1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. garhwa
  5. 4 accused arrested in the case of beating up workers in tpsc know the whole matter smj

TPSC के नाम पर कर्मियों से मारपीट कर काम बंद कराने के मामले में 4 आरोपी गिरफ्तार, जानें पूरा मामला

TPSC के नाम पर पोकलेन ऑपरेटर एवं अन्य कर्मचारियों के साथ मारपीट कर काम बंद कराने के मामले में गढ़वा पुलिस ने 4 आरोपी को गिरफ्तार किया है. इस दौरान पुलिस ने दो बाइक समेत 3 मोबाइल फोन और लेवी मांगने के लिए बनायी गयी सूची बरामद की है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news: 4 आरोपियों की गिरफ्तारी की जानकारी देते रंका एसडीपीओ सुदर्शन के आस्तिक व अन्य.
Jharkhand news: 4 आरोपियों की गिरफ्तारी की जानकारी देते रंका एसडीपीओ सुदर्शन के आस्तिक व अन्य.
प्रभात खबर.

Jharkhand news: गढ़वा पुलिस ने TPSC संगठन के नाम पर L&T कंपनी के पोकलेन ऑपरेटर सहित दो लोग के साथ मारपीट कर जलापूर्ति योजना का काम बंद करने के मामले में 6 लोगों को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने इन आरोपियों के पास से दो बाइक समेत 3 फोन और लेवी मांगने के लिए बनायी गयी सूची भी बरामद की है. इस बात की जानकारी रंका एसडीपीओ सुदर्शन कुमार आस्तिक ने पत्रकारों को दी.

इन आरोपियों की हुई गिरफ्तारी

पुलिस द्वारा गिरफ्तार आरोपियों में चिनिया थाना के पाल्हे गांव निवासी स्वर्गीय केश्वर कोरवा का पुत्र सुशील कोरवा, रंका थाना के सिरोई खुर्द गांव निवासी स्वर्गीय कन्हाई साव का पुत्र राजेंद्र प्रसाद गुप्ता, उसी गांव का स्वर्गीय दिलमन सिंह का पुत्र शंकर सिंह एवं कटरा गांव निवासी बिंदेश्वरी सिंह का पुत्र सुग्रीव सिंह मुख्य है.

क्या है मामला

रंका एसडीपीओ श्री आस्तिक ने कहा कि चिनिया थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम केलाझरिया के पास एलएनटी कंपनी द्वारा सिंचाई योजना के तहत पाइपलाइन के लिए पाइप बिछाने का कार्य किया जा रहा था. इसमें कार्य कर रहे हाइड्रा पोकलेन आदि गाड़ियों द्वारा कार्य करवाया जा रहा था. सुरक्षा के लिए उक्त गाड़ी के चालक एवं अन्य लोग एक निजी मकान को किराये पर लेकर रह रहे थे तथा अपने पोकलेन समेत अन्य गाड़ियों को उक्त मकान के करीब ही रख रहे थे. बुधवार की शाम करीब 7:30 बजे अचानक दो बाइक में सवार 4 लोगों ने टीपीएससी संगठन का नाम लेते हुए पोकलेन ऑपरेटर सहित अन्य सभी स्टाफ से मारपीट करने लगे. मारपीट करने के बाद भानु सिंह खरवार का नाम बताते हुए लेवी की मांग की. चारों अपराधी कंपनी के कर्मियों को उनसे शीघ्र संपर्क करने एवं बिना आदेश के काम नहीं करने की चेतावनी देते हुए सिरोई खुर्द की ओर चले गये. जाते समय ये लोग कंपनी कर्मचारियों से मोबाइल भी लूट लिये थे.

चारों आरोपियों ने स्वीकारी अपनी संलिप्तता

रंका एसडीपीओ ने बताया कि इस सूचना के आलोक में गढ़वा एसपी अंजनी कुमार झा के निर्देश पर एक टीम गठित की गयी. इसमें उनके नेतृत्व में छापेमारी दल का गठन कर छापेमारी अभियान चलाया गया. इस क्रम में सभी चारों आरोपियों को गिरफ्तार किया गया. इस दौरान गिरफ्तार चारों आरोपियों ने पुलिस की पूछताछ में अपनी संलिप्तता स्वीकार किया. इस क्रम में पुलिस ने इनके पास से घटना में प्रयोग किये गये दोनों बाइक एवं लूटी गयी तीन मोबाइल को भी पुलिस ने बरामद कर लिया है.

चारों आरोपियों को भेजा गया जेल

एसडीपीओ ने बताया कि अपराध स्वीकार करने के बाद चारों अारोपियों को शुक्रवार को जेल भेज दिया गया है. छापेमारी अभियान में उनके साथ रामजी महतो पुलिस निरीक्षक रंका अंचल, चिनिया थाना प्रभारी वीरेंद्र हांसदा, रामेश्वर उपाध्याय थाना प्रभारी रंका, शिवलाल कुमार गुप्ता थाना प्रभारी रमकंडा, रंका के पुलिस अवर निरीक्षक नीतीश कुमार, चिनिया के एसआई बिफई उरांव, एएसआई गुप्तेश्वर सिंह, रंका थाना के जयनाथ उरांव, पिंकू कुमार, शाहबाज अंसारी तथा चिनिया, रंका व रमकंडा के सशस्त्र बल के जवान उपस्थित थे.

Posted By: Samir Ranjan.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें