1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. dumka
  5. jharkhand crime news bihar connection came to the fore in ganpati jewelers failed robbery attempt in dumka police got many clues smj

दुमका के गणपति ज्वेलर्स में डकैती के प्रयास मामले में बिहार कनेक्शन आया सामने, पुलिस को मिले कई सुराग मिले

दुमका के गणपति ज्वेलर्स डकैती का असफल प्रयास मामले में पुलिस इलाजरत क्रिमिनल्स से पूछताछ कर रही है. इस मामले में बिहार कनेक्शन सामने आया है. पुलिस CCTV फुटेज खंगाल रही है. वहीं, अपने स्तर से कई अहम सुराग भी हासिल कर रही है. हालांकि, घटना के 36 घंटे बाद भी अन्य अारोपियों को गिरफ्तार नहीं कर पायी है.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
अस्पताल में इलाजरत अपराधी से पूछताछ करते दुमका एसडीपीओ नूर मुस्तफा अंसारी व अन्य पुलिसकर्मी.
अस्पताल में इलाजरत अपराधी से पूछताछ करते दुमका एसडीपीओ नूर मुस्तफा अंसारी व अन्य पुलिसकर्मी.
प्रभात खबर.

Jharkhand Crime News (दुमका) : दुमका के मारवाड़ी चौक में गणपति ज्वेलर्स में डकैती का प्रयास करने वाले गिरोह के फरार 3 अपराधियों के धर-पकड़ के लिए पुलिस की टीम भले ही लगी हुई हो, पर 36 घंटे बीतने के बाद भी पुलिस के हाथ खाली ही है. मंगलवार को दिनभर SDPO नूर मुस्तफा अंसारी एवं नगर थाना प्रभारी शहर के विभिन्न इलाके में मुख्य मार्गों के CCTV फुटेज खंगालते रहे, ताकि भागने वाले अपराधियों के बारे में जानकारी जुटायी जा सके.

गणपति ज्वेलर्स में लूटपाट करने जाते अपराधियों की गतिविधियां CCTV में हुई कैद.
गणपति ज्वेलर्स में लूटपाट करने जाते अपराधियों की गतिविधियां CCTV में हुई कैद.
प्रभात खबर.

यह भी पता लगाया जा सके कि वास्तव में अपराध को अंजाम देने के लिए जब वे दुमका पहुंचे थे, तब उनके साथ और कौन-कौन लोग थे. दोनों पुलिस पदाधिकारियों ने सबसे पहले गणपति ज्वेलर्स पहुंचकर कुछ बिंदुओं पर जानकारी जुटायी. फिर जगह-जगह CCTV फुटेज खंगालने के बाद वे मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल पहुंचे, जहां वारदात को अंजाम देने के दौरान धरा गया अपराधी सुनील मुखिया इलाजरत है.

वहां पुलिस पदाधिकारियों ने उससे उसके साथियों के बारे में जानकारी जुटायी. कई अन्य बिंदुओं पर भी उससे लंबी पूछताछ की गयी. हालांकि, सुनील अपने साथियों व गिरोह के बारे में अभी कुछ भी खुलकर नहीं बता रहा है. उसने केवल यही बताया कि उसका मोबाइल भी अन्य साथियों ने दो दिन पहले ही ले लिया था और दो दिन से उन सभी का मोबाइल भी बंद करा दिया गया था.

दो और के नाम का खुलासा, तीसरे का अब तक नहीं चला पता

पुलिस इस कांड में फरार तीनों अपराधियों तक पहुंचने के लिए तकनीकी दृष्टिकोण से आगे बढ़ रही है. पकड़ा गया सुनील मुखिया खगड़िया के अलौली का रहनेवाला है, जबकि उसके जिन दो साथियों का नाम पुलिस को पता चल पाया है, उसके मुताबिक उन दोनों का नाम साहेब व सचिन है. दोनों भागलपुर इलाके का ही रहनेवाला बताया जा रहा है. अब तक के अनुसंधान में किसी लोकल अपराधी के कनेक्शन का पता नहीं लग सका है.

लूट की बाइक से आये थे वारदात को अंजाम देने

मिली जानकारी के मुताबिक, अपराधी 4 की संख्या में आये थे और 2 बाइक से पहुंचे थे. एक बाइक जिसे लेकर शेष तीनों भाग नहीं सके, पुलिस की पड़ताल में वह बाइक लूटा गया है. मतलब अपराधियों ने अपने मोटरसाइकिल से अंजाम नहीं दिया, बल्कि लूट की मोटरसाइकिल से वारदात को अंजाम दिया, ताकि बाइक से भी वे पकड़ में न आ सकें. यह बाइक कहां से लूटी गयी थी, उसकी पड़ताल भी पुलिस कर रही है.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें