1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. hazaribagh
  5. an accident occurred during the demolition of triveni sainik company of barkagaon workers went to pick coal smj

बड़कागांव के त्रिवेणी सैनिक कंपनी के मलबा गिराने के दौरान हादसा, कोयला चुनने गया मजदूर दबा

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
बड़कागांव के त्रिवेणी सैनिक की ओर से ओबी डंप करने के दौरान मजदूर दबा. ग्रामीणों ने निकाला बाहर.
बड़कागांव के त्रिवेणी सैनिक की ओर से ओबी डंप करने के दौरान मजदूर दबा. ग्रामीणों ने निकाला बाहर.
प्रभात खबर.

Jharkhand News, Hazaribagh News, बड़कागांव (हजारीबाग न्यूज) : NTPC की सहयोगी कंपनी त्रिवेणी सैनिक द्वारा ओबी गिराने के दौरान एक मजदूर कोयले में दबकर बुरी तरह घायल हो गया. घायल व्यक्ति की पहचान हजारीबाग जिला अंतर्गत बड़कागांव के गरीकलां निवासी निर्मल महतो के रूप में की गयी है. डाड़ी थाना प्रभारी मनीलाल सिंह ने बताया कि उक्त मजदूर को गंभीर चोट लगी है. इन्हें आरोग्य में भर्ती कराया गया है.

NTPC की सहयोगी कंपनी त्रिवेणी सैनिक द्वारा ओबी गिराने का काम सोनबरसा में धड़ल्ले से जारी था. मलबे गिराने के क्रम में कोयला चुनने गये मजदूर इस मलबे में दब गया. मजदूर के दबते ही इलाके में अफरा-तफरी मच गयी. जानकारी मिलते ही ग्रामीण मौके पर पहुंच कर मलबे में दबे मजदूर को बाहर निकाला.

बताया गया कि त्रिवेणी सैनिक कंपनी का ओबी डंप किया जा रहा था. इसी दौरान केरेडारी थाना क्षेत्र के गरीकलां निवासी निर्मल महतो कोयला चुनने के क्रम में ओबी के नीचे दब गया. निर्मल के मलबे में दबते ही अफरा-तफरी मच गयी. आनन- फानन में प्रशासन और ग्रामीणों के सहयोग से उक्त ओबी को हटाकर निर्मल महतो को बाहर निकाला गया. हालांकि श्री महतो ओबी में दबने के कारण बुरी तरह से घायल हो गया. कंपनी के सहयोग से बेहतर इलाज के लिए हजारीबाग भेज दिया गया.

इस संबंध में कंपनी के अधिकारियों से संपर्क साधने की कोशिश की गयी, तो उन्होंने फोन उठाना तक मुनासिब नहीं समझा. सूत्रों के अनुसार, किसी व्यक्ति द्वारा कंपनी अधिकारी से संपर्क साधने पर किसी भी व्यक्ति को कुछ भी बताने से इंकार कर दिया. यह भी कह दिया कि हमारे यहां किसी तरह की कोई घटना नहीं हुई है.

वहीं, इस संबंध में थाना प्रभारी मणिलाल सिंह ने बताया कि ग्रामीणों द्वारा कोयला चुनने का काम आये दिन होते रहता है. इस बीच होलपैक से ओबी डंप किया जा रहा था. इस दौरान चालक द्वारा नहीं देखे जाने के कारण पीछे चुन रहे निर्मल महतो मलबे में दब गया. इसकी जानकारी मिलते ही प्रशासन और ग्रामीणों को सूचना दी गयी जिसे त्वरित कार्रवाई करते हुए ओबी हटा कर उसे बाहर निकाला और इलाज के लिए हजारीबाग भेज दिया गया.

बता दें कि इस तरह की घटना आये दिन होते रहती है. जिसको लेकर कई लोगों को अपनी जान तक गंवानी पड़ी है. जिसमें ग्रामीणों व जनप्रतिनिधियों के पुरजोर मांग के बाद परिजनों को मुआवजा तक भी कंपनी देने को मजबूर हुई है, लेकिन लापरवाही इस कदर बढ़ती जा रही है कि वहां कंपनी द्वारा गिराने के क्रम में किसी व्यक्ति को गार्ड के रूप में भी नियुक्त नहीं किया जा सका और कंपनी अपना पल्ला झाड़ कर निकल जाती है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें