1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. dhanbad
  5. jharkhand municipal elections news when will dhanbad and chas municipal corporation elections be held srn

कब होगा धनबाद और चास नगर निगम का चुनाव ? प्रशासनिक तैयारी के साथ साथ जारी हुआ है आरक्षण रोस्टर

पर्व के बाद ही होंगे निकाय चुनाव, तीसरी लहर को देखते हुए हड़बड़ी में कोई फैसला नहीं लेना चाहती है राज्य सरकार, चुनाव तिथि की घोषणा को लेकर संभावित उम्मीदवारों में बेचैनी. बूथ वार मतदाता सूची का हो चुका है प्रकाशन.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
पर्व के बाद ही होंगे नगर निकाय चुनाव
पर्व के बाद ही होंगे नगर निकाय चुनाव
File Photo

Dhanbad News, Municipal Elections 2021 Dhanbad धनबाद : धनबाद और चास नगर निगम का चुनाव अब त्योहारों के बाद ही होने की संभावना है. ज्यादा उम्मीद है कि यह चुनाव कोरोना की तीसरी लहर का खतरा टलने के बाद ही हो. धनबाद एवं चास में चुनाव की तिथि को लेकर लगातार कयास लगाये जा रहे हैं. लेकिन अब यह लगभग तय है कि मतदान दुर्गोत्सव, दीपावली, छठ के बाद ही होगा. चुनाव प्रक्रिया की घोषणा नवरात्रि के बाद हो सकती है. तब तक कोरोना की तीसरी लहर के असर का भी पता चल जायेगा.

स्वास्थ्य विशेषज्ञ भी अगले एक माह के दौरान कोरोना के पीक पर आने की संभावना जता रहे हैं. निगम चुनाव को लेकर राज्य सरकार भी हड़बड़ी में फैसला नहीं लेना चाहती है. ज्यादा उम्मीद है कि वर्ष के अंत तक यहां निकाय चुनाव हो. वैसे चुनाव को लेकर प्रशासनिक तैयारी लगभग पूरी हो चुकी है.

14 नगर निकाय में होने हैं चुनाव :

धनबाद, चास और देवघर नगर निगम समेत 14 नगर निकायों में चुनाव लंबित है. यहां 2020 में ही चुनाव होना था, पर कोरोना के कारण टल गया.

निकायों के कार्यपालक पदाधिकारियों को निर्वाचित पदाधिकारियों के दायित्व की जिम्मेदारी दे दी गयी. 14 में 6 नगर निकाय वैसे हैं, जो हाल में बने हैं और वहां पहली बार चुनाव होने हैं. नवसृजित नगर निकायों के नाम हैं गोमिया, बड़की सरिया, धनवार, हरिहरगंज, बचरा और महागामा.

प्रशासनिक तैयारी के साथ जारी हो चुका है आरक्षण रोस्टर

मेयर से लेकर वार्ड पार्षद तक का आरक्षण रोस्टर जारी हो चुका है. बूथवार मतदाता सूची प्रकाशित हो चुकी है. जिला प्रशासन की तरफ से निकाय चुनाव को लेकर चुनाव कोषांगों का गठन भी हो चुका है. केवल तिथि को लेकर संशय है. धनबाद सहित झारखंड के अधिकांश स्थानों पर दुर्गा पूजा काफी धूम-धाम से मनाया जाता है. दीपावली एवं छठ में भी भारी चहल-पहल रहती है. इस दौरान चुनाव कार्य में विधि-व्यवस्था की समस्या उत्पन्न हो सकती है. छठ के तुरंत बाद राज्य का स्थापना दिवस है. इसके बाद ही निकाय चुनाव की संभावनाएं बन रही है.

धनबाद सहित राज्य के कई निकायों में बोर्ड का चुनाव होना है. कुछ स्थानों पर उप चुनाव भी होनी है. चुनाव को लेकर अभी तिथि तय नहीं हुई. आयोग हर पहलू पर विचार कर रहा है.

डीके तिवारी, राज्य निर्वाचन आयुक्त

Posted by : Sameer Oraon

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें