा कि मुख्य अभियंता, रांची एवं विभागीय सचिव को पत्र भेजकर स्थिति से अवगत कराया गया है. हजारीबाग बड़ा डिवीजन है. लगभग तीन महीने से एग्जीक्यूटिव इंजीनियर नहीं होने से विकास का कामकाज प्रभावित है.

मुख्य अभियंता, रांची व विभागीय सचिव को अवगत कराया गया है : एके सिन्हा

इस संंबंध में ग्रामीण कार्य विभाग कार्य प्रमंडल, हजारीबाग के अधीक्षण अभियंता एके सिन्हा ने कहा कि मुख्य अभियंता, रांची एवं विभागीय सचिव को पत्र भेजकर स्थिति से अवगत कराया गया है. हजारीबाग बड़ा डिवीजन है. लगभग तीन महीने से एग्जीक्यूटिव इंजीनियर नहीं होने से विकास का कामकाज प्रभावित है.

एक जूनियर इंजीनियर को पांच प्रभार

ग्रामीण विकास विशेष प्रमंडल में पदस्थापित एक जूनियर इंजीनियर को अपने कार्य के अलावा अलग से पांच प्रभार मिला है. इन्हें चुरचू एवं चौपारण प्रखंड का प्रभारी बनाया गया है. हजारीबाग मत्स्य एवं कल्याण विभाग के अलावा NRP डिवीजन में जूनियर इंजीनियर का कार्यभार सौंपा गया हैं. कई संवेदकों ने सवाल उठाया हैं कि जूनियर इंजीनियर समय पर नहीं मिलते हैं. संवेदकों का बिल समय पर नहीं बनने से भुगतान में विलंब हो रहा है.

रिपोर्ट: आरिफ, हजारीबाग.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें