1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. dhanbad
  5. political ruckus intensified regarding the post of mayor and deputy in dhanbad election may be announced in august smj

धनबाद में मेयर और डिप्टी पद को लेकर राजनीतिक दावं-पेच तेज, अगस्त में हो सकती है चुनाव की घोषणा

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
धनबाद नगर निगम के संभावित चुनाव को लेकर कोयलांचल में राजनीतिक गतिविधियां हुई तेज.
धनबाद नगर निगम के संभावित चुनाव को लेकर कोयलांचल में राजनीतिक गतिविधियां हुई तेज.
सोशल मीडिया.

Jharkhand News (संजीव झा, धनबाद) : सितंबर-अक्तूबर में धनबाद नगर निगम के संभावित चुनाव को लेकर कोयलांचल में राजनीतिक गतिविधियां तेज हो गयी है. खासकर मेयर, डिप्टी मेयर पद को लेकर दावं-पेच शुरू हो गया है. संभावित दावेदार निजी स्तर पर भी गठबंधन की कोशिश में लग गये हैं.

धनबाद नगर निगम चुनाव को लेकर प्रशासनिक तैयारी का पहला चरण पूर्ण हो चुका है. मतदान केंद्रों का चयन से लेकर उसका भौतिक सत्यापन करा कर उसकी सूची सार्वजनिक की जा चुकी है. कुल 923 मतदान केंद्र बनाये गये हैं. कोरोना संक्रमण की स्थिति को देखते हुए बीच में मतदान केंद्रों की संख्या में बढ़ोतरी की संभावना बनी थी. लेकिन, अधिकांश मतदान केंद्रों में मतदाताओं की संख्या को देखते हुए पर्याप्त स्थान है.

साथ ही बूथ वार मतदाता सूची का भी अंतिम प्रकाशन हो चुका है. अब कोई नया नाम नहीं जुड़ेगा. अब राज्य निर्वाचन आयोग को ही मेयर पद के आरक्षण तथा दलीय या निर्दल आधार पर चुनाव कराने संबंधी मामला पर निर्णय लेना है. सूत्रों के अनुसार, अगर कोरोना की स्थिति ठीक रही, तो अगस्त के दूसरे सप्ताह तक चुनाव संबंधी घोषणा हो सकती है. इसको लेकर राज्य निर्वाचन आयोग सभी संबंधित जिला के डीसी से राय भी ले चुका है.

निर्दल हुआ तो दलों की बढ़ेंगी मुश्किलें

राज्य में जो राजनीतिक हालात हैं उसको देखते हुए निकाय चुनाव के निर्दल होने की संभावनाएं बढ़ गयी है. ऐसे में भाजपा, कांग्रेस, झामुमो सहित सभी प्रमुख राजनीतिक दलों के लिए अपने कार्यकर्ताओं को अनुशासन में बांधना मुश्किल होगा. मेयर, डिप्टी मेयर के अलावा वार्ड पार्षद में एक ही दल के कई नेता, कार्यकर्ता आमने-सामने आ सकते हैं. संभावित प्रत्याशी एक-दूसरे को मनाने या गठबंधन करने के लिए पर्दे के पीछे सक्रिय हो गये हैं. दलों की सीमाएं टूट रही है. आपस में ताल-मेल कर एक-दूसरे को मेयर-डिप्टी मेयर का पद ऑफर कर रहे हैं. हालांकि, फिलहाल सभी दावेदार चुप हैं. आरक्षण रोस्टर एवं दलीय या निर्दल का मामला स्पष्ट होने के बाद ही ऐसे दावेदार सामने आयेंगे.

इसी माह जारी हो सकता है रोस्टर

सूत्रों के अनुसार, मेयर पद का आरक्षण रोस्टर इसी माह जारी हो सकता है. जिला स्तर पर प्रक्रिया पूरी हो चुकी है. हालांकि, वर्ष 2018 में जारी आरक्षण रोस्टर के अनुसार यहां मेयर का पद ओबीसी के लिए आरक्षित है. कई नेता इस पद को सामान्य करवाने की कोशिश में लगे हैं. लॉबिंग भी हो रही है.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें