1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. garhwa
  5. 2 children went to bathe in pond died due to drowning shadow mourning in mirchaiya village of garhwa smj

Jharkhand news: तालाब में नहाने गये दो बच्चों की डूबने से मौत, गढ़वा के मिरचइया गांव में छाया मातम

गढ़वा के मिरचइया गांव में तालाब में नहाने गये दो बच्चों की डूबने से मौत हो गयी. घटना की जानकारी मिलते ही गांव में मातम पसर गया. वहीं, पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर हॉस्पिटल भेज दिया है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news: गढ़वा के मिरचइया गांव में दो बच्चों की मौत पर परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल.
Jharkhand news: गढ़वा के मिरचइया गांव में दो बच्चों की मौत पर परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल.
फाइल फोटो.

Jharkhand news: गढ़वा जिला अंतर्गत धुरकी थाना क्षेत्र के मिरचइया गांव निवासी जनेश यादव का ‌अंकुर यादव (12 वर्ष) एवं निरोध यादव का अशांत कुमार (13 वर्ष) की मौत तालाब में नहाने के दौरान डूबने से हो गयी. जानकारी मिलते ही गांव में मातम पसर गया.

दोनों बच्चों के शव को भेजा सदर हॉस्पिटल

जानकारी के अनुसार, गुरुवार के दोपहर करीब एक बजे अंकुर और अशांत मिरचइया गांव के बनवा आहर में नहाने गये हुए थे. नहाने के क्रम में दोनों बालक डूब गये. दोनों बच्चों ने आहर में ही दम तोड़ दिया. घटना की सूचना मिलते ही धुरकी थाना पुलिस दल-बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेजा दिया. वहीं, घटना की जानकारी मिलते ही बीडीओ सत्यम कुमार ने घटनास्थल पर पहुंचकर घटना की जानकारी ली. साथ ही मृतक के परिजनों को ढांढस बंधाते हुए उन्हें सरकारी लाभ दिलाने का आश्वासन दिया.

घर से बिना बताये निकले थे बच्चे

घटना के विषय में मिली जानकारी के अनुसार, दोनों बच्चे के साथ एक और बच्चा भी साथ में निकला था, लेकिन वह फिर अपने घर लौट गया. बच्चों ने आहर में नहाने जाने की बात घरवालों को नहीं बतायी थी. बच्चों को देर तक घर नहीं लौटने पर परिजनों को अनुमान हुआ कि बच्चे या तो घर से महुआ चुनने निकले होंगे अथवा आहर में नहाने गये होंगे. लेकिन, शाम 5:30 बजे तक जब बच्चे घर नहीं पहुंचे, तो परिजनों ने उनकी खोजबीन शुरू कर दी. खोजबीन में पता चला कि तालाब के पास दो बच्चे का कपड़ा रखा हुआ है. इसी के आधार पर आहर में जब देखा गया, दोनों बच्चों का तैरता हुआ शव देखा गया. इसके बाद इसकी सूचना ग्रामीणों ने पुलिस को दी.

मिरचईया गांव में रामनवमी फीका हुआ

इधर, घटना की खबर सुनते ही मिरचइया गांव में शोक की लहर दौड़ गयी. सूचना मिलते ही मृतक के घरवालों को चीत्कार से पूरा वातावरण गमगीन हो गया. घटना की जानकारी मिलते ही आसपास के लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी. वहीं, घटनास्थल पर भाजपा विधायक प्रतिनिधि अखिलेश यादव, झामुमो प्रखंड अध्यक्ष धीरेंद्र यादव, डीलर आनंद गिरी, समाजसेवी राजेंद्र प्रसाद यादव, विद्यालय प्रबंध समिति अध्यक्ष सुरेंद्र यादव, चितरंजन भुईयां, पूर्व मुखिया रामबदन पासवान सहित सैकड़ों ग्रामीण पहुंचे थे. इस घटना के बाद मिरचईया गांव में रामनवमी का पर्व फीका हो गया है.

6 माह पूर्व तीन बच्चे की हुई थी मौत

मालूम हो कि गत 6 माह पहले सगमा प्रखंड के कटहर गांव में मिट्टी की चाल धंसने से‌ एक ही परिवार के तीन बच्चों की मौत हुई थी. उस समय भी आसपास के इलाके में काफी दिनों तक मातम की स्थिति बनी हुई थी. इधर, एक बार फिर तालाब में दो बच्चों के डूबने से गांव में मातम पसर गया है.

Posted By: Samir Ranjan.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें