1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. dhanbad
  5. 1932 khatiyan jharkhand run for khatiyan from bokaro to dhanbad people clashed with police at many places srn

1932 खतियान: बोकारो से धनबाद 'रन फॉर खतियान, कई जगह पर पुलिस से भिड़े लोग

झारखंड में 1932 खतियान का मामला उग्र होता जा रहा है, कल बोकारो से चला रन फॉर खतियान धनबाद पहुंचा. कई जगह पर थाली में पलाश फूल सजाये दर्जनों महिलाएं एनएच-32 के किनारे खड़ी दिखीं और उनका हौसला बढ़ाते दिखी

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
1932 खतियान के लिए दौड़ते युवा
1932 खतियान के लिए दौड़ते युवा
प्रभात खबर

धनबाद : बोकारो से चला 'रन फॉर खतियान' साढ़े पांच घंटे में धनबाद पहुंचा. बोकारो में सुबह छह बजे धावकों के साथ आंदोलनकारी चले और साढ़े 11 बजे धनबाद स्थित रणधीर वर्मा चौक पहुंचे. रास्ते में कई जगह पर थाली में पलाश फूल सजाये दर्जनों महिलाएं व युवतियां एनएच-32 के किनारे खड़ी दिखीं.

धावकों के पहुंचते ही उनका हौसला बढ़ाते हुए उन पर पलाश के फूलों की बारिश की गयी. दौड़ में जहां युवाओं ने भाग लिया, वहीं छोटी-छोटी बच्चियों ने भी हौसला दिखाया. धावक लक्ष्य तक पहुंचकर ही रूके. इस दौरान झारखंड संघर्ष समिति की ओर से जगह-जगह पर पानी, शरबत, बिस्कुट सहित मेडिकल की सुविधाओं की व्यवस्था की गयी थी.

पुटकी के परसिया, पुटकी थाना मोड़, पुटकी प्रभु महतो चौक पर रन फॉर खतियान का स्वागत पेयजल, कोल ड्रिंक व फल से किया गया. पुटकी मोड़ प्रभु चौक पर करीब 150 मीटर लंबे तिरंगे की छत बनाकर पलाश के फूलों का छिड़काव किया गया. मौके पर नितेश महतो,

इंद्रजीत महतो, महेंद्र महतो, बिशु महतो, सुंदरी महतो, साधु महतो, राहुल महतो, दिलीप महतो, प्रदीप महतो, प्रधान योगेंद्र दास, पूर्व मुखिया लोकनाथ सिंह चौधरी, छोटू कुमार दास, सुखलाल महतो, कलावती देवी, ध्रुव सिंह चौधरी, अर्जुन महतो, गौरी शंकर महतो आदि मौजूद थे. यहां विधि–व्यवस्था बनाये रखने में पुटकी सीओ शुभ्रा रानी, पुटकी इंस्पेक्टर सरोज कुमार सिंह, मुनीडीह प्रभारी रोशन बाड़ा दलबल जमे थे.

केंदुआडीह थाना के एसआइ से समर्थकों की धक्का मुक्की :

पुटकी. आंदोलनकारियों का जत्था जैसे ही करकेंद बिजली आफिस के समीप पंहुचा, वहां केंदुआडीह, पुटकी व लोयाबाद की पुलिस समर्थकों को रोकने का प्रयास करने लगी. इस दौरान केंदुआडीह थानेदार बिनोद उरांव व अन्य पुलिस कर्मियों के साथ समर्थकों की नोक-झोक हुई. वहीं केंदुआडीह थाना के एक पीएसआइ के साथ समर्थकों की धक्का–मुक्की हो गयी.

समर्थकों की संख्या काफी अधिक और पुलिस बल कम होने के कारण करीब डेढ़ घंटे के पश्चात खतियानी समर्थक धनबाद की ओर कुच कर गये. इन डेढ़ घंटों के दौरान स्थिति तनावपूर्ण बनी रही. समर्थक लगातार पुलिस से रोके जाने की वजह पूछते रहे और पुलिस के पास कोई स्पस्ट जवाब नहीं था.

भूली. रन फॉर खतियान में धरजोरी, पातामहुल, बांसमुरी, भूली बस्ती के करीब 50 युवक, युवतियां शामिल हुए. भूली सी, बी, ए ब्लॉक, वासेपुर होते हुए रणधीर वर्मा चौक पहुंचे. इनमें हरि महतो, निकिता कुमारी, पिंकी कुमारी, पायल कुमारी, संगीता कुमारी, छाया कुमारी, मनीषा कुमारी, सुशील कुमार, मनोहर, मनोज, मनोरंजन, बिनोद, राजेश , भोला आदि मौजूद थे.

विनोद धाम से युवकों ने लगायी दौड़ , बलियापुर. बलियापुर विनोद धाम से रणधीर वर्मा चौक तक (22 किलोमीटर) रन फॉर खतियान की शुरुआत बिरसा समिति के सचिव बबलू महतो ने हरी झंडी दिखाकर की. मौके पर बिनोद बिहारी महतो के पोता राहुल कुमार ने कहा : यहां के लोगों को उनका अधिकार मिलना चाहिए. सरकार 1932 का खतियान लागू करें.

मौके पर राहुल महतो, रोहित महतो, दिवाकर महतो, रवि महतो, अर्जुन महतो, राजकुमार महतो, प्रेम महतो, करमू रवानी, स्वपन कुमार महतो, चौधरी चरण महतो, संजय कुमार महतो, धीरेन महतो, मुक्तेश्वर महतो, विकास महतो, राजू महतो, पंकज महतो, अमलेश महतो, हरि चरण महतो, जीतेंद्र कुमार, गौर चंद्र महतो, राहुल कुमार महतो, टिंकू रजवार, बिरजू, राजेश महतो, रंजीत महतो, परिमल महतो, राधेश्याम महतो, कार्तिक महतो, रणविजय महतो, राजन महतो, लक्ष्मीकांत महतो, अमित कुमार महतो आदि थे.

Posted By: Sameer Oraon

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें