1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. dhanbad
  5. buses open after 5 months but no passengers found 9 buses from dhanbad to ranchi and dumka sam

5 महीने बाद बसें तो खुली मगर नहीं मिले यात्री, धनबाद से 9 बसें रांची और दुमका के लिए हुई रवाना

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : 5 महीने बाद धनबाद से चलने लगी बसें. पहले दिन यात्रियों की संख्या रही कम.
Jharkhand news : 5 महीने बाद धनबाद से चलने लगी बसें. पहले दिन यात्रियों की संख्या रही कम.
प्रभात खबर.

Jharkhand news, Dhanbad news : धनबाद : झारखंड सरकार के आदेशानुसार मंगलवार (1 सितंबर, 2020) से राज्य में 5 महीने के बाद बसों की परिचालन सेवा शुरू हो गयी. धनबाद बस स्टेंड से भी कुछ बस रांची एवं दुमका के लिए गये. मगर इन बसों में यात्री नहीं मिले. किसी में 4, तो किसी में 5 यात्री ही सवार थे. सबसे ज्यादा रांची जाने वाली एक एयर कंडीशनर(Air Conditioner) बस में मात्र आठ यात्री गये. हालांकि बस में सफर करके रांची जाने वाले ज्यादा यात्री जेईई मेन्स की परीक्षा देने वाले छात्र थे. इस मामले में बस संचालकों का कहना है कि ऐसे तो बस चलाना संभंव नहीं हो पाएगा. बस एसोसिएशन ने लड़ कर बस सेवा तो चालू करवा ली, मगर यात्री नहीं मिलने से उनका भट्टा बैठ जायेगा.

बसों को नहीं किया गया सैनिटाइज

धनबाद स्टेंड में रांची जाने वाले किसी भी बस को सैनिटाइज नहीं किया गया. हालांकि, इसके लिए डीटीओ ओम प्रकाश यादव ने बस संचालकों को कड़ी चेतवानी दी थी. मगर सैनिटाइज मशीन नहीं होने के कारण बस को सैनिटाइज नहीं किया गया.

पहले दिन कुल 9 बसें चलीं

5 महीने के बाद मंगलवार को पहले दिन राज्य में बसों का परिचालन शुरू हुआ. इस दौरान धनबाद से रांची और दुमका के लिए कुल 9 बसें ही चलीं. आपको बता दें कि धनबाद से रांची जाने के लिए करीब 100 बस है, जो लॉकडाउन से पहले प्रतिदिन रांची के लिए जाती थी.

बस स्टेंड में दिखी चहल-पहल

5 महीने से उजड़ा पड़ा धनबाद बस स्टेंड में मंगलवार को थोड़ी चहल- पहल देखने को मिली. ठेला- खोमचा वाले भी मंगलवार को स्टेंड में नजर आयें. कुछ यात्रियों के साथ बस के एजेंट, चालक एवं खलासी भी नजर आयें.

खड़ी बसों को सड़कों पर चलाने में अभी आ रही परेशानी : संजय सिंह

बस एसोसिएशन के संयोजक संजय सिंह ने बताया कि अभी बस को सड़क पर उतारने के लिए एक- एक संचालक को 2-2 लाख रुपये खर्च करने होंगे. उन्हें काफी परेशानी हो रही है. सैनिटाइज मशीन भी अभी तक नहीं आया जिसके कारण बसों को सैनिटाइज नहीं किया गया है

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें