1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. deogarh
  5. shravani mela 2022 deoghar preparation to control the crowd of devotees in baidyanath dham grj

Shravani Mela 2022: झारखंड के बाबा बैद्यनाथ धाम में श्रद्धालुओं की भीड़ नियंत्रित करने की क्या है तैयारी

बाबा मंदिर प्रशासक सह डीसी मंजूनाथ भजंत्री के निर्देश पर तेजी से कार्य किया जा रहा है. दो हजार कूपन जारी होते ही कूपन वाले रास्ते में जाम तथा अफरातफरी की संभावना को खत्म करने के लिए व्यवस्था को विकसित किया जा रहा है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Shravani Mela 2022: बाबा बैद्यनाथ धाम
Shravani Mela 2022: बाबा बैद्यनाथ धाम
फाइल फोटो

Shravani Mela 2022: झारखंड के देवघर स्थित बाबा बैद्यनाथ धाम में श्रावणी मेले में जलार्पण करने आये भक्तों को बेहतर सुविधा देने के लिए सामान्य कतार व शीघ्रदर्शनम कतार को अलग-अलग रास्ते से गर्भ गृह तक पहुंचाने पर काम शुरू हो गया है. बाबा मंदिर प्रशासक सह डीसी मंजूनाथ भजंत्री के निर्देश पर तेजी से कार्य किया जा रहा है. दो हजार कूपन जारी होते ही कूपन वाले रास्ते में जाम तथा अफरातफरी की संभावना को खत्म करने के लिए व्यवस्था को विकसित किया जा रहा है.

जलापर्ण की ये व्यवस्था

इसके अंतर्गत शीघ्रदर्शनम कतार की व्यवस्था को अलग करने तथा होल्डिंग प्वांइट का निर्माण कराया जा रहा है. इस व्यवस्था में कतार से लेकर होल्डिंग प्वांइट तक एक साथ साढ़े पांच हजार आदमी को रोकने की व्यवस्था होगी. सभी को एक से डेढ़ घंटे में जलार्पण भी कराने की व्यवस्था होगी. शीघ्रदर्शनम कतार को प्रशासनिक भवन के रास्ते से प्रवेश कर ब्रिज के माध्यम से अब टी जंक्शन पर आम कतार में नहीं मिलाया जायेगा, बल्कि टी जंक्शन के 10 मीटर पहले ही अगल कर दिया जायेगा. इसके बाद संध्या व महाकाल भैरव मंदिर के बीच से ब्रिज को फिलफाया के पास प्रवेश द्वार तक लाकर मिला दिया जायेगा.

भविष्य में जी प्लस तीन मंजिला कॉम्प्लेक्स बनाने की योजना

सरदार पंडा ने बताया कि आवास के बगल में बन रहे होल्डिंग प्वाइंट पर समय के अभाव के कारण इस बार जमीन का समतीलकरण कर भक्तों के लिए छावनी की व्यवस्था कर उपयोग करने की योजना है. वहीं मंदिर सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, श्रावणी मेले के बाद इस जगह पर संस्कार मंडप की तर्ज पर जी प्लस तीन मंजिला भवन का निर्माण कर कतार सिस्टम को सुगम बनाने की योजना है. अगर सब कुछ ठीक रहा तो 2023 के श्रावणी मेले में शीघ्र दर्शनम की व्यवस्था और बेहतर हो जायेगी. इससे मंदिर प्रशासन की आय भी बढ़ने की संभावना है.

रिपोर्ट: संजीव मिश्रा

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें