1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. garhwa
  5. 4 accused including the kingpin of idol thief gang arrested know their palamu connection smj

Jharkhand crime news: गढ़वा में मूर्ति चोर गिरोह के सरगना सहित 4 आरोपी गिरफ्तार, जानें इसका पलामू कनेक्शन

गढ़वा पुलिस ने मूर्ति चोर गिरोह का खुलासा किया है. इस गिरोह के सरगना सहित 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. सभी आरोपी पलामू जिले का है. कांडी थाना के गरदाहा मठ और खरौंधा मंदिर की प्रतिमा की चोरी हुई थी.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news: मूर्ति चोर गिरोह का खुलासा करते गढ़वा एसडीपीओ अवध कुमार यादव.
Jharkhand news: मूर्ति चोर गिरोह का खुलासा करते गढ़वा एसडीपीओ अवध कुमार यादव.
प्रभात खबर.

Jharkhand crime news: गढ़वा जिला अंतर्गत कांडी थाना क्षेत्र के दो अलग-अलग गांव के मंदिरों से हुई प्रतिमा की चोरी के मामले में पुलिस ने कुख्यात मूर्ति चोर गिरोह के सरगना दिलकश रोशन सहित चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार चोरों के पास से पुलिस ने चोरी गयी मूर्ति भी बरामद किया है. इस बात की जानकारी गढ़वा एसडीपीओ अवध कुमार यादव ने पत्रकारों को दी.

इनकी हुई गिरफ्तारी

गिरफ्तार आरोपियों में पलामू जिले के रेहला थाना क्षेत्र स्थित डंडिला कला गांव निवासी हिदायतुल्ला अंसारी का पुत्र दिलकश रोशन उर्फ गोल्डी, उसी गांव के जमशेद खलीफा का पुत्र छोटू उर्फ महताब अंसारी, राजेंद्र राम का पुत्र चंचल कुमार रवि उर्फ पंकज व नावाबाजार थाना क्षेत्र के नावा गांव निवासी शौकत अंसारी का पुत्र टिंकु उर्फ अरशद हुसैन के नाम शामिल है.

क्या है मामला

गढ़वा एसडीपीओ अवध कुमार यादव ने कहा कि गत 5 फरवरी, 2022 को कांडी थाना क्षेत्र के दरगाह गांव स्थित मठ से राधा-कृष्ण की मूर्ति चोरी हो गयी थी. उक्त मामले में मठ के पुजारी भारद्वाज मिश्रा ने कांडी थाना में आवेदन देकर अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया था. प्राथमिकी के आधार पर एसपी अंजनी कुमार झा के निर्देश पर एक टीम गठित किया गया था. जिसमें गढ़वा, कांडी, रंका एवं मझिआंव के अनुभवी पुलिस के पदाधिकारियों को लगाया गया था. गठित टीम ने अनुसंधान शुरू किया. इस क्रम में पुलिस ने दिलकश रोशन को संदेह के आधार पर गिरफ्तार किया गया. पुलिस ने सख्ती से पूछताछ किया, तो गरदाह मठ एवं मंदिर से चोरी की घटना में शामिल होने की बात स्वीकारी, जबकि दिलकश रोशन की घर से खरौंधा मंदिर से चोरी की गयी मूर्ति का कुछ खंडित भाग बरामद किया गया.

कई मंदिरों को बनाया निशाना

एसडीपीओ श्री यादव ने बताया कि उक्त चोर गिरोह सेमौरा मंदिर में भी चोरी करने की योजना बना रहे थे, लेकिन वहां सुरक्षा-व्यवस्था पुख्ता होने के कारण उन्हें चुराने में कामयाबी नहीं मिल पायी. इसके बाद चोरों ने गरदाहा मंदिर में चोरी करने के लिए योजना बनायी और मंदिर से मूर्ति चोरी की घटना को अंजाम दिया. कहा कि पुलिस की सख्ती को देखते हुए कुछ दिन पहले कुछ सदस्यों द्वारा मंदिर से चोरी की गयी प्रतिमा को मंदिर के पीछे छुपा दिया था. ये लोग मूर्ति को सासाराम व औरंगाबाद की सुनारों से मिलकर अलग-अलग जगहों पर चोरी के सामान को बेचा करते हैं.

7 आरोपी चिह्नित, 4 की गिरफ्तारी

उन्होंने बताया कि चोर गिरोह के निशाने पर कांडी थाना क्षेत्र के कई मंदिर में स्थापित अष्टधातु से निर्मित प्रतिमाएं हैं. इन चोर गिरोह को पता है कि अष्ट धातु से बनी प्रतिमा का अधिक से अधिक कीमत मिल सकती है. इधर, गिरफ्तार आरोपी दिलकश की निशानदेही पर 7 आरोपियों को चिह्नित किया गया है. जिसमें से 4 की गिरफ्तारी हो चुकी है. जल्द ही इस गिरोह में शामिल अन्य सदस्यों की गिरफ्तारी भी कर ली जायेगी. वहीं, दिलकश और चंचल रवि का पूर्व से आपराधिक इतिहास रहा है.

प्रेस वार्ता में इनकी रही उपस्थिति

इधर, प्रेस वार्ता में मझिआंव पुलिस निरीक्षक संजय खाखा, कांडी थाना प्रभारी फैज रब्बानी, सुधीर कुमार दास, नीतीश कुमार, संजय कुमार, नीरज कुमार, विकास कुमार, मुकेश कुमार कुशवाहा, पंकज सिंदुरिया सहित पुलिस के अन्य पदाधिकारी व जवान शामिल थे.

लगातार छापेमारी से घबरा चुके थे चोर

मालूम हो कि गरदाहा मठ से राधा-कृष्ण की प्रतिमा की चोरी कांडी थाना के मंदिरों से चोरी की तीसरी घटना थी. इस घटना से स्थानीय ग्रामीणों में पुलिस प्रशासन के खिलाफ काफी गुस्सा था. पुलिस ने चोरी की घटना का उद्भेदन करने के लिए फोरेंसिक टीम के अलावे खोजी कुत्ता का भी सहारा लिया. इसके बावजूद भी पुलिस को केवल असफलता ही हाथ लगी थी. पुलिस द्वारा लगातार अनुसंधान जारी था. छापामारी दल द्वारा लगातार छापामारी से चोर परेशान थे और उन्होंने उक्त मठ के पास चोरी के 13 दिनों बाद खंडित मूर्ति को फेंक दी गयी. ग्रामीणों द्वारा इसकी सूचना पर पहुंची पुलिस ने बिखंडित मूर्ति को बरामद किया था. इसके बाद पुलिस और भी सख्त होकर छापेमारी अभियान को तेज की.

गरदाहा मठ से मूर्ति की चोरी की तीसरी घटना

बता दें कि इससे पूर्व 5 मई, 2018 की रात खरौंधा गांव स्थित विजय राघव मंदिर से राम, जानकी एवं लखन लाल की बेशकीमती मूर्ति चोरी हुई थी. वह मूर्ति भी अष्टधातु से निर्मित थी. जबकि चार जनवरी 2019 को सेमौरा मंदिर से अष्टधातु की राधा-कृष्ण की मूर्तियों की चोरी हुई थी. गरदाहा मठ से मूर्ति की चोरी की तीसरी घटना है. पूर्व में हुई मूर्ति चोरी के संदिग्धों पर लगातार छापामारी की गयी. इसी क्रम में काफी प्रयत्न करने के बाद अंतत: पुलिस ने सरगना सहित चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

Posted By: Samir Ranjan.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें