1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. dhanbad
  5. jharkhand news unbridled inflation mustard oil crosses rs 200 tomatoes too desperate to score a century people get upset smj

Jharkhand News: बेलगाम हुई महंगाई, सरसों तेल पहुंचा 200 के पार, टमाटर भी शतक लगाने को बेताब, लोग हुए परेशान

इन दिनों बढ़ती महंगाई से हर कोई त्रस्त है. खासकर गरीब और मध्यम वर्गीय लोगों की तो मानों कमर ही टूट गयी है. पेट्रोल-डीजल से लेकर खाद्य सामग्री और हरी सब्जियों के दाम आसमान छू रहे हैं. लोग एक किलो लेने की जगह पाव लेकर ही संतोष कर रहे हैं.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
बढ़ती महंगाई ने लोगों को जीना किया मुहाल. सरसो तेल समेत अन्य सामग्रियों में अप्रत्याशित वृद्धि.
बढ़ती महंगाई ने लोगों को जीना किया मुहाल. सरसो तेल समेत अन्य सामग्रियों में अप्रत्याशित वृद्धि.
सोशल मीडिया.

Jharkhand News (सुधीर सिन्हा, धनबाद) : कोरोना की मार से लोग अभी उबरे भी नहीं हैं कि महंगाई ने लोगों को घेर लिया है. कोरोना महामारी की वजह से नौकरी से लेकर कारोबार तक पर बुरा असर पड़ा है. रही-सही कसर लोगों की जेब ढीली कर महंगाई पूरी कर रही है.

खाने के तेल से लेकर दाल और दूध जैसी बुनियादी चीजों की कीमतें आसमान छू रही है. बच्चों की पढ़ाई से लेकर इलाज तक सब महंगा हो गया है. पेट्रोल-डीजल 100 रुपये के आंकड़े को पार कर गया है. रसोई गैस की कीमतें लगातार बढ़ रही हैं. इंजन सरसो तेल और सफोला गोल्ड 200 रुपये के आंकड़े पर पहुंच गया है. दूध में चार से पांच रुपये प्रति लीटर की वृद्धि हो गयी है. मूंग, मसूर, अरहर दाल भी 100 रुपये तक पहुंच गये हैं.

पेट्रोलियम की मूल्यवृद्धि से बाजार हुआ बेलगाम

पेट्रोल-डीजल का दाम बढ़ने का असर सभी जरूरी सामानों पर दिखने लगा है. सभी सामान की कीमतों में वृद्धि हो गयी है. रोजमर्रा एवं खाने-पीने के सामानों की कीमत बढ़ने से लोग परेशान हैं. साबुन, टूथपेस्ट से लेकर वाशिंग पाउडर व बिस्कुट तक महंगे हो गये हैं. कारोबारियों के मुताबिक, ट्रांसपोर्टिंग महंगी होने पर हर चीज की कीमत बढ़ रही है. पिछले एक साल में ट्रांसपोर्टिंग में करीब 50 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है.

तीन अंकों में पहुंची पेट्रोल व डीजल की कीमत

पेट्रोल व डीजल की कीमत तीन अंकों में पहुंच गयी है. इसका सीधा असर बाजार पर पड़ रहा है. एक साल में पेट्रोल में 19.79 रुपये और डीजल में 25.56 रुपये की वृद्धि हुई है. अक्तूबर 2020 से लेकर अक्तूबर 2021 तक पेट्रोल, डीजल व रसोई गैस की कीमतों में जबरदस्त वृद्धि हुई है. 18 अक्टूबर,2020 में पेट्रोल 88.68 रुपये प्रति लीटर था, जो अक्टूबर 2021 में बढ़ कर 100.47 रुपये प्रति लीटर हाे गया. इसी तरह से डीजल भी 74.50 से बढ़कर 100.06 रुपये प्रति लीटर हो गया.

आसमान छूती खाद्य सामग्रियों की कीमत

खाद्य सामग्रियों की कीमत लगातार बढ़ रही है. सरसों तेल लगातार रिकॉर्ड बना रहा है. अक्टूबर 2020 में 122 रुपये प्रति लीटर मिलने वाले सरसों तेल (इंजन ब्रांड) फिलहाल 200 रुपये प्रति लीटर मिल रहा है. इसी प्रकार, रिफाइन ऑयल (सफोला) भी 200 रुपये प्रति लीटर मिल रहा है. मूंग दाल 95 रुपये से बढ़कर 100 रुपये प्रति किलोग्राम हो गया है. इसी तरह से मसूर दाल 65 रुपये से बढ़ कर 100 रुपये, अरहर दाल 90 रुपये से बढ़कर 110 रुपये, चना दाल 65 रुपये से बढ़कर 75 रुपये, चना 50 रुपये से बढ़कर 65 रुपये पहुंच गया है. इसी प्रकार अन्य सामग्रियों की कीमतें भी आसमान छू रही है.

हरी सब्जियां भी हुई महंगी

खाद्य सामग्रियों के अलावा हरी सब्जियों के दाम भी आसमान छू रहे हैं. टमाटर लाल हो गया है. 80 रुपये से 100 प्रति किलोग्राम टमाटर बाजार में बिक रहे हैं. पटल 60 से 80 रुपये, करैला 60 रुपये, प्याज 50 रुपये प्रति किलोग्राम हो गया है. इसके अलावा अन्य हर सब्जियों के दाम भी काफी बढ़े हैं.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें