1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. hazaribagh
  5. elephants continue to wreak havoc in keredari for 11 days somewhere targets are being made for houses and grains are destroyed at some places smj

केरेडारी में 11 दिनों से हाथियों का कहर जारी, कहीं घरों को बना रहे निशाना, तो कहीं अनाज को किया जा रहा बर्बाद

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : हजारीबाग जिला के घघरीदाग गांव में हाथियों के झुंड ने घर को किया क्षतिग्रस्त. पीड़ितों ने सुनायी आपबीती.
Jharkhand news : हजारीबाग जिला के घघरीदाग गांव में हाथियों के झुंड ने घर को किया क्षतिग्रस्त. पीड़ितों ने सुनायी आपबीती.
प्रभात खबर.

Jharkhand news, Hazaribahgh news, केरेड़ारी (हजारीबाग) : हजारीबाग जिला अंतर्गत केरेड़ारी थाना क्षेत्र के विभिन्न क्षेत्रों में हाथियों का कहर जारी है. जंगली हाथियों का उत्पात इस कदर बढ़ गयी है कि कहीं घरों को क्षतिग्रस्त किया जा रहा है, तो कहीं फसलों को नष्ट किया जा रहा है. शनिवार की शाम सलगा पंचायत स्थित घघरीदाग में 26 जंगली हाथियों के झुंड ने जमकर उत्पात मचाया.

घघरीदाग गांव में 26 हाथियों के झुंड ने डोमन महतो, निर्मल महतो, गुलाब महतो, धनेश्वर महतो के घर को पूरी तरह से क्षतिग्रस्त कर दिया. हाथियों ने घर में रखे अनाज को खा गया. वहीं, डोमन महतो के घर में बंधे 2 बकरी, 3 मुर्गा को भी हाथियों ने कुचल कर मार डाला. इसके अलावा एक एकड़ जमीन में लगी फसल जैसे- आलू व सरसों की फसल को हाथियों ने खाया भी और बर्बाद भी किया. हाथियों के उत्पात से घघरीदाग में लगभग 6 लाख रुपये के नुकसान की संभावना जतायी जा रही है.

भाग कर बचायें जान

गेरुवा जंगल में छुपे हाथियों का झुंड शनिवार की शाम घघरीदाग पहुंचा. डोमन महतो परिवार के साथ घर में थे. हाथी अचानक पहुंच कर घर में हमला कर दिया. घर गिरते ही डोमन महतो अपने परिवार के साथ घर छोड़ कर भागे. इनके निकलते ही पूरे घर को हाथियों ने गिरा दिया और घर में रखे चावल धान को खा गये.

जनप्रतिनिधि एवं प्रशासन हैं बेखबर

पिछले 11 दिनों से केरेड़ारी प्रखंड में जंगली हाथियों उत्पात मचा रखा है. प्रखंड के सलगा, पेटो, पांडू, केरेड़ारी, बेंगवरी में घूम- घूम कर हाथियों ने लाखों रुपये का नुकसान पहुचाएं, लेकिन आज तक सांसद, विधायक एवं अन्य जनप्रतिनिधियों समेत प्रशासनिक अधिकारियों ने इन ग्रामीणों की कभी सुध नहीं ली.

किसान तुलेश्वर महतो और सकेन्द्र महतो ने संयुक्त रूप से कहा कि हमारे जनप्रतिनिधि आराम से हैं और हम सब रात में मशाल लेकर रातजगी कर रहे हैं. इन्होंने कहा कि सांसद, विधायक एवं पुलिस प्रशासन, वन विभाग की कर्मियों से हाथियों द्वारा पहुचाएं गये नुकसान का मुआवजा देने एवं हाथियों को भगाने का मांग किये हैं.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें