1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. dhanbad
  5. dhanbad gold merchants murder case update in hindi such gold jewelery had gold merchants police went to kolkata and nawada for investigation srn

Dhanbad Gold Merchants Murder Case Update : इतने करोड़ के जेवरात थे स्वर्ण व्यवसायियों के पास ! जांच के लिए कोलकाता और नवादा गयी पुलिस

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
स्वर्ण व्यवसायी हत्याकांड में जांच के लिए इन दो जगहों पर गयी पुलिस की टीम
स्वर्ण व्यवसायी हत्याकांड में जांच के लिए इन दो जगहों पर गयी पुलिस की टीम
सांकेतिक तस्वीर

Gold businessman murder case update, dhanbad gold marchants murders case report, Dhanbad News धनबाद : नवादा के फरहा गांव निवासी अभय वर्मा उर्फ गुड्डू की हत्या के मामले में पुलिस के हाथ अब तक खाली हैं. इधर सूचना है कि अभय वर्मा से लूटे गये जेवरात 20-30 लाख के नहीं, बल्कि लगभग दो करोड़ रुपये के थे. परिजनों ने प्रभात खबर से बताया : अभय के पास ही करीब डेढ़ करोड़ के जेवरात थे, जबकि उसके साथी के पास 50 लाख के. हालांकि अभय के साथी मनीष कुमार ने प्राथमिकी में दो अंगूठी और एक सोने की चेन का ही जिक्र किया है और उसका मूल्य डेढ़ लाख रुपये बताया है.

मनीष के बयान के आधार पर तोपचांची थाना में लूट व चार अज्ञात अपराधियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया गया है. इधर धनबाद के एसएसपी असीम विक्रांत मिंज का कहना है कि फिलहाल यह निजी दुश्मनी का मामला लग रहा है. पुलिस उसकी जांच में जुटी है.

बैग दो, नहीं तो गोली मार देंगे : स्वर्ण व्यवसायी अभय वर्मा को गोली मारनेवाले अपराधियों की आवाज बस के खलासी मुन्ना अली ने सुनी थी. उसने पुलिस बताया है कि गोविंदपुर में खाना खाने के बाद वह सो गया था. तोपचांची पहुंचते ही बस में शोर मच गया. अपराधी अभय से बैग छीनने की कोशिश कर रहे थे. इस दौरान अपराधी यह भी कह रहे थे कि बैग दो, नहीं तो गोली मार देंगे. खलासी के अनुसार अभय को सीट से उठा कर थोड़ा सा आगे लाया गया. बैग नहीं देने पर उसे गोली मारी गयी.

पुलिस कह रही है, अभय पर हो चुका है हमला :

पुलिस के अनुसार पहले भी अभय से लूटपाट की कोशिश हो चुकी है. बस में सफर के दौरान कुछ अपराधियों ने उस पर हमला किया था. हालांकि इस बात की शिकायत अभय ने कभी नहीं की. इसलिए पुलिस को इसकी जानकारी नहीं मिली. मगर अब पुरानी घटनाओं की जांच पुलिस कर रही है. अभय के साथी मनीष को इस बात की जानकारी थी.

कोलकाता और नवादा गयी पुलिस :

घटना के बाद पुलिस की एक टीम कोलकाता व दूसरी टीम नवादा रवाना हो चुकी है. कोलकाता वाली टीम में पुलिस मनीष कुमार को अपने साथ ले गयी है. इसके अलावा पुलिस गोविंदपुर व कोलकाता बस स्टैंड में लगे सीसीटीवी कैमरों को खंगाल रही है. जहां-जहां बस रुकी है, उस जगह का सीसीटीवी भी खंगाला जा रहा है.

पुलिस अभय व उसके साथी मनीष का कॉल डिटेल्स, टावर लोकेशन, 12 से 14 तारीख की दिनचर्या, नवादा से कोलकाता व कोलकाता से डुमरी एमजीएच (मीना जेनरल हॉस्पिटल) तक की ट्रैवल हिस्ट्री भी खंंगाल रही है. मामले में नवादा पुलिस का भी सहयोग लिया जा रहा है. नवादा पुलिस बस के चालक, खलासी तथा उसमें सवार यात्रियों की पहचान कर उनसे पूछताछ करने में जुटी है.

उठ रहे हैं सवाल :

चलती बस में स्वर्ण व्यवसायी अभय वर्मा की हत्या ने कई सवाल खड़े किये हैं. अगर अपराधी बस में लूटपाट करने आये थे, तो सिर्फ अभय को निशाना क्यों बनाया? मनीष के अनुसार अभय के पास डेढ़ लाख की संपत्ति थी, तो सिर्फ इसके लिए अपराधियों ने गोली क्यों मारी. मनीष ने क्यों अभी तक अपनी लूटी गयी संपत्ति का जिक्र पुलिस के पास नहीं किया. घटना के बाद बस की पूरी सफाई बस के कर्मचारियों ने द्वारा ही क्यों कर दी गयी?

मई में हाेनेवाली थी शादी :

परिजनाें ने प्रभात खबर को बताया, मई माह में ही अभय वर्मा की शादी होनेवाली थी. घर में शादी काे लेकर उत्साह था. पर अब उनका तो सब कुछ उजड़ गया.

Posted By : Sameer Oraon

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें