1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. godda
  5. chief minister hemant soren ordered an inquiry against the principal accused godda gur

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने छेड़खानी के आरोपी प्राचार्य के खिलाफ दिये जांच के आदेश

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
गोड्डा में प्राचार्य के खिलाफ छेड़खानी का मामला गरमाया, सीएम ने ट्वीट कर उपायुक्त से मांगी जानकारी
गोड्डा में प्राचार्य के खिलाफ छेड़खानी का मामला गरमाया, सीएम ने ट्वीट कर उपायुक्त से मांगी जानकारी
फाइल फोटो

बोआरीजोर : गोड्डा जिले के ललमटिया थाना क्षेत्र स्थित स्थानीय सरस्वती शिशु विद्या मंदिर के प्राचार्य पर नौवीं कक्षा की नाबालिग छात्रा द्वारा छेड़खानी के आरोप का मामला गरमा गया है. इस मामले में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने सोमवार को ट्वीट कर झारखंड पुलिस व डीसी गोड्डा से जांच कर कार्रवाई करते हुए जानकारी देने को है.

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के ट्वीट के बाद से पदाधिकारियों में गतिविधियां बढ़ गयी हैं. बताया जाता है कि सोमवार को छात्रा को लेकर ललमटिया पुलिस गोड्डा आयी. नाबालिग छात्रा का बयान दर्ज करने को लेकर आवश्यक कार्रवाई हुई है. सोमवार को पहले छात्रा ने ललमटिया थाना में आवेदन देकर केस उठाने की बात कही, लेकिन दोपहर में फिर से नया आवेदन देकर प्राचार्य के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की.

आपको बता दें कि रविवार को ललमटिया थाने में प्राचार्य के खिलाफ छेड़खानी का मामला दर्ज किया गया था. केस वापस लेने के आवेदन के बाद गरमायी राजनीति जानकारी के अनुसार, सोमवार की सुबह छात्रा ने ललमटिया थाना में आवेदन दिया था. आवेदन में ललमटिया थाना कांड संख्या 58/20 के तहत दर्ज केस को उठाने की बात कही थी. इसकी सूचना जैसे ही लोगों को मिली, यहां की राजनीति गरमा गयी.

आदिवासी समाज के साथ-साथ विभिन्न संगठनों में इससे आक्रोश बढ़ता चला गया. मामले को लेकर झामुमो, कांग्रेस के साथ-साथ भीम आर्मी के कार्यकर्ताओं की ललमटिया थाना में दिनभर गतिविधि दिखी. पुलिस पदाधिकारी व सरकार से अपनी मांगों को रखते हुए आरोपित की गिरफ्तारी की मांग करते रहे. इसके बाद छात्रा ने दूसरा आवेदन दिया.

महगामा विधायक दीपिका पांडेय ने घटना की निंदा करते हुए कहा कि विद्या के मंदिर में इस तरह की घिनौनी हरकत, वह भी विद्यालय में पढ़नेवाली बच्ची के साथ किया जाना दुखद है. जानकारी मिल रही है कि पहले भी इस तरह की घटना को अंजाम दिया गया है. पुलिस अपना काम कर रही है. मामला दर्ज हुआ है. परिजनों को भरोसा दिलाना चाहती हूं कि मामले में आरोपी को सख्त से सख्त सजा दी जायेगी. मुख्यमंत्री के संज्ञान में बातें दी गयी हैं. श्रीमती पांडेय ने कहा कि चाल-चरित्र व चेहरे की दुहाई देनेवाली पार्टी के लोग शिक्षा के मंदिर में अपने घिनौने कृत्य को अंजाम दे रहे हैं. ऐसे लोगों का बाहर रहना सभ्य समाज के लिए घातक है.

भीम आर्मी के प्रदेश को-ऑर्डिनेटर रंजीत कुमार सरस्वती शिशु मंदिर की घटना को लेकर लगातार दूसरे दिन आंदोलनरत हैं. उन्होंने मुख्यमंत्री को टैग कर घटना की जानकारी दी. साथ ही मांग की है कि 24 घंटे के अंदर आरोपी को गिरफ्तार किया जाये.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें