1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. garhwa
  5. accused of jmm leader beating in dashrath saw murder case angry villagers besiege ramkanda police station of garhwa smj

दशरथ साव हत्याकांड मामले में झामुमो नेता को हिरासत में लेकर पिटाई करने का आरोप, आक्रोशित ग्रामीणों ने गढ़वा के रमकंडा थाना का किया घेराव

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
गढ़वा के रमगंडा थाना प्रभारी को हटाने की मांग पर आक्रोशित ग्रामीणों ने थाना का किया घेराव.
गढ़वा के रमगंडा थाना प्रभारी को हटाने की मांग पर आक्रोशित ग्रामीणों ने थाना का किया घेराव.
प्रभात खबर.

Jharkhand News (मुकेश तिवारी, रमकंडा- गढ़वा) : झारखंड के गढ़वा जिला अंतर्गत रमकंडा थाना क्षेत्र के केरवा गांव में पिछले दिनों हुई दशरथ साव हत्याकांड मामले में रविवार को रमकंडा थाना के थाना प्रभारी फैज रवानी द्वारा झारखंड मुक्ति मोर्चा के हरहे पंचायत अध्यक्ष सह केरवा गांव निवासी विनोद यादव को हिरासत में लेकर गंभीर रूप से पिटाई का मामला सामने आया है. इससे आक्रोशित सैकड़ों ग्रामीणों ने रविवार की दोपहर से रमकंडा थाना का घेराव किया. वहीं, घंटों रमकंडा-मेदिनीनगर मुख्य मार्ग जाम कर दिया.

ग्रामीणों के आक्रोशित होने के बाद प्रशासन ने हत्याकांड के मामले में हिरासत में लिए गये झामुमो नेता को छोड़ दिया. लेकिन, गंभीर रूप से घायल होने के कारण झामुमो नेता को इलाज के लिए एंबुलेंस से हॉस्पिटल भेजा गया है. इस तरह हिरासत में लेकर पिटाई किये जाने से आक्रोशित ग्रामीण थाना प्रभारी को हटाने की मांग पर अड़े हुए हैं.

ग्रामीणों ने कहा कि जब तक थाना प्रभारी को निलंबित नहीं किया जाता है तब तक रमकंडा थाना का घेराव जारी रहेगा. सड़क जाम करने की सूचना पर कोई भी वरीय अधिकारी नहीं पहुंचे थे. समाचार के अनुसार, रविवार को थाना प्रभारी फैज रवानी दल-बल के साथ मृतक के घर केरवा गांव पहुंचे थे.

पीड़ित झामुमो नेता ने बताया कि इसी दौरान थाना प्रभारी द्वारा बुलाकर घटना के बारे पूछताछ किया गया. बताया कि पूछताछ के दौरान ही उसके द्वारा हत्या में शामिल आरोपी को 3 दिन थाना में रखकर छोड़ दिये जाने और अब तक कार्रवाई नही किये जाने की बात कहने पर थाना प्रभारी आगबबूला हो गये.

वहीं, जबरदस्ती थाना के वाहन में बैठाकर थाना ले गये. यहां गाली-गलौज के साथ जमकर मारपीट की गयी. जबरदस्ती हत्या के मामले में शामिल होने की बात कहने पर दबाव बनाने लगे. उनकी बात नहीं मानने पर थाने में ही डंडे से जमकर पिटाई की गयी. इधर, पुलिस की पिटाई से उनके घुटने से खून भी निकलने का निशान है.

थाना घेराव के दौरान झामुमो के युवा जिलाध्यक्ष नितेश सिंह, प्रखंड अध्यक्ष दिनेश प्रसाद, मुखिया राजकिशोर यादव, सत्यनारायण यादव, बसंत प्रसाद, शिवशंकर यादव, लालजी यादव, अवधेश प्रसाद, मिथलेश यादव सहित पीड़ित के परिजन उपस्थित थे.

केस इंचार्ज द्वारा हल्की पिटाई की गयी है : थाना प्रभारी

इस संबंध में पूछे जाने पर थाना प्रभारी फैज रवानी ने कहा कि झामुमो नेता को 302 के मामले में हिरासत में लिया गया था. स्वयं घटनास्थल पर ही जांच के लिए रुके थे. वहीं, थाना में केस इंचार्ज द्वारा पूछताछ के लिये हल्की पिटाई की गयी है.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें