1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. dhanbad
  5. the prisoners of dhanbad mandal jail are busy making masks in jail these days jailor animesh chaudhary says that he is making masks and giving them to the district administration so that people do not lack masks

धनबाद जेल के कैदी मास्क बनाने में जुटे, प्रति दिन बन रहे हैं 50-60 मास्क

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
0- धनबाद जेल के कैदी मास्क बनाने में जुटे, प्रति दिन बन रहे हैं 50-60 मास्क
0- धनबाद जेल के कैदी मास्क बनाने में जुटे, प्रति दिन बन रहे हैं 50-60 मास्क

धनबाद : धनबाद मंडल कारा के बंदी इन दिनों जेल में मास्क बनाने में जुटे हैं. जेलर अनिमेष चौधरी बताते हैं कि वह मास्क बना कर जिला प्रशासन को दे रहे हैं ताकि लोगों को मास्क की कमी न हो. एक मास्क पर उन्हें तीस रुपये मिलते हैं. पैसा कैदियों के खाते में जाता है. हालांकि कच्चा माल नहीं मिलने से उन्हें थोड़ी बहुत परेशानी हो रही है. जेल को किया गया पूरी तरह क्वारंटाइन कोरोना वायरस के डर से धनबाद मंडल कारा को पूरी तरह क्वारंटाइन कर दिया गया है. जेलर बताते हैं कि कोई भी मुलाकाती बंदी से जेल गेट में आकर नहीं मिल सकता है. जेल में इसके लिए फोन और ई -मुलाकाती की व्यवस्था की गयी है. मगर प्रज्ञा केंद्र भी बंद है, इसलिए मुलाकातियों को परेशानी तो हो रही है. जेल में ड्यूटी करने वालों को भी पूरी तरह सतर्कता बरतने को कहा गया है.

जेल के अंदर वार्ड, रसोई घर, बाथरूम सब जगह वायरस से सतर्कता बरतने वाले पोस्टर लगाये गये हैं. इसके अलावा अधिकारी खुद जाकर बंदियों को वायरस से बचाव करने का तरीका बता रहे हैं. हालांकि अभी तक जेल में कोई संदिग्ध नहीं पाया गया है. दो बेड का बना आइसोलेशन वार्ड धनबाद जेल में इन दिनों दो बेड का आइसोलेशन वार्ड बनाया गया है. अगर कोई संदिग्ध मिले तो उसे वार्ड में शिफ्ट किया जायेगा.

नये कैदियों को 14 दिन क्वारंटाइन कर वार्ड में शिफ्ट किया जा रहा है. जेलर ने बताया कि इससे पूर्व कोई भी नया बंदी जब जेल जाता था तो उसे एक दिन अलग रख कर किसी भी वार्ड में शिफ्ट किया जाता था. मगर कोरोना के डर से यह प्रक्रिया 14 दिन तक चल रही है. कर्मचारियों को दिया गया है मास्कजेल में काम कर रहे सभी कर्मचारियों को जेल प्रबंधन की ओर से मास्क दिया गया है. सेनेटाइजर की भी व्यवस्था की गयी है. जेल अधीक्षक अजय प्रजापति ने बताया कि जो कर्मचारी जेल के अंदर और बाहर काम करते हैं, उन्हें सुरक्षा की सबसे ज्यादा जरूरत है. इसलिए उन्हें मास्क दिया गया है. इसके अलावा पूरे जेल परिसर में ब्लीचिंग व सेनेटाइजर छिड़काव कर सतर्कता बरती जा रही है.

    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें