1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. garhwa
  5. road built before the construction of drain now paver blocks are being broken for drain wastage of money in garhwa smj

नाली निर्माण से पहले बनी सड़क, अब नाली के लिये तोड़े जा रहे पेवर ब्लॉक, गढ़वा में राशि की हो रही बर्बादी

गढ़वा में सड़क व नाली निर्माण में राशि का जमकर दुरुपयोग हो रहा है. सड़क निर्माण से पहले नाली पर पेवर ब्लॉक लगा दिया. अब सड़क निर्माण के लिए इसी पेवर ब्लॉक को उखाड़कर लाखों की बर्बादी हुई है. नगर परिषद के इस अविवेकपूर्ण निर्णय की शहरवासी काफी आलोचना कर रहे हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news: गढ़वा नगर परिषद की ओर से सड़क के लिए बनायी जा रही नाली. पेवर ब्लॉक को किया बर्बाद.
Jharkhand news: गढ़वा नगर परिषद की ओर से सड़क के लिए बनायी जा रही नाली. पेवर ब्लॉक को किया बर्बाद.
प्रभात खबर.

Jharkhand news: अगर किसी से पूछा जाये कि पहले सड़क बनेगी की नाली, तो वह नाली की बात ही कहेगा, जो सही है. लेकिन, गढ़वा नगर परिषद इसके ठीक विपरीत काम कर रही है. करीब एक साल पहले लाखों रुपये खर्च कर सड़क का निर्माण करने के बाद अब नाली निर्माण के लिए उसी नयी सड़क को खोदकर बर्बाद कर दिया गया है. नगर परिषद के इस अविवेकपूर्ण निर्णय की शहरवासी काफी आलोचना कर रहे हैं. ऐसे में गढ़वा शहर को स्वच्छ व सुंदर बनाने का संकल्प स्वयं नगर परिषद ही तोड़ता नजर आ रहा है, जबकि लाखों रुपये की बर्बादी कर दी गयी सो अलग.

19 लाख की लागत से पेवर ब्लॉक का निर्माण

मालमू हो कि करीब एक साल पूर्व नगर परिषद की ओर से गढ़वा एनएच-75 सड़क के दोनों तरफ शहर को सुंदर बनाने के उद्देश्य से पेवर ब्लॉक से सड़क का निर्माण कराया गया था. सड़क की दोनों ओर दायें व बायें किनारे को जोड़कर करीब 5600 फीट (रंका मोड़ से सरस्वतिया पुलिया तक) लंबे पेवर ब्लॉक सड़क का निर्माण 19 लाख रुपये की लागत से कराया गया था. एक पेवर ब्लॉक ईंट की कीमत करीब 15-16 रुपये आती है.

नाली निर्माण के लिए एक साल में ही तोड़ा गया पेवर ब्लॉक

करीब सालभर बाद नगर परिषद को जब मुख्य पथ में नाली निर्माण की याद आयी, तो एक करोड़ रुपये की लागत से नाली का निर्माण शुरू कराया गया. सड़क के दोनों किनारे 2800-2800 फीट लंबी नाली का निर्माण किया जा रहा है. आधे से अधिक नाली का निर्माण कराया भी जा चुका है. नाली निर्माण के लिए पेवर ब्लॉक सड़क को तोड़ा जा रहा है. सुंदरीकरण के नाम पर लगाये गये पेवर ब्लॉक को एक साल के अंदर ही नगर परिषद ने जेसीबी से नाली की मिट्टी के साथ तोड़कर कचरे में फेंकवा दिया.

शहरवासियों का आरोप

सड़क के दोनों किनारों एक फीट से तीन फीट तक चौड़े पेवर ब्लॉक सड़क को तोड़ी गयी है़ ऐसे में लाखों रुपये के पेवर ब्लॉक ईंट को क्षतिग्रस्त कर फेंक दिया गया है. लोगों के बीच इस बात की जबरदस्त चर्चा हो रही है कि नगर परिषद योजना ठेकेदार को ध्यान में रखकर ले रही है या शहर के विकास को लेकर.

नगर परिषद का अविवेकपूर्ण निर्माण है : चेंबर अध्यक्ष

इस संबंध में चेंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष बबलू पटवा ने कहा कि नगर परिषद का यह निर्णय पूरी तरह से अविवेकपूर्ण है. उसमें बैठे अधिकारी एवं इंजीनियर्स को यह पता होना चाहिए कि कौन-सी योजना पहले लेनी है. उन्होंने कहा कि यह भ्रष्टाचार को बढ़ावा देनेवाला निर्णय है, क्योंकि जब एक ही एजेंसी दोनों कार्य को कर रही है, तो पहले कौन सा कार्य होगा, यह उसे पता होना चाहिए था.

भरपाई ठेकेदार से करनी चाहिए : अध्यक्ष

वहीं, नगर परिषद अध्यक्ष पिंकी केसरी ने कहा कि जब पेवर ब्लॉक सड़क का निर्माण किया जा रहा था, तब नाली निर्माण कराने की योजना दूर-दूर तक नहीं थी. लेकिन, अब जरूरत व राशि के हिसाब से नाली का निर्माण कराया जा रहा है. उन्होंने कहा कि जो पेवर ब्लॉक क्षतिग्रस्त हुए हैं, उसकी भरपाई ठेकेदार से की जानी चाहिए.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें