1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. godda
  5. jharkhand news 25 houses burnt to ashes by a stove in mehrma at godda desolate shelter smj

गोड्डा के मेहरमा में चूल्हे से उठी चिंगारी ने 25 घरों को किया राख, उजड़ा आशियाना

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
चूल्हे की चिंगारी से निकली आग ने सुडनी गांव के 25 घर को लिया अपनी चपेट में. लाखों की क्षति हुई.
चूल्हे की चिंगारी से निकली आग ने सुडनी गांव के 25 घर को लिया अपनी चपेट में. लाखों की क्षति हुई.
प्रभात खबर.

Jharkhand News (मेहरमा/गोड्डा) : गोड्डा जिला अंतर्गत मेहरमा प्रखंड के सुडनी गांव के मुस्लिम टोला में शनिवार के दोपहर करीब डेढ़ बजे रब्बानी मंसूर नामक व्यक्ति के घर के चूल्हे से उठी चिंगारी ने देखते ही देखते गांव के 25 घर को जला कर राख कर दिया. पछिया हवा के झोंके ने आग को सह दिया और तमाम कोशिशों के बावजूद आग की लपटों को रोक पाना संभव नहीं हो पाया. अगलगी में करीब 20 लाख रुपये की संपत्ति के नुकसान होने की संभावना बतायी जा रही है.

अगलगी के बाद राख में तब्दील हुए सुडनी गांव के 25 घर. पीड़ितों का रो-रोकर हुआ बुरा हाल.
अगलगी के बाद राख में तब्दील हुए सुडनी गांव के 25 घर. पीड़ितों का रो-रोकर हुआ बुरा हाल.
प्रभात खबर.

अगलगी में बर्तन, कागज, जमीन के कागजात, कपड़े, अनाज, फर्नीचर के साथ-साथ 30 हजार नगद तथा तीन खस्सी जल कर राख हो गया. वहीं, गांव में बारात की तैयारी में लगे टेंट समियाना के साथ-साथ खस्सी आदि के जलने से खैकू मंसूर नामक व्यक्ति पर विपत्ति का पहाड़ टूट गया है. खैकू मंसूर की बेटी की निकाह की तैयारी चल रही थी. शनिवार को बारात आना था. इधर, अगलगी की घटना के बाद आसपास गांव के सैकडों की संख्या में जुटे ग्रामीणों ने चापानल तथा कुएं से पानी भर कर आग पर काबू पाया. हालांकि, आग की लपटों के सामने पानी की बौछार काफी नहीं था. घटना के बाद जायजा लेने स्थानीय अंचल प्रशासन के साथ-साथ मेहरमा थाना प्रभारी भी पहुंचे. घटना की जानकारी पर महागामा विधायक दीपिका पांडेय सिंह पीडित ग्रामीणों के बीच पहुंच कर करीब दो घंटे तक उनकी समस्याओं को सुनी और तत्कालीन मुआवजा को लेकर कार्रवाई शुरू कर दी.

कैसे लगी आग

घटना के संबंध में बताया जाता है कि रब्बानी मंसूर के घर भोजन की व्यवस्था को लेकर चूल्हे जल रही थी. अचानक पछिया हवा का झोंका आया और चूल्हे की चिंगारी फूस के घर में पकड़ लिया और देखते ही देखते आग की लपटें तेज हो गयी. जब तक घर के लोग मदद की गुहार लगाते, तब तक आसपास के फूस के घरों में भी आग फैल गयी टा धू- धूकर करीब 25 घर जल कर राख हो गये. दोपहर डेढ़ बजे के करीब इस घटना के बाद मंसूर के साथ-साथ अन्य पीड़ित द्वारा शोर मचाने पर आसपास के करीब 10 गांव के लोग घर से बाल्टी- रस्सी लेकर पहुंचे. कुछ कुएं से तथा कुछ चापाकल से पानी भर कर आग की लपटों पर बौछार मारनी शुरू की. इसके बावजूद मुस्लिम टोले का एक भी घर नहीं बच पाया. हालांकि, ग्रामीणों की सूचना पर गोड्डा से ढाई घंटे के बाद दमकल की गाड़ियां सुडनी गांव पहुंची और बूझे हुए राख पर पानी डाल कर केवल ठंडा कर पाया.

अगलगी की घटना की जानकारी मिलते ही सुडनी गांव पहुंची महगामा विधायक दीपिका पांडेय सिंह.
अगलगी की घटना की जानकारी मिलते ही सुडनी गांव पहुंची महगामा विधायक दीपिका पांडेय सिंह.
प्रभात खबर.

अगलगी में जला इनका घर

मुस्लिम टोला के रब्बानी मंसूर के घर में पहले आग लगी और इसके बाद गांव के 25 घर जिसमें बुट्टन मंसूर, मुस्लिम मंसूर, सकरुद्दीन मंसूर, पचरुद्दीन मंसूर, जहांगीर मंसूर, आलमगीर मंसूर, खैकू मंसूर, शेख रियाज, शेख इलियास, शेख सिराज, शेख इकरामुल, शेख शकरामूल, कयूम मंसूर, अयूम मंसूर, मोहम्मद मंसूर, इस्तखार मंसूर, सद्दाम मंसूर, शेख रफीक, फिरोजा खातून, शेख इब्राहिम, शेख अजाबुल, शेख अखलाख, अताउल रहमान व गुलफराज मंसूर का घर जल कर राख हो गया.

क्या- क्या जला

इस दौरान सभी के घरों में रखे गेहूं, चावल, कपड़ा, जमीन के कागजात, पुआल, जुगाड़ गाड़ी, पुआल काटने की मशीन, फर्नीचर, बिछावन, जेवर में चांदी व सोना के साथ-साथ खैकू मंसूर के घर रखे 30 हजार रुपये नकद, तीन खस्सी, टेंट, शामियाना आदि जल कर राख हो गया.

पीड़ित खैकू की बेटी की थी निकाह

अगलगी की घटना में सबसे बड़ा झटका खैकू मंसूर को लगा. खैकू मंसूर के घर में लगी आग के बाद उसके अरमानों पर पहाड़ टूट गया. खैकू मंसूर की बेटी की निकाह रविवार को होनी थी. बेटी की शादी की तैयारी में मशगूल खैकू के घर के सामने टेंट व शामियाना लगा था. बारातियों के स्वागत के लिए खस्सी आदि की व्यवस्था की गयी थी. बड़ी मुश्किल से एक- एक पैसा जोड़ कर अपनी बेटी की शादी की तैयारी में लगे खैकू मंसूर के तमाम सामग्री के साथ- साथ टेंट, शामियाना व खस्सी भी आग में खाक हो गया. हालांकि, खैकू मंसूर की बेटी की शादी के लिए गांव वालों ने मदद कर सामान की खरीदारी कराया था, आग की लपेट में उनके अरमान जल कर राख हो गये. अगलगी के बाद पूरा परिवार फूट- फूट कर रो रहा था.

विधायक दीपिका पांडेय सिंह हुई संवेदनशील, खैकू की बेटी की शादी का उठाया पूरा खर्च

घटना की जानकारी मिलने पर महगामा विधायक दीपिका पांडेय सिंह सुडनी गांव पहुंची. गांव पहुंचते ही ग्रामीणों ने विधायक के सामने अपनी बातों को रखा. विधायक ने सभी को आश्वस्त करते हुए अविलंब सहयोग देने की बात कही. साथ ही विधायक ने खास तौर पर खैकू मंसूर से मिली और उनकी परेशानी को सुनने के बाद शादी का खर्च खुद वहन करने की बात कही. इस बात को सुनते ही खैकू मंसूर की बेटी व उसकी मां विधायक से लिपट कर फूट- फूट कर रोने लगी. इधर, ग्रामीणों को तत्काल मुआवजे व भोजन की व्यवस्था के लिए विधायक के निर्देश पर सीओ द्वारा पहल शुरू कर दी गयी है.

दुख की घड़ी में पीड़ित परिवारों के साथ खड़ी है राज्य सरकार : विधायक

इस संबंध में महगामा विधायक दीपिका पांडेय सिंह ने कहा कि यह घटन दुखद है. घटना पर किसी का बंदिश नहीं है. मगर लोगों के दर्द को कम करने के लिए राज्य सरकार उनके साथ खड़ी है. गांव के लोगों को तत्काल खाने व रहने की व्यवस्था करायी जा रही है. साथ ही खैकू मंसूर की बेटी की शादी में सहयोग दिया जा रहा है.

पीड़ित परिवारों को जल्द मिलेगी राशि व आवास : बीडीओ

वहीं, बीडीओ सह सीओ कुमार अभिषेक सिंह ने कहा कि ग्रामीणों के 25 घर जल कर राख हो गये हैं. उनकी ओर से निरीक्षण किया गया है. पूरे नुकसान का आकलन किया जा रहा है. साथ ही पीड़ित परिजनों को तत्काल खाने की व्यवस्था के साथ- साथ छप्पर के लिए तिरपाल आदि की व्यवस्था की जा रही है. जल्द ही पीड़ित परिवारों को आपदा प्रबंधन की ओर से राशि व पक्का आवास दिया जायेगा.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें