1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. garhwa
  5. jharkhand weather news forecast of good rain in garhwa district from 10th june farmers showing enthusiasm for farming smj

Jharkhand Weather News : गढ़वा जिले में 10 जून से अच्छी बारिश का पूर्वानुमान, किसानों में खेती को लेकर दिख रहा उत्साह

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
10 जून से गढ़वा में मानसून पूर्व बारिश होने की बढ़ी संभावना. खेती-किसानी के लिए होगा उपयोगी.
10 जून से गढ़वा में मानसून पूर्व बारिश होने की बढ़ी संभावना. खेती-किसानी के लिए होगा उपयोगी.
प्रभात खबर.

Jharkhand Weather News (पीयूष तिवारी, गढ़वा) : गुरुवार से गढ़वा जिले में मानसून की बारिश शुरू होने की संभावना है. 10 जून की सुबह में बारिश होने की संभावना जतायी गयी है. मानसून की बारिश का यह सिलसिला हल्की व भारी बारिश के साथ कम से कम 10 दिनों तक चल सकता है. 22 जून तक के पूर्वानुमान के हिसाब से इस बीच पर्याप्त बारिश होने की संभावना है.

22 जून से ही आद्रा नक्षत्र शुरू हो रहा है. इसके बाद ही खेती के लिए परिस्थितियां अनुकूल माना जाता है. यदि इस बीच पर्याप्त बारिश हो जाती है, तो किसान आद्रा नक्षत्र में समय से खेती का काम शुरू कर देंगे. इस बार समय पर बारिश होने की संभावना से किसानों में खेती को लेकर उत्साह देखा जा रहा है.

ग्रामीण कृषि मौसम सेवा के बुलेटिन के अनुसार, 10 जून को हल्की बारिश होगी. लेकिन, 11 जून से लेकर 14 जून तक अच्छी बारिश होने की संभावना जतायी गयी है. इसमें 10 जून को 3 MM, 11 जून को 17 MM, 12 जून को 10 MM और 13 जून को 33 MM बारीश होने की संभावना है.

उल्लेखनीय है कि मानसून की बारिश के पूर्व ही इस बार राज्य सरकार की ओर से जिले में पैक्स के माध्यम से 50 प्रतिशत अनुदान पर धान एवं मक्का बीज का वितरण किया जा रहा है जबकि केंद्र सरकार की ओर से किसान सम्मान निधि की 8वीं किस्त की 2000 रुपये की राशि भी किसानों के खाते में डाल दी गयी है. मानसून से पहले पैसे व बीज मिल जाने से किसानों में खेती को लेकर उत्साह दोगुना हो गया है.

इस बार मानसून अच्छा रहने की संभावना है : डॉ अशोक कुमार
इस संबंध में गढ़वा के कृषि विज्ञान केंद्र के प्रमुख वैज्ञानिक डॉ अशोक कुमार ने बताया कि इस बार अनुमान के हिसाब से मानसून अच्छा रहने की संभावना है, लेकिन गरमी कम पड़ी है. इसका असर आगे हो सकता है और अनुमान से कम बारिश भी सकती है. उन्होंने बताया कि बंगाल की खाड़ी एवं अरब सागर से उठे चक्रवाती तूफान की वजह से इस बार गरमी कम पड़ी है. अच्छी बारिश के लिए गर्मी व कड़ी धूप का होना आवश्यक है. इसके बावजूद इस बार बारिश खेती के हिसाब से संतोषजनक होगी.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें