एसएसएलएनटी: मैन पावर की कमी से निबटने के लिए तकनीक का सहारा, कंप्यूटर से बनेगा सीएलसी-आइ कार्ड

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
धनबाद : एसएसएलएनटी महिला महाविद्यालय मैन पावर की कमी से निबटने के लिए एक प्रयोग करने जा रहा है.अगर यह प्रयोग सफल हुआ तो स्वाभाविक रूप से विभावि के अन्य कॉलेज भी इसका अनुसरण करेंगे. बहुत जल्द एसएसएलएनटी महिला कॉलेज में सीएलसी व आइ कार्ड खरीद कर मंगाने का काम खत्म हो जायेगा. कॉलेज एक एेसा सॉफ्टवेयर लगाने जा रहा है, जिससे छात्राओं के नामांकन के बाद उनका सारा विवरण कंप्यूटर में फीड हो जायेगा.

बाद में उक्त सॉफ्टवेयर के माध्यम से छात्राआें का सीएलसी(कॉलेज लिविंग सर्टिफिकेट) तैयार हो जायेगा. नामांकन के बाद आइ कार्ड भी सॉफ्टवेयर तैयार कर देगा. यह निर्णय मंंगलवार को कॉलेज में प्रभारी प्राचार्य डॉ मीना श्रीवास्तव की अध्यक्षता में हुई आपूर्ति कमेटी की बैठक में लिया गया. बैठक में कई अन्य मुद्दों पर भी चर्चा हुई. इसी कॉलेज व प्राचार्य ने विभावि में पहली बार ऑनलाइन नामांकन व फी जमा करने की प्रक्रिया की शुरुआत की थी. हालांकि शुरुआत आयी परेशानी को लेकर कॉलेज प्रबंधन को आलोचना भी झेलनी पड़ी थी. समय में परिवर्तन हुआ आैर आज ऑनलाइन की प्रक्रिया पूरे विभावि में चल रही है.
5,7 व 10 जुलाई को कक्षाएं रद्द : एसएसएलएनटी महिला कॉलेज में एमबीबीएस व पीजी फोर्थ सेमेस्टर की परीक्षा को लेकर आगामी 5, 7 व 10 जुलाई को तमाम कक्षाएं रद्द रहेंगी. यह जानकारी प्रभारी प्राचार्य डॉ. मीना श्रीवास्तव ने दी है.
स्टूडेंट्स को होगी सुविधा
कॉलेज की प्रभारी प्राचार्य डॉ.मीना श्रीवास्तव ने बताया कि सॉफ्टवेयर के जरिये सीएलसी व आइकार्ड बनने की प्रक्रिया लागू हो जाने के बाद शिक्षकेत्तर कर्मियों की कमी में भी कार्य का संचालन प्रभावित नहीं हो पायेगा. स्टूडेंट्स का सारा विवरण सॉफ्टवेयर के माध्यम से स्वत: कंप्यूटर फीड हो जायेगा. बिना किसी मेहनत के स्टूडेंट्स को सीएलसी व आइ कार्ड उपलब्ध हो जायेगा.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें