1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. deogarh
  5. sawan somvar 2020 babadham basukinath online and virtual darshan from deoghar watch aarti puja shiv shringar dugdh snan and all you need to know live updates

Sawan 2020 : देवघर वाले बाबा इस बार सिर्फ ऑनलाइन दर्शन देंगे, भव्य आरती देखने के लिए यहां क्लिक करें

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
बाबा भोलेनाथ की पूजा करते सरदार पंडा श्रीश्री गुलाबनंद ओझा.
बाबा भोलेनाथ की पूजा करते सरदार पंडा श्रीश्री गुलाबनंद ओझा.
Prabhat Khabar

देवघर : सावन की शुरुआत हो गयी है. सोमवार से शुरू होकर सोमवार को ही खत्म होने वाले इस सावन में कई अद्भुत संयोग बन रहे हैं. इसलिए बाबा भोलेनाथ का हर भक्त झारखंड के देवघर जिला में स्थित बाबा बैद्यनाथ की नगरी में एक बार हाजिरी लगाने के लिए बेताब है. लेकिन, कोरोना के संक्रमण ने पूरे देश को इस कदर जकड़ रखा है कि सरकार से लेकर पुलिस प्रशासन तक के हाथ-पैर बंध गये हैं.

सरकार और प्रशासन को यह पता है कि कोरोना वायरस के संक्रमण के डर पर भक्तों की आस्था भारी पड़ेगी. वे अपने आराध्य को जलार्पण करने के लिए जरूर देवघर पहुंचेंगे. यही वजह है कि पूरी बाबा नगरी को सील कर दिया गया है. बाहर से आने वाले किसी भी भक्त के बाबा नगरी में प्रवेश पर पूर्ण प्रतिबंध है. हां, हाइकोर्ट के आदेश पर पहली बार बाबा बैद्यनाथ के वर्चुअल दर्शन की व्यवस्था की गयी है.

झारखंड हाइकोर्ट ने भी 12 ज्योर्तिलिंग में शुमार बाबा बैद्यनाथ की पूजा करने की अनुमति देने से इन्कार कर दिया. यहां तक कि कांवरियों के देवघर आने पर भी रोक लगा दी. इसके बाद देवघर व दुमका की सीमाएं सील कर दी गयी. इतिहास में पहली बार देवघर में बोलबम का मंत्र नहीं गूंज रहा. मंदिर में सिर्फ पंडा ही पूजा कर रहे हैं. प्रशासन ने श्रद्धालुओं के लिए इस पूजा के ऑनलाइन प्रसारण की व्यवस्था की है.

यानी भक्त घर बैठे बाबा भोलेनाथ के दर्शन कर सकते हैं. उनकी पूजा-अर्चना में शामिल हो सकते हैं. सावन में रोजाना सुबह 4:45 बजे और संध्या में 7:30 बजे श्रद्धालुओं को बाबा बैद्यनाथ अॉनलाइन दर्शन देंगे. श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए झारखंड सरकार ने अपनी वेबसाइट jhargov.tv के साथ-साथ देवघर प्रशासन के फेसबुक पेज व जिला प्रशासन की वेबसाइट deoghar.nic.in पर बाबा के ऑनलाइन दर्शन श्रद्धालु कर सकते हैं.

बाबाधाम की महाआरती, देखें लाइव

Posted by Prabhat Khabar on Sunday, July 29, 2018

इसके अलावा दूरदर्शन सहित कई निजी चैनलों के माध्यम से भी बाबा बैद्यनाथ के ऑनलाइन दर्शन की व्यवस्था की गयी है. पहली सोमवारी का 35 मिनट का वीडियो जिला प्रशासन की वेबसाइट पर अपलोड हो चुका है. आप चाहें, तो उसका दर्शन कर सकते हैं. चूंकि मंदिर में सिर्फ पूजा-अर्चना हो रही है, शाम को होने वाली भव्य आरती आप किसी भी वेबसाइट पर नहीं देख सकेंगे.

यदि आप भव्य आरती का आनंद लेना चाहते हैं, तो प्रभात खबर (prabhatkhabar.com) की वेबसाइट पर आइए. यहां क्लिक कीजिए और बाबाधाम में होने वाली भव्य आरती का आनंद लीजिए. मंदिर प्रांगण में होने वाली आरती के साथ-साथ शिवकाशी के तट पर होने वाली भव्य आरती में भी आप शामिल हो सकते हैं. प्रभात खबर ने पिछले साल फेसबुक पर इसका सीधा प्रसारण किया था. इस बार आप वीडियो में इसे देख सकते हैं.

देवघर की उपायुक्त नैंसी सहाय ने कहा है कि कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए झारखंड हाइकोर्ट एवं राज्य सरकार के निर्देशानुसार श्रावणी मेले के आयोजन को इस वर्ष स्थगित रखा गया है. ऐसे में शिव भक्त श्रावण माह में बाबा बैद्यनाथ के दर्शन कर सकें, इसकी व्यवस्था की गयी है. इस बार लोग वर्चुअल पूजा कर सकेंगे. ऑनलाइन दर्शन कर सकेंगे.

पुरोहितों की राय लेने के बाद उपायुक्त ने कहा कि पूरे सावन महीने में रोजाना सुबह 45 मिनट और संध्या के समय 45 मिनट बाबा बैद्यनाथ का लोग ऑनलाइन दर्शन कर पायेंगे. उपायुक्त ने बताया कि सुबह पूजा और शाम को बाबा के भव्य शृंगार का भी लोग ऑनलाइन दर्शन कर सकेंगे.

उल्लेखनीय है कि रविवार (5 जुलाई, 2020) को सावन की शुरुआत की पूर्व संध्या पर 20-25 श्रद्धालु सुल्तानगंज से कांवर उठाकर झारखंड के दुम्मा गेट तक पहुंच गये थे. यहां पुलिस ने बैरिकेडिंग लगा दी थी. कांवरियों को झारखंड की सीमा में प्रवेश नहीं करने दिया, तो बाबा के भक्तों ने पुलिस वालों पर पथराव कर दिया. हालांकि, पुलिसकर्मियों ने संयम का परिचय दिया और वहां से किनारे हो गये. बाद में भक्त गेट पर ही जलार्पण कर लौट गये.

अपने-अपने घरों को ही बनायें मन का देवघर

उपायुक्त नैंसी सहाय ने शिवभक्तों व श्रद्धालुओं से अपील की कि श्रद्धालु इस बार बाबाधाम नहीं आयें. वे अपने घरों को ही मन का देवघर बनायें. वहीं से भगवान शिव की आराधना करें. सभी श्रद्धालुओं और खासकर डाक बम से आग्रह है कि वे कोरोना संक्रमण काल में बाबाधाम नहीं आकर प्रशासन का सहयोग करें.

सोमवार से सावन माह शुरू हो गया, लेकिन कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के कारण इस साल सावन में बाबा बैद्यनाथ के मंदिर को बंद रखा गया है. श्रावणी मेला भी इस साल स्थगित है. ऐसे में सुबह और शाम की पूजा को छोड़ कर दिनभर मंदिर बंद रहेगा. सो, जो जहां हैं, वहीं से इस बार सावन माह में शिव की आराधना करें.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें