1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. dhanbad
  5. technology center will be opened in iti govindpur diploma will be available in these courses smj

ITI गोविंदपुर में 20 करोड़ की लागत से खुलेगा टेक्नोलॉजी सेंटर, इन पाठ्यक्रमों में ले सकेंगे डिप्लोमा

कोयलांचल में स्किल वर्कर की समस्या को देखते हुए धनबाद में ITI गोविंदपुर में 20 करोड़ की लागत से टेक्नोलॉजी सेंटर बनेगा. इसके लिए MSME मंत्रालय को प्रस्ताव भेजा गया है. हरी झंडी मिलने के बाद आगे की प्रक्रिया शुरू होगी.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
धनबाद के ITI गोविंदपुर में जल्द खुलेगा टेक्नोलॉजी सेंटर.
धनबाद के ITI गोविंदपुर में जल्द खुलेगा टेक्नोलॉजी सेंटर.
प्रभात खबर.

Jharkhand News (सुधीर सिन्हा, धनबाद) : कोयलांचल में स्किल वर्कर की समस्या को देखते हुए धनबाद में ITI गोविंदपुर में 20 करोड़ की लागत से टेक्नोलॉजी सेंटर बनेगा. इसके लिए MSME मंत्रालय को प्रस्ताव भेजा गया है. हरी झंडी मिलने के बाद आगे की प्रक्रिया शुरू होगी. यहां स्किल से संबंधित विभिन्न पाठ्यक्रम का डिप्लोमा कोर्स कराया जायेगा.

ITI गोविंदपुर में टेक्नोलॉजी सेंटर को लेकर MSME धनबाद सेंटर में 20 जनवरी, 2021 को बैठक हुई थी. बैठक में इंडस्ट्रीज एसोसिएशन से जुड़े पदाधिकारी, MSME के पदाधिकारी व जमशेदपुर से इंडो डेनिश टूल रूम के सहायक पदाधिकारियों ने भाग लिया था.

बैठक के बाद टेक्नोलॉजी सेंटर का प्रस्ताव MSME मंत्रालय भेजा गया. कोविड की दूसरी लहर के कारण मामला मंत्रालय में लटका हुआ है. इंडो डेनिश टूल रूम, जमशेदपुर के पदाधिकारियों की मानें तो देशभर में 20 टेक्नोलॉजी सेंटर और 100 एक्सटेंशन सेंटर खोलने की योजना है.

झारखंड में धनबाद-बोकारो का चयन किया गया है. बोकारो में जमीन के कारण मामला लटका हुआ है. धनबाद में ITI गोविंदपुर में सेंटर खोलने का प्रस्ताव है. बोकारो में 200 करोड़ की लागत से टेक्नोलॉजी सेंटर खाेलने की योजना है. बोकारो में जमीन की तलाश की जा रही है. सिविल वर्क के साथ तकनीकी उपकरण पर करीब 200 करोड़ रुपये खर्च होंगे.

इन पाठ्यक्रम में होगा डिप्लोमा

टूल एंड डाड मेकिंग, मेक्ट्रोनिक्स एंड इंडस्ट्रियल ऑटोमेशन, मैकेनिकल इंजीनियरिंग व प्रोडक्शन इंजीनियरिंग की पढ़ाई होगी. यहां डिप्लोमा की डिग्री दी जायेगी. 4 चाल का पाठ्यक्रम होगा. 10वीं में 50 फीसदी अंकों के साथ पास करनेवाले स्टूडेंट्स ही डिप्लोमा कर पायेंगे. पाठ्यक्रम के लिए प्रतियोगिता परीक्षा होगी. यहां से डिप्लोमा लेने वाले स्टूडेंट्स का सीधा प्लेसमेंट होगा. एक सत्र में विभिन्न डिप्लोमा कोर्स के लिए 525 स्टूडेंट्स का सलेक्शन होगा. विभिन्न पाठ्यक्रम के लिए तीन से चार साल का डिप्लोमा होगा.

धनबाद-बोकारो में टेक्नोलाॅजी सेंटर खोलने की है योजना : आनंद दयाल

इस संबंध में IDTR के MD आनंद दयाल ने कहा कि धनबाद-बोकारो में टेक्नोलॉजी सेंटर खोलने की योजना है. बोकारो में जमीन को लेकर मामला लटका हुआ है. जमीन अधिग्रहण के बाद टेक्नोलॉजी सेंटर खोलने की प्रक्रिया शुरू की जायेगी. ITI गोविंदपुर में सेंटर खोलने का प्रस्ताव MSME मंत्रालय भेजा गया है. वहां से हरी झंडी मिलने के बाद आगे की प्रक्रिया शुरू होगी.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें